जेल से निकलते 30KM लंबा जुलूस निकाल शक्ति प्रदर्शन करनेवाला नेता फरार, 2 दर्जन साथी गिरफ्तार

एसएसपी ने बताया कि यादव के साथ भीड़ भी जुट गई थी और घटना की जानकारी मिलने पर यादव और करीब 200 अन्य के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया गया है. यादव गैंगस्टर एक्ट के एक मामले में जेल में बंद था.

इटावा :

यूपी के इटावा जिला जेल से छूटकर दर्जनों गाड़ियों और सैकड़ों समर्थकों के साथ विजय जुलूस निकालने वाला सपा नेता धर्मेंद्र यादव फरार हो गया है. पुलिस ने उसके दो दर्जन  से ज़्यादा समर्थकों को पकड़ लिया है और उसकी तलाश में दबिश दे रही है. धर्मेंद्र यादव औरैया ज़िले का समाजवादी युवजन सभा का पदाधिकारी है. वह हाल ही में औरैया की भाग्यनगर सीट से ज़िला पंचायत सदस्य चुना गया है. धर्मेंद्र पर दो दर्जन आपराधिक मामले दर्ज हुए हैं और उसे पुलिस ने औरैया से ज़िला बदर कर रखा है.

धर्मेंद्र इटावा जेल से 4 जून की शाम ज़मानत पर छूटा था. 5 जून को उसने अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ दर्जनों गाड़ियों में विजय जुलूस निकाल कर शक्ति प्रदर्शन किया. जुलूस में हार-माला पहने धर्मेंद्र एक खुली ऑडी कार में चल रहा था,जबकि उसके समर्थक उसकी गाड़ी के आगे-पीछे, दाहिने-बाएं गाड़ियों के दरवाज़ों से बाहर लटके,नारेबाजी करते और जुलूस की वीडियो बनाते चल रहे थे.

धर्मेंद्र ने कानपुर से दिल्ली जाने वाले हाईवे पर इटावा से औरैया के अनंत टोल प्लाजा तक क़रीब 30 किलोमीटर लंबा जुलूस निकाला. शनिवार को इटावा और औरैया दोनों जगह वीकेंड कोरोना कर्फ्यू था,लेकिन इस 30  किलोमीटर लंबे रास्ते में कहीं भी पुलिस ने उसे रोकने की कोशिश नहीं की.


धर्मेंद्र के जुलूस का वीडियो वायरल होने से हुई फज़ीहत के बाद अब पुलिस ने धर्मेंद्र के ऊपर नामजद और उसके 200 नामालूम साथियों आई पी सी की दफा 188,269,270,डिसास्टर मैनेजमेंट एक्ट की दफा 51/57,महामारी एक्ट की दफा3 और सी एल ए एक्ट की दफा 7 के तहत मुकदमा दर्ज किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इटावा पुलिस ने धर्मेंद्र के दो दर्जन से ज़्यादा साथियों को हिरासत में ले लिया है और जुलूस में शामिल क़रीब दो दर्जन गाड़ियों की पहचान कर उन्हें ज़ब्त कर लिया है. इटावा के एस एस पी बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि धर्मेंद्र और उसके बाकी साथियों की तलाश में पुलिस टीमें लगातार दबिश दे रही हैं.