उत्तर प्रदेश में अब कोई 'बाहुबली' नहीं बल्कि 'बजरंगबली' दिखाई पड़ते हैं : अमित शाह

अमित शाह ने यहां जन विश्वास यात्रा को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘समाजवादी पार्टी की सरकार में जनता को 'बाहुबली' परेशान करते थे, हमारी बहू बेटियों को परेशान करते थे, जमीन छीन लेते थे. आज योगी जी (योगी आदित्यनाथ) के शासन में कोई बाहुबली दिखाई नहीं पड़ता, केवल बजरंगबली दिखाई पड़ते हैं.

उत्तर प्रदेश में अब कोई 'बाहुबली' नहीं बल्कि 'बजरंगबली' दिखाई पड़ते हैं : अमित शाह

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में अमित शाह ने जन विश्वास यात्रा को संबोधित किया.

अलीगढ़:

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के नेतृत्व वाली सरकार की प्रशंसा करते हुए गुरुवार को भगवान हनुमान का उल्लेख किया और कहा कि उनके (योगी) शासन में कोई 'बाहुबली' दिखाई नहीं पड़ता है, बल्कि केवल ''बजरंगबली' दिखाई पड़ते हैं. उत्तर प्रदेश विधानसभा के लिए 2022 में होने वाले चुनाव से पहले अलीगढ़ में गृह मंत्री अमित शाह ने जन विश्वास यात्रा को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘समाजवादी पार्टी की सरकार में जनता को 'बाहुबली' परेशान करते थे, हमारी बहू बेटियों को परेशान करते थे, जमीन छीन लेते थे. आज योगी जी (योगी आदित्यनाथ) के शासन में कोई बाहुबली दिखाई नहीं पड़ता, केवल बजरंगबली दिखाई पड़ते हैं.

अमित शाह ने 'एबीसीडी' का जिक्र कर समाजवादी पार्टी पर यूं साधा निशाना....

''उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने दिखाया था कि ‘सुशासन' क्या होता है. शाह ने कहा, 'बाबूजी (कल्याण सिंह को उनके समर्थक बाबू जी कहते हैं) ने राम जन्मभूमि के लिए अपनी कुर्सी का त्याग किया था.' समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) प्रमुख अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा, ''चुनाव नजदीक आने पर अखिलेश कल्याण सिंह को याद नहीं रखते, लेकिन जिन्ना को याद करते हैं. क्या आप उन्हें वोट देंगे जो जिन्ना की प्रशंसा करते हैं?''

गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने 31 अक्टूबर को हरदोई में आयोजित एक कार्यक्रम में अपने संबोधन में सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती पर उनकी जमकर तारीफ की थी, लेकिन साथ ही पाकिस्तान के संस्थापक जिन्ना सहित चार नेताओं का उल्लेख भी किया था. उन्होंने कहा था, ‘‘सरदार वल्लभ भाई पटेल, महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और (मोहम्मद अली) जिन्ना ने एक ही संस्थान से पढ़ाई की और बैरिस्टर बने और भारत की आजादी के लिए किसी भी संघर्ष से पीछे नहीं हटे.''

पंजाब में सीट बंटवारे को अंतिम रूप देने के लिए अमित शाह से मिले कैप्टन अमरिंदर सिंह

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, 'आडवाणी जी ने राम जन्मभूमि के लिए रथ यात्रा निकाली और समाजवादी पार्टी ने (कारसेवकों पर) गोलियां चलाईं और उन पर लाठियां भी चलाईं. लेकिन, यह हमारे प्रधानमंत्री मोदी जी थे, जिन्होंने राम मंदिर का भूमिपूजन किया.' अखिलेश यादव को चुनौती देते हुए शाह ने कहा कि आप कितनी भी कोशिश कर लें, कुछ ही महीनों में भगवान राम का भव्य मंदिर बनेगा. मोदी सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए शाह ने कहा, ‘‘हमने सभी आतंकवादी गतिविधियों को करारा झटका दिया है और दो साल पहले पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद हमने पड़ोसी देश को मुंहतोड़ जवाब दिया.''

बसपा प्रमुख मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव का नाम लिए बिना उन्होंने दावा किया कि बुआ, बबुआ या कांग्रेस नेता, उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार को सत्ता में आने से कोई नहीं रोक सकता. उन्होंने दावा किया कि बीजेपी उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव में 300 से अधिक सीटें हासिल करेगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अमित शाह से मिले कैप्‍टन अमरिंदर सिंह, मिलकर लडेंगे पंजाब विधानसभा का चुनाव



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)