50 से अधिक स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन कर्मियों ने ली कोविड-19 टीके की एहतियाती खुराक

सुबह सात बजे तक की रिपोर्ट के अनुसार पिछले 24 घंटे की अवधि में टीके की लगभग 80 लाख खुराक दिए जाने के साथ ही देश में दी गई खुराकों की संख्या 158.04 करोड़ से अधिक हो गई है.

50 से अधिक स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन कर्मियों ने ली कोविड-19 टीके की एहतियाती खुराक

पिछले 24 घंटे की अवधि में टीके की लगभग 80 लाख खुराक दी जा चुकी है.

नई दिल्ली:

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने मंगलवार को कहा कि 10 जनवरी से 50 लाख से अधिक स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंट लाइन कर्मियों और 60 वर्ष और उससे अधिक उम्र के नागरिकों को कोविड-19 टीके की एहतियाती खुराक दी गई है. सुबह सात बजे तक की रिपोर्ट के अनुसार पिछले 24 घंटे की अवधि में टीके की लगभग 80 लाख खुराक दिए जाने के साथ ही देश में दी गई खुराकों की संख्या 158.04 करोड़ से अधिक हो गई है. मांडविया ने ट्वीट किया, ‘‘एक और दिन, एक और मील का पत्थर 50 लाख से अधिक स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम पंक्ति के कर्मियों और 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के नागरिकों को 10 जनवरी से एहतियाती खुराक मिली है. मैं उन सभी लोगों से जल्द से जल्द अपनी खुराक लेने का अनुरोध करता हूं जो एहतियाती खुराक प्राप्त करने के योग्य हैं.''

भारत में स्वास्थ्यकर्मियों, चुनाव ड्यूटी के लिए तैनात कर्मियों सहित अग्रिम पंक्ति के कर्मियों और 60 वर्ष और उससे अधिक आयु के लोगों के लिए कोविड-19 टीके की एहतियाती खुराक देना शुरू किया गया था. देश में वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप के कारण संक्रमण के मामलों में वृद्धि देखने को मिल रही है.

असम में कोरोना वैक्सीन न लगवाने वाले सार्वजनिक जगहों पर नहीं जा सकेंगे, नए आदेश में CM बोले- घर पर रहें

हालांकि देशभर में टीकाकरण अभियान 16 जनवरी, 2021 को शुरू किया गया था, जिसमें स्वास्थ्य कर्मियों को पहले चरण में टीका लगाया गया था. अग्रिम पंक्ति के कर्मियों के लिए टीकाकरण अभियान दो फरवरी से शुरू हुआ था.

कोविड-19 टीकाकरण का अगला चरण एक मार्च से 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों और गंभीर बीमारियों से ग्रस्त 45 वर्ष और उससे अधिक आयु के लोगों के लिए शुरू हुआ था. देश में एक अप्रैल, 2021 से 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों के लिए टीकाकरण शुरू किया गया था.

Coronavirus India Updates : भारत में 230 दिन में Covid-19 के सबसे ज्यादा सक्रिय मरीज

सरकार ने तब एक मई से 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को टीकाकरण की अनुमति देकर अपने टीकाकरण अभियान का विस्तार करने का निर्णय लिया था. इस वर्ष तीन जनवरी से 15-18 वर्ष की आयु के किशोरों के लिए कोविड-19 टीकाकरण का अगला चरण शुरू किया गया.

Video: पिछले 24 घंटे में सामने आए कोरोना के 2.38 लाख नए मामले

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)