IND vs ENG: "यह मौका ज्यादा लंबे समय तक नहीं रहेगा..." सरफराज खान को लेकर शुभमन गिल ने दिया बड़ा बयान

शुभमन गिल ने कहा कि कोहली और बुमराह जैसे अनुभवी खिलाड़ियों की अनुपस्थिति युवा खिलाड़ियों के लिए बड़े मंच पर अपनी काबिलियत साबित करने का बेहतरीन मौका है. उन्होंने सरफराज खान का उदाहरण दिया जिन्होंने राजकोट में पदार्पण टेस्ट में दो अर्धशतक जमाए.

IND vs ENG:

Shubman Gill: शुभमन गिल ने सीरीज में युवा खिलाड़ियों को लेकर दिया बड़ा बयान

नई दिल्ली:

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा बल्लेबाज शुभमन गिल (Shubman Gill) ने कहा है कि भले ही पिच पूरी तरह से गेंदबाजों के पक्ष में नहीं रही हो, लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने अहम मौकों पर विकेट हासिल किए और इसी ने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में अंतर पैदा किया है. भारतीय टीम के तेज गेंदबाजों ने सीरीज में अभी तक 22 विकेट हासिल किए हैं, जबकि अश्विन (11 विकेट), रवींद्र जडेजा (12 विकेट), कुलदीप यादव (8 विकेट) और अक्षर पटेल (5 विकेट) ने मिलकर कुल 36 विकेट लिए हैं. तेज गेंदबाजों में सबसे अधिक विकेट जसप्रीत बुमराह ने लिए हैं. बुमराह सीरीज के तीन मैचों में अभी तक कुल 17 शिकार कर चुके हैं.

हालांकि विकेटों की संख्या भले ही स्पिनरों के पक्ष में हो लेकिन गिल ने कहा कि तेज गेंदबाजों ने परिस्थितियों के अनुसार अच्छी गेंदबाजी कर टीम को आगे बनाए रखा. गिल ने शुक्रवार से शुरू होने वाले चौथे टेस्ट से पहले मीडिया बातचीत के दौरान कहा,"हम भारत में जहां खेलें, विकेट स्पिनरों को थोड़ा मदद करते हैं. एश (अश्विन) भाई और जड्डू (जडेजा) भाई वैसे भी विकेट ले ही लेंगे लेकिन जिस तरह से हमारे तेज गेंदबाजों ने गेंदबाजी की है, उससे इस सीरीज में अंतर पैदा हुआ है."


भारत हालांकि रांची टेस्ट में जसप्रीत बुमराह के बिना होगा क्योंकि इस मुख्य तेज गेंदबाज को कार्यभार प्रबंधन के चलते रांची टेस्ट के लिए आराम दिया गया है. लेकिन गिल ने कहा कि अन्य तेज गेंदबाजों को पास भी इन हालात का काफी अनुभव है जिससे वे प्रभाव डाल सकते हैं. गिल ने इस दौरान मोहम्मद सिराज का उदाहरण दिया जिन्होंने राजकोट में चार विकेट झटके थे.

गिल ने कहा,"जैसा कि मैंने विराट भाई के बारे में कहा है, अगर 'बूम' भाई जैसा गेंदबाज नहीं खेल रहा है तो किसी भी टीम को उसकी कमी खलेगी, विशेषकर तब जब वह हमारे तेज गेंदबाजी आक्रमण का अगुआ हो. लेकिन अगर आप देखें तो सिराज ने पिछले मैच में अहम मौके पर चार विकेट लिये थे." उन्होंने कहा,"इसलिये मुझे लगता है कि सभी तेज गेंदबाजों के पास भारतीय परिस्थितियों का काफी अनुभव है, विशेषकर रिवर्स स्विंग गेंदबाजी का."

गिल ने कहा कि कोहली और बुमराह जैसे अनुभवी खिलाड़ियों की अनुपस्थिति युवा खिलाड़ियों के लिए बड़े मंच पर अपनी काबिलियत साबित करने का बेहतरीन मौका है. उन्होंने सरफराज खान का उदाहरण दिया जिन्होंने राजकोट में पदार्पण टेस्ट में दो अर्धशतक जमाए.

गिल ने कहा,"विराट भाई पिछले तीन टेस्ट से हमारे साथ नहीं हैं, उनके जैसे दिग्गज खिलाड़ी की अनुपस्थिति से काफी असर पड़ता है. लेकिन मुझे लगता है कि सरफराज ने अच्छा खेल दिखाया. इसलिये मुझे लगता है कि खिलाड़ी मिले मौकों का अच्छा फायदा उठा रहे हैं." उन्होंने कहा,"युवा खिलाड़ियों को विराट भाई या बुमराह भाई के नहीं होने से मौका मिला. इसलिये ये युवा जानते हैं कि यह मौका ज्यादा लंबे समय तक नहीं रहेगा इसलिये वे प्रत्येक मौके में अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश कर रहे हैं."

यशस्वी जायसवाल ऐसे ही खिलाड़ियों में से एक हैं जिसने मिले मौके का पूरा फायदा उठाया. जायसवाल पारी का आगाज करते हुए अब तक 546 रन बना चुके हैं जिसमें लगातार दो दोहरे शतक शामिल हैं. इससे वह इस सीरीज में सर्वाधिक रन जुटाने वाले खिलाड़ियों में शीर्ष पर चल रहे हैं.

यह भी पढ़ें: विराट कोहली-अनुष्का शर्मा ने अपने बेटे का नाम रखा Akaay, जानें क्या होता है इसका मतलब

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

यह भी पढ़ें: "अंपायरों को हैंगओवर के साथ ही मैदान पर..." हाल ही में संन्यांस लेने वाले खिलाड़ी का रणजी को लेकर चौंकाने वाला दावा