स्‍वच्‍छता सर्वे में पटना के 'प्रदर्शन' पर तेजस्‍वी ने CM नीतीश पर कसा तंज, कहा-15 वर्षों में कहीं तो नंबर-1..

बिहार में विधानसभा चुनाव इसी वर्ष होने हैं, ऐसे में आरजेडी नेता तेजस्‍वी ने इस मौके पर पूरा उपयोग नीतीश सरकार को कठघरे में खड़ा करने के लिए किया.

स्‍वच्‍छता सर्वे में पटना के 'प्रदर्शन' पर तेजस्‍वी ने CM नीतीश पर कसा तंज, कहा-15 वर्षों में कहीं तो नंबर-1..

तेजस्‍वी यादव ने स्‍वच्‍छता सर्वे में पटना के खराब प्रदर्शन पर ट्वीट किया

पटना :

Swachh Survekshan-2020: केंद्र सरकार ने स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 (Swachh Survekshan-2020) के नतीजे गुरुवार को घोषित कर दिए. सर्वे में साफसफाई के मामले में बिहार (Bihar) की हालत बेहद खराब रही है. बिहार की राजधानी पटना 10 लाख और उससे ज्यादा की आबादी वाले शहरों की लिस्ट में सबसे नीचे रहा है. स्‍वच्‍छता सर्वे में बिहार की इस हालत पर राजनीतिक पार्टियों ने न केवल निराशा जताई बल्कि इसके लिए नीतीश कुमार के नेतृत्‍व वाली सरकार पर निशाना भी साधा. बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्‍वी प्रसाद (Tejashwi Yadav) ने इस मामले में ट्वीट करके चुटकी ली, 'चलिए 15 वर्षों में (बिहार ने)कहीं तो नंबर-1 स्थान प्राप्त किया.'

बिहार में विधानसभा चुनाव इसी वर्ष होने हैं, ऐसे में आरजेडी नेता तेजस्‍वी ने इस मौके पर पूरा उपयोग नीतीश सरकार को कठघरे में खड़ा करने के लिए किया. तेजस्‍वी ने ट्वीट में लिखा, 'देश में पटना को गंदगी में नंबर-1 स्थान मिलने पर 15 वर्षों के माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को कोटि-कोटि बधाई.चलिए 15 वर्षों में कहीं तो नंबर-1 स्थान प्राप्त किया.'

वैसे, तेजस्‍वी यादव की आरजेडी ही नहीं एनडीए गठबंधन में सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) ने भी स्‍वच्‍छता के मुद्दे पर नीतीश कुमार सरकार को नसीहत दे डाली है. पार्टी के ट्वीट में कहा गया है, '2020 के स्वच्छता अभियान सर्वेक्षण में जिस तरीक़े से बिहार के शहरों का परफॉर्मेंस रहा है वो ज़ाहिर तौर पर निराश करने वाला और चिंताजनक है।उम्मीद है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रेरणा लेकर स्वच्छ बिहार के सपने को साकार करेंगे.'


सफाई में अव्‍वल कैसे बना इंदौर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com