Sharad Purnima 2020: जानें कब है शरद पूर्णिमा, इस बार पूजा के लिए बनाएं ये खास खीर रेसिपीज

भारत में इन दिनों के हम एक के बाद एक त्योहार मनाने में व्यस्त हैं. नवरात्रि और दशहरे के बाद अब जल्द ही शरद पूर्णिमा मनाने को तैयार हैं.

Sharad Purnima 2020: जानें कब है शरद पूर्णिमा, इस बार पूजा के लिए बनाएं ये खास खीर रेसिपीज

खास बातें

  • इसे कोजागरी पूर्णिमा और रास पूर्णिमा के रूप में भी जाना जाता है.
  • शरद पूर्णिमा के दिन समृद्धि के लिए देवी लक्ष्मी की पूजा की जाती है.
  • इसे फसल त्योहार के रूप में भी चिह्नित किया जाता है.

भारत में इन दिनों के हम एक के बाद एक त्योहार मनाने में व्यस्त हैं. नवरात्रि और दशहरे के बाद अब जल्द ही शरद पूर्णिमा मनाने को तैयार हैं. इसे कोजागरी पूर्णिमा और रास पूर्णिमा के रूप में भी जाना जाता है, शरद पूर्णिमा के दिन समृद्धि के लिए देवी लक्ष्मी की पूजा की जाती है. इसे फसल त्योहार के रूप में भी चिह्नित किया जाता है, जो मानसून के मौसम के अंत का प्रतीक है. ऐसा माना जाता है कि शरद पूर्णिमा ही साल में एक ऐसा दिन होता हैं जब चंद्रमा सभी सोलह कलाओं के साथ बाहर आता है.

शरद पूर्णिमा 2020: तिथि और समय

इस साल शरद पूर्णिमा शुक्रवार, 30 अक्टूबर, 2020 को पड़ रही है.द्रिक पंचांग के अनुसार, त्योहार 30 अक्टूबर से शुरू होकर और 31 अक्टूबर को समाप्त होगा.

पूर्णिमा तिथि शुरू होती है - 30 अक्टूबर, 2020 को शाम 05:45 बजे

पूर्णिमा तिथि समाप्त - 31 अक्टूबर, 2020 को रात 08:18 बजे

Karwa Chauth 2020: कब है करवाचौथ, व्रत के मौके पर क्या बनाएं खास

शरद पूर्णिमा का व्रत और भोग:

परंपरा के अनुसार लोग शरद पूर्णिमा के दिन पूरे दिन का उपवास रखते हैं और भगवान को अर्पित करने के लिए भोग तैयार करते हैं. कुछ इस दिन निर्जला व्रत करते हैं, अन्य लोग व्रत के दौरान नारियल पानी, फल और फलों का सेवन करते हैं. कई लोग भोग की थाली में मीठे और नमकीन व्यंजनों के साथ चावल की खीर जरूरत बनाते हैं. इस दिन, भक्त पूजा करने के बाद, चावल की खीर तैयार कर भोग लगाकर उसी के साथ अपना उपवास तोड़ते हैं. फिर अगले दिन इस खीर को आस पड़ोस और परिवार के बीच बांटी जाती है.

यहां हम चावल की खीर की विभिन्न रेसिपी बताने जा रहे हैं, जिन्हें आप इस शरद पूर्णिमा को तैयार कर सकते हैं. चलिए इन पर एक नज़र डालते हैं!

शरद पूर्णिमा 2020: यहां देखें चावल से बनने वाली 4 बेहतरीन खीर:

1. पारंपरिक चावल की खीर

किसी भी अवसर पर एक मिठाई होनी चाहिए, चावल की खीर से बढ़िया और कुछ हो ही नहीं सकता. चावल, दूध, सूखे मेवे और इलाइची का बहुत ही बढ़िया कॉम्बिनेशन होता है. थोड़ी सी सामग्री से तैयार होने वाली यह खीर खाने में बहुत ही स्वाद लगती है. पूरी रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

2. पाल पयसम

यह एक दक्षिण भारतीय लोकप्रिय चावल की खीर है. पाल पायसम में चावल, दूध, घी, काजू और किशमिश का एक स्वादिष्ट मिश्रण होता है. इसे भारत के दक्षिणी क्षेत्र के मंदिरों में 'प्रसाद' के रूप में चढ़ाया जाता है. पूरी रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

3. गुलाब और बादाम चावल की खीर

अगर आपके खाने के साथ एक्सपेरिमेंट करना पसंद है तो खीर की यह रेसिपी आपके लिए है! चावल की खीर को और भी ब​ढ़िया स्वाद देने के लिए इसमें गुलाब जल, गुलाब की पंखुड़ियों और क्रंची बादाम डाले जाते हैं. पूरी रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

4. खजूर की मकुटी (खजूर की खीर)

यह बिहार की एक प्रसिद्ध पारंपरिक रेसिपी है, इसमें चावल के साथ मूंग दाल और खजूर के साथ नया ट्विस्ट दिया गया है. इसे भी आप ट्राई कर सकते हैं. पूरी रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें.

हैप्पी शरद पूर्णिमा 2020!

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Halloween 2020: इस बार हैलोवीन पार्टी में बनाएं ये मजेदार डिजर्ट रेसिपीज