आज सहारनपुर में किसानों को महापंचायत में शामिल होंगी प्रियंका गांधी, कहा- 'उनके दिल की बात सुनने, समझने...'

किसान आंदोलन के तहत कई राज्यों में किसान लगातार महापंचायत कर रहे हैं. बुधवार को दोपहर 1 बजे सहारनपुर में महापंचायत हो रही है, जहां प्रियंका गांधी किसानों को संबोधित करेंगी.

आज सहारनपुर में किसानों को महापंचायत में शामिल होंगी प्रियंका गांधी, कहा- 'उनके दिल की बात सुनने, समझने...'

सहारनपुर में किसानों से बात करेंगी प्रियंका गांधी. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) किसान आंदोलन को लेकर काफी मुखर है लगातार अपना समर्थन दे रही हैं. इसी कड़ी में में बुधवार को प्रियंका उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में हो रही किसानों की महापंचायत में हिस्सा लेने जा रही हैं. यहां वो किसानों को संबोधित करेंगी. इसके पहले प्रियंका पिछले हफ्ते यूपी के रामपुर के दिबदिबा गांव गई थीं, जहां उन्होंने दिल्ली की ट्रैक्टर रैली में जान गंवाने वाले नवरीत सिंह को अंतिम श्रद्धांजलि दी थी.

प्रियंका ने एक ट्वीट कर कहा कि आज वो किसानों के संघर्ष में उनका साथ देने के लिए आज सहारनपुर जा रही हैं. उन्होंने ट्वीट में लिखा, 'किसानों के दिल की बात सुनने, समझने, उनसे अपनी भावनाएं बांटने, उनके संघर्ष का साथ देने आज सहारनपुर में रहूंगी. भाजपा सरकार को काले कृषि कानून वापस लेने होंगे.'

प्रियंका का आज का कार्यक्रम कुछ यूं है- 

- प्रियंका गांधी सुबह 10:30 बजे देहरादून के जोलीग्रांट एयरपोर्ट से सड़क मार्ग से होते हुए सहारनपुर के शिवालिक पर्वतों की तलहटी में स्थित सिद्धपीठ मां शाकुंभरी देवी मंदिर में दर्शन करने जाएंगी.
- इसके बाद प्रियंका रायपुर खानकाह स्थित मजार पर जाएंगी.
- दोपहर 1 बजे के करीब चिलकाना सुल्तानपुर स्थित इंटर कालेज में किसान महापंचायत को संबोधित करेंगी.
- महापंचायत के बाद इमरान मसूद के चाचा पूर्व केंद्रीय मंत्री मरहूम रशीद मसूद के आवास पर जाकर फिर शहीद निशान्त के परिजनों से मुलाकात करेंगी.


लगातार हो रही हैं महापंचायतें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि किसान आंदोलन के मद्देनज़र, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसान लगातार महापंचायत कर रहे हैं. इसके पहले हरियाणा के जींद में महापंचायत हुई थी, जहां राकेश टिकैत भी पहुंचे थे. वहीं, यूपी के शामली में 5 फरवरी को महापंचायत रखी गई थी, लेकिन प्रशासन ने इसके लिए मंजूरी नहीं दी थी. हालांकि, इसके बावजूद बड़ी संख्या में किसान यहां इकट्ठा हुए थे. मंगलवार को भी अलीगढ़ के गोंडा में एक महापंचायत हुई है.