Rohit Sharma: "हम जो करना चाहते थे...", रांची टेस्ट में जीत के बाद कप्तान रोहित ने भरी हुंकार, बयान ने मचाई इंग्लैंड टीम में खलबली

Rohit Sharma on Win vs ENG: अश्विन के पंजे और कुलदीप यादव के चार विकेट ने इंग्लैंड को दूसरी पारी में सस्ते में समेट दिया

Rohit Sharma:

Rohit Sharma on Win 4th Test vs ENG

Rohit Sharma; IND vs ENG 4th Test: भारत बनाम इंग्लैंड के चौथे टेस्ट में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारत के सामने 353 रन  बनाई जिसके जवाब में भारतीय टीम पहली पारी में यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) के 73 रन और निचले क्रम में विकेटकीपर बल्लेबाज़ ध्रुव जुरेल (Dhruv Jurel) ने अपने शानदार 90 रनों की पारी की बदौलत भारतीय टीम की मुकाबले में वापसी कराई लेकिन भारतीय टीम मात्र 307 रन ही बना पाई और इंग्लैंड ने 46 रन की बढ़त हासिल की थी, लेकिन दूसरी पारी में इंग्लैंड के बैजबॉल की हवा भारतीय गेंदबाज़ो ने निकल दी और जैक क्रॉली के अलावा कोई भी अंग्रेज़ बल्लेबाज़ अर्द्धशतक तक नहीं लगा सका और इंग्लैंड की दूसरी पारी मात्र 147 रनों पर सिमट गई.

जीत पर कप्तान रोहित ने कहा 

"यह बहुत कठिन संघर्ष वाली सीरीज रही है. 4 टेस्ट के अंत में इसके सही रिजल्ट पर आने के लिए, मुझे लड़कों पर बहुत गर्व महसूस हो रहा है. हम जो करना चाहते थे उसे हासिल करके मैं खुश हूं. यह मुझे बताता है कि वो यहां स्थानीय और घरेलू क्रिकेट में कड़ी मेहनत करते हुए बने रहना चाहते हैं. टेस्ट क्रिकेट खेलना एक बड़ी चुनौती है, लेकिन प्रतिक्रिया काफी उत्साहजनक रही है.' राहुल भाई और मेरा एकमात्र काम पूरा करना है. वे बहुत स्पष्ट हैं कि वे क्या करना चाहते हैं, (Rohit Sharma on Dhruv Jurel Batting) जुरेल ने अपने दूसरे खेल में बहुत संयम दिखाया और उनके पास शॉट भी हैं."

"पहली पारी में उनके 90 रन ने हमें इंग्लैंड के कुल स्कोर के करीब ला दिया और दूसरी पारी में उन्होंने काफी शांति और परिपक्वता दिखाई. अहम खिलाड़ियों की कमी हमेशा सुखद नहीं होती, लेकिन एक समूह के रूप में हम कुछ नहीं कर सकते. इन लोगों के लिए आना और उनकी जगह भरना आसान नहीं था, बाहर से बहुत दबाव था, अंदर से नहीं, बहुत सारी बातें लिखी गईं और बोली गईं, लेकिन इस तरह के प्रदर्शन उन्हें भविष्य में बेहतर करने के लिए प्रेरित करेंगे. हम हर टेस्ट मैच में यह सोचकर आते हैं कि हम जीतेंगे, हम अतीत में नहीं जाएंगे, हम 3-1 से आगे हैं और अभी एक टेस्ट बाकी है. बहुत से लोग 5 टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने के आदी नहीं हैं, लेकिन हम वही काम करने के लिए वहां जाएंगे और आखिरी टेस्ट भी जीतने की कोशिश करेंगे."


दूसरी पारी में इंग्लैंड के बल्लेबाज़ी यूनिट की धज्जियां भारतीय स्पिनर्स ने उड़ा दी जी हां रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin Five Wicket Haul) के पंजे ने (5 विकेट) और कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav Four Wickets vs ENG) के चार (4 विकेट) ने इंग्लैंड को सस्ते में समेट दिया और भारतीय टीम को जीत के लिए 192 रनों का लक्ष्य मिला जिसे टीम इंडिया ने 5 विकेट खोकर हासिल कर लिया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

 शुभमण गिल (Shubhman Gill Half Century) ने एक ही ओवर में लगातार दो छक्के लगाकर अपना अर्धशतक पूरा किया और भारतीय टीम (Team India Series Clinch vs Eng) को पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में 3 - 1 से बढ़त दिलाने में शानदार योगदान दिया और इसमें भरपूर साथ किया युवा विकेटकीपर बल्लेबाज़ ध्रुव जुरेल ने जी हां जुरेल ने 39 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली जिसने भारतीय टीम के जीत को पक्का किया.