यह ख़बर 13 जुलाई, 2014 को प्रकाशित हुई थी

बिन्नी की कोशिश से भारत ने पहला टेस्ट मैच ड्रॉ कराया

नॉटिंघम:

अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे स्टुअर्ट बिन्नी के जुझारू अर्धशतक और भुवनेश्वर कुमार की लगातार दूसरी पारी में बेहतरीन बल्लेबाजी से भारत ने कुछ विषम पलों से गुजरने के बाद इंग्लैंड के खिलाफ पहला टेस्ट क्रिकेट मैच आज यहां ड्रॉ करवाया।

भारत का स्कोर सुबह एक समय छह विकेट पर 184 रन था और उसे केवल 145 रन की बढ़त मिली थी। बिन्नी (78) ने यहीं से जिम्मेदारी संभाली और बेहद सतर्कता के साथ खेल रहे रविंद्र जडेजा (31) के साथ सातवें विकेट के लिए 65 और भुवनेश्वर कुमार (नाबाद 63) के साथ आठवें विकेट के लिए 91 रन जोड़कर भारत को संकट से बाहर निकाला। भारत ने नौ विकेट पर 391 रन पर अपनी दूसरी पारी समाप्त घोषित की, जिसके बाद 15 ओवर पहले ही मैच ड्रॉ समाप्त घोषित कर दिया।

इंग्लैंड के गेंदबाजों को भारत के निचले क्रम के बल्लेबाजों के सामने फिर से जूझना पड़ा। स्पिनर मोइन अली उसके सफल गेंदबाज रहे, जिन्होंने 105 रन देकर तीन विकेट लिए। स्टुअर्ट ब्रॉड और लियाम प्लंकेट ने दो-दो विकेट हासिल किये। कप्तान एलिस्टेयर कुक ने भी गेंद थामी और अपने 105वें टेस्ट मैच में पहला विकेट हासिल करने में सफल रहे।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इन दोनों टीमों के बीच अगला टेस्ट मैच 17 जुलाई से लॉर्डस में खेला जाएगा। भारत के लिए आखिरी दिन के नायक बिन्नी रहे, लेकिन रिकॉर्ड बुक में नाम भुवनेश्वर ने लिखवाया। उन्होंने पहली पारी में 58 रन बनाए थे। वह नौवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए मैच में दो अर्धशतक जड़ने वाले दुनिया के दूसरे बल्लेबाज बन गए हैं। उनसे पहले ऑस्ट्रेलिया के पीटर सिडल ने 2013 में दिल्ली में भारत के खिलाफ ऐसा कारनामा किया था। नंबर नौ पर बल्लेबाजी करते हुए एक मैच में सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड अब भुवनेश्वर (121 रन) के नाम पर है।