Diwali 2020: जानें, दीवाली पर क्यों करते हैं भगवान कुबेर की पूजा, महत्व और पूजा विधि

Diwali 2020: दीवाली एक महत्वपूर्ण हिंदू त्योहार है, जो कार्तिक के हिंदू महीने में मनाया जाता है. इस वर्ष यह त्यौहार 14 नवंबर 2020 को मनाया जाएगा.

Diwali 2020: जानें, दीवाली पर क्यों करते हैं भगवान कुबेर की पूजा, महत्व और पूजा विधि

Diwali 2020: जानें, दीवाली पर क्यों करते हैं भगवान कुबेर की पूजा, महत्व और पूजा विधि

Diwali 2020: दीवाली एक महत्वपूर्ण हिंदू त्योहार है, जो कार्तिक के हिंदू महीने में मनाया जाता है. इस वर्ष यह त्यौहार 14 नवंबर 2020 को मनाया जाएगा. यह त्यौहार देवी लक्ष्मी, भगवान गणेश और कुबेर को समर्पित है, हालांकि, यह त्योहार पहली बार भगवान राम, देवी सीता और लक्ष्मण के 14 साल के वनवास की वापसी का जश्न मनाने के लिए मनाया गया था. लोग अपने भक्तों को समृद्धि, भाग्य और धन के साथ आशीर्वाद देने के लिए देवी लक्ष्मी और भगवान गणेश के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए इस दिन का पालन करते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस दिन धन के देवता भगवान कुबेर की भी पूजा की जाती है. जी हां, लोग इस दिन देवी लक्ष्मी और भगवान गणेश के साथ भगवान कुबेर की भी पूजा करते हैं. तो आइए जानते हैं क्यों दीवाली पर की जाती है भगवान कुबेर की पूजा...

कब है धनतेरस, दिवाली, गोवर्द्धन पूजा और भैयादूज का शुभ मुहूर्त, जानें यहां

दीवाली के दिन भगवान कुबेर की पूजा क्यों की जाती है ?

अमावस्या तिथि पर भगवान कुबेर की पूजा की जाती है. चूंकि, दीपावली कार्तिक मास की अमावस्या तिथि को मनाई जाती है, इसलिए लक्ष्मी पूजा के दौरान उन्हें देवी लक्ष्मी के साथ पूजा जाता है. दीवाली के सभी पांच दिनों पर देवी लक्ष्मी और भगवान गणेश के साथ भगवान कुबेर की पूजा करने का अनुष्ठान है.

भगवान कुबेर की पूजा का महत्व

-भगवान कुबेर, जो भगवान के खजांची और उनके धन के प्रभारी माने जाते हैं, लोगों को समृद्धि और धन का आशीर्वाद देते हैं.

-वह आमतौर पर बढ़े हुए पेट के साथ एक बौने के रूप में देखा जाता है, जो विभिन्न प्रकार के कीमती गहने और मूल्यवान कपड़े पहने हुए है.

-ऐसा माना जाता है कि जो लोग दिवाली पर भगवान कुबेर की पूजा करते हैं उन्हें धन और अपनी भौतिक इच्छाओं को पूरा करने की क्षमता प्राप्त होती है.

-जो लोग वित्तीय समस्याओं का सामना कर रहे हैं और अपनी पैतृक संपत्ति बनाने में मुश्किलों का सामना कर रहे हैं, उन्हें दिवाली के दौरान भगवान कुबेर की पूजा करनी चाहिए.

-भगवान कुबेर भी धन, भाग्य और समृद्धि का विस्तार करने के लिए हमें अवसर देते हैं.

Diwali 2020: इन सात बेहतरीन रेसिपीज को इस दिवाली बनाकर अपने मेहमानों को करें इम्प्रेस

भगवान कुबेर की पूजा के लिए पूजा विधि

-भगवान कुबेर की पूजा करने के लिए, सबसे पहले देवता की मूर्ति को एक स्वच्छ स्थान पर स्थापित करें.

-अब उसी मंच पर देवी लक्ष्मी की मूर्ति रखें.

-देवताओं के सामने अपनी तिजोरी या गहने के डिब्बे या मनी बॉक्स रखें और उन पर स्वास्तिक चिन्ह बनाएं.

-अब भगवान कुबेर और देवी लक्ष्मी दोनों का ध्यान करें और मंत्रों का जाप करें.

-मंत्रों का जाप करके देवताओं का आह्वान करें. जब आप देवताओं का आह्वान कर रहे हों तो सुनिश्चित करें कि आपके हाथ एक ही मुद्रा में हों यानी आपके दोनों हाथ मुड़े हों और आपके अंगूठे अंदर की ओर हों.

-एक बार देवताओं का आह्वान करने के बाद, उन्हें पाँच फूल अर्पित करें. आप फूलों को ज्वैलरी बॉक्स पर रख सकते हैं.

-अब अक्षत, चन्दन, रोली, धुप और देवताओं को अर्पित करें.

-इसके अलावा भोग वस्तु चढ़ाएं.

-अब आरती करें और फिर हाथ जोड़कर देवताओं से आशीर्वाद लें.

-इसके बाद आप भोग को बच्चों, बुजुर्गों, गरीबों और जरूरतमंद लोगों के बीच प्रसाद के रूप में वितरित कर सकते हैं.

दिवाली पर इस बार घर ट्राई करें महाराष्ट्रीयन मटर करांजी की यह स्वादिष्ट रेसिपी, देखें वीडियो

दीवाली से जुड़ी बाकी खबरें...

Diwali 2020: मीठा खाने के हैं शौकिन, तो इस दिवाली बनाएं गिल्ट फ्री टेस्टी लड्डू

दीवाली पर अयोध्या में 'वर्चुअल दीपोत्सव', इस तरह पा सकेंगे रामलला का आशीर्वाद

Diwali 2020: हम दीवाली का त्यौहार क्यूं मनाते हैं? जानिए, इससे जुड़ी 10 महत्वपूर्ण बातें

Diwali Decoration: दीवाली पर इस तरह अपने घर को दे सकते हैं ग्लैम लुक

दिवाली के लिए घर पर कैसे बनाएं इस लोकप्रिय बंगाली मिठाई को - Recipe Video Inside

Diwali Lights: दिवाली पर इन लाइटों से करें अपने घर की सुंदर और स्टाइलिश सजावट

Diwali 2020 Decoration: इस दिवाली अपने घर को इन इको-फ्रेंडली आइटम्स से सजाएं

 


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com