'First rank' - 5 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • Career | शनिवार अक्टूबर 17, 2020 01:32 PM IST
    NEET परीक्षा में 720 में से 720 अंक लाने वाली दिल्ली की अकांक्षा सिंह के हाथों से कम उम्र होने की वजह से पहली रैंक फिसल गई. इस परीक्षा में ओडिशा के शोएब आफताब के साथ सिंह को शत प्रतिशत अंक मिले हैं लेकिन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की टाई-ब्रेकिंग नीति (समान अंक आने पर वरिष्ठता तय करने की प्रणाली) के तहत कम उम्र होने की वजह से उन्हें दूसरी रैंक मिली.
  • Career | शुक्रवार अक्टूबर 9, 2020 03:47 PM IST
    मधुबनी जिले के किसान मनोज ठाकुर का सपना जैसे सच हो गया हो, जब उनके बेटे मुकुंद कुमार ने यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा- 2019 में अपने पहले प्रयास में 54वीं रैंक हासिल की. मुकुंद एक छोटे से गांव में रहने वाले हैं, ऐसे में  कम साधन के होने के बावजूद भी उन्हेंने देश की सबसे मुश्किल परीक्षा पास कर दिखाई है. जो उम्मीदवार इस साल यूपीएससी की परीक्षा की तैयार कर रहे हैं उनके लिए मुकुंद कुमार की कहानी किसी प्रेरणा से कम नहीं होगी. आइए जानते हैं कैसे मुकुंद ने एक छोटे गांव के स्कूल से निकलकर IAS बनने का सफर तय किया.
  • Career | बुधवार जून 26, 2019 11:20 PM IST
    “शेरा दी कौम पंजाबी” ये पंक्तियां सिर्फ़ फ़िल्मी गानों तक ही नहीं सिमटी हैं, आपको आम जिंदगी में भी ऐसी कई मिसालें मिल जाएंगी. पंजाब पब्लिक सर्विस कमीशन की सिविल सेवा परीक्षा में पहले नंबर पर आए देवदर्शदीप ने भी कुछ ऐसा ही कर दिखाया है. पटियाला के रहने वाले 24 साल के देवदर्शदीप ने ये स्थान बिना किसी कोचिंग के अपने प्रयास में हासिल किया है. इतना ही नहीं, वे इस बार हुई इंडियन फॉरेस्ट सर्विस में भी रैंक 12 लाकर अपना बेहतरीन प्रदर्शन कर चुके हैं.
  • Career | सोमवार मार्च 27, 2017 09:54 AM IST
    तकनीकी संस्थानों में एमटेक प्रवेश के लिए ‘गेट’ का परिणाम घोषित कर दिया गया है. टेक्सटाइल में उत्तर प्रदेश वस्त्र प्रौद्योगिकी के छात्रों ने जबरदस्‍त बाजी मारी है. जी हां, टेक्सटाइल केमेस्ट्री में अनुज गुप्ता ने पूरे भारत में पहला स्‍थान हासिल कर प्रदेश का नाम रोशन कर दिया है. अनुज ने 1000 में से 964 अंक हासिल किए हैं. उत्तर प्रदेश वस्त्र प्रौद्योगिकी संस्थान के 13 छात्रों की रैंक ऑल इंडिया में 40 से कम है.
  • India | सोमवार मार्च 14, 2016 08:53 PM IST
    भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने सोमवार को ‘एक रैंक एक पेंशन’ (ओआरओपी) योजना के तहत 7.75 लाख रक्षा पेंशनभोगियों के लिए सरकारी नियमों के तहत 1465 करोड़ रुपये मूल्य के पिछले बकाये को जारी किया।
और पढ़ें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com