आसान है ओरल हाइजीन, अपनाएं ये 5 तरीके और रखें अपनी 'स्माइल' का ख्याल

कुछ लोग ओरल हाइजीन के प्रति ज्यादा जागरूक नहीं होते, लेकिन यह उतना ही जरूरी है जितना कि सेहत से जुड़ी बाकी चीजें. हेल्दी ओवर हेल्थ के लिए लाइफटाइम प्रैक्टिस और केयर की जरूरत होती है.

आसान है ओरल हाइजीन, अपनाएं ये 5 तरीके और रखें अपनी 'स्माइल' का ख्याल

Oral Health: आपको रोजाना अपनी ओरल हाइजीन पर ध्यान देना चाहिए

हाइजीन हमारी लाइफ का एक बेहद महत्वपूर्ण हिस्सा है. फिर वो हाइजीन चाहे किसी भी मामले में हो. ओरल हाइजीन भी इनमें से एक है. कुछ लोग ओरल हाइजीन के प्रति ज्यादा जागरूक नहीं होते, लेकिन यह उतना ही जरूरी है जितना कि सेहत से जुड़ी बाकी चीजें. हेल्दी दातों के लिए लाइफटाइम प्रैक्टिस और केयर की जरूरत होती है. अगर आप अपने दांतों या मसूड़ों को हेल्दी रखना चाहते हैं तो यह एक दिन में या कुछ दिन में नहीं होता बल्कि आपको रोजाना इनकी देखभाल करनी पड़ती है. यहां हम आपको ऐसी ही कुछ टिप्स के बारे में बताएंगे जिन्हें आप अपनी लाइफस्टाइल में शामिल कर अपनी ओरल हाइजीन को बेहतर बना सकते हैं. 

घुटने और जोड़ों में रहता है दर्द, तो इन 7 बुरी आदतों को आज से ही छोड़ दें; बाद में पछताना बेकार है

बिना ब्रश किए न सोए

यह एक बड़ी सामान्य सी बात है जिसके बारे में हम सभी बचपन से जानते हैं. पर फिर भी ज्यादातर लोग इसे इग्नोर करते हैं. दिन में दो बार ब्रश करने से आप जर्म से छुटकारा पाते हैं जो दिन भर खाने पीने से आपके मुंह में अपनी जगह बना लेते हैं. 

सही तरीके से करें ब्रश 

ब्रश सही तरीके से करना बेहद महत्वपूर्ण है. गलत तरीके ब्रश करना, ब्रश न करने के बराबर है. ब्रश करते वक्त आप अपना टूथ ब्रश जेंटल और सर्कुलर मोशन में इस्तेमाल करना चाहिए.

श्रावण मास में क्या नहीं खाना चाहिए? उपवास करते समय इन चीजों का सेवन करने से बचना चाहिए

 

जीभ की भी करें सफाई 

आपके माउथ में सिर्फ दांत या मसूड़े ही इंपॉर्टेंट नहीं हैं बल्कि जीभ की सफाई भी बेहद जरूरी है. जीभ पर भी प्लाक जमा हो सकता है जो आपको लॉन्ग टर्म में महंगा पड़ सकता है. माउथवॉश का भी इस्तेमाल किया जा सकता है.

फ्लोराइड टूथपेस्ट का करें इस्तेमाल 

टूथपेस्ट खरीदते समय इस बात का ख्याल जरूर रखें कि उसमें फ्लोराइड हो. टूथपेस्ट के फ्लेवर या टेस्ट से ज्यादा इंपॉर्टेंट है उसमें फ्लोराइड का होना. यह जर्म्स के खिलाफ आपके दांतों की सुरक्षा करता है और उन्हें मजबूत रखता है.

Strong Immune System के लिए इन 9 फूड्स में से हर रोज किसी एक का करें सेवन, रोगों से लड़ने में मिलेगी मदद

फ्लॉसिंग की आदत डालें 

भारत में फ्लॉसिंग का ट्रेंड बहुत कम है, लेकिन फ्लॉसिंग दरअसल ब्रश करने के बराबर ही जरूरी है. फ्लॉसिंग आपको दिन में सिर्फ एक बार ही करना आमतौर पर काफी होता है. रात में सोने से पहले फ्लॉसिंग करना एक अच्छा ऑप्शन है. 

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए हल्दी समेत इन सुपरफूड्स को डाइट में करें शामिल

Fitness Tips: लेडीज घर पर हेल्दी और फिट रहने के लिए एक्सपर्ट के बताए इन आसान टिप्स को फॉलो करें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Alzheimer रोग याददाश्त को कैसे प्रभावित करता है, इस न्यूरोलॉजिकल विकार का निदान कैसे करें?