'अभिनव बिंद्रा' - 81 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • Jashn-e-Azaadi | मंगलवार अगस्त 14, 2018 12:59 PM IST
    वास्तव में आजादी के बाद भारतीय खेल इतिहास की उपलब्धियां इतनी ज्यादा रही हैं, जिन पर करोड़ों हिंदुस्तानियों का सीना फख्र से चौड़ा हो सकता है, लेकिन बावजूद इसके अभी भी बहुत कुछ है, जो अधूरा है. कुछ ऐसा है, जो सालता है. मसलन पीवी सिंधु को दो बार विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचकर हार जाना...लेकिन भरोसा है कि जब यहां तक आए हैं, तो भविष्य में और भी आगे जाएंगे.
  • Jashn-e-Azaadi | मंगलवार अगस्त 14, 2018 12:34 PM IST
    जनसंख्‍या के लिहाज से दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश ओलिंपिक जैसे बड़े आयोजन में लंबे समय तक पदकों के लिए तरसता नजर आता रहा. खेलों के लिए पर्याप्‍त अधोसंरचना का अभाव, गरीबी और कुषोषण, पेशेवर अंदाज में तैयारी का अभाव और हुक्‍मरानों के खेलों को लेकर अनदेखी इसका बड़ा कारण रहा. बहरहाल, पिछले 10-15 वर्षों में इस स्थिति में सकारात्‍मक बदलाव हुआ है. हौले-हौले ही सही लेकिन भारतीय खिलाड़ि‍यों ने अब खेल के मैदान में अपनी मजबूती का अहसास कराया है. आजादी के बाद से खेलों/खिलाड़ि‍यों ने देश को गौरव के ऐसे क्षण उपलब्‍ध कराए हैं जिस पर हर कोई गर्व कर सकता है.
  • Sports | सोमवार नवम्बर 27, 2017 08:43 AM IST
    निशानेबाज अभिनव बिंद्रा ने कहा है कि भारत को तब तक ओलिंपिक खेलों की मेजबानी नहीं करनी चाहिए जब तक उसके पास 40 स्वर्ण पदक जीतने का मौका नहीं हो. गौरतलब है कि अभिनव ओलिंपिक खेलों के व्‍यक्तिगत मुकाबले में भारत की ओर से स्‍वर्ण जीतने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं. उन्‍होंने बीजिंग ओलिंपिक में देश के लिए स्‍वर्णिम सफलता हासिल की थी. रियो डि जेनेरो में वर्ष 2016 में हुए ओलिंपिक में वे मेडल जीतने से वंचित रह गए थे.
  • Bollywood | बुधवार सितम्बर 20, 2017 03:25 PM IST
    पर्दे पर निशानेबाज अभिनव बिंद्रा की भूमिका निभाने को तैयार अभिनेता हर्षवर्धन कपूर का कहना है कि उनके पिता अनिल कपूर ने पहले ही अपजीत बिंद्रा की भूमिका निभाने के लिए तैयारी शुरू कर दी है.
  • Sports Quiz | शुक्रवार सितम्बर 22, 2017 12:19 PM IST
    खेलों की दुनिया में धीरे-धीरे ही सही, भारतीय खिलाड़ि‍यों ने विश्‍व स्‍तर पर अपनी मजबूत उपस्थिति दर्ज करानी शुरू कर दी है. पुलेला गोपीचंद, विश्‍वनाथन आनंद, अभिनव बिंद्रा, पीवी सिंधु और पंकज अडवाणी जैसे प्‍लेयर्स ने दुनिया में भारत का झंडा बुलंद किया है. खेलों के महाकुंभ ओलिंपिक खेलों में भी भारत के प्रदर्शन में सुधार आ रहा है. पहले भारतीय खिलाड़ियों के लिए ओलिंपिक खेलों का मतलब इसमें भाग लेने तक ही सीमित होता था, लेकिन अब भारतीय प्‍लेयर्स इन खेलों में न केवल अच्‍छा प्रदर्शन कर रहे हैं बल्कि पदक भी हासिल कर रहे हैं.
  • Bollywood | शनिवार सितम्बर 16, 2017 11:54 AM IST
    बॉलीवुड में बायोपिक्‍स का फॉमुर्ला हमेशा सक्‍सेसफुल रहा है और अगर बायोपिक किसी खिलाड़ी की हो तो कहना ही क्‍या. बॉक्‍सिंग स्‍टार मैरी कॉम से लेकर फ्लाइंग जट के नाम से प्रसिद्ध मिल्‍खा सिंह तक कई खिलाड़‍ियों की बायोपिक दर्शकों ने खासी पसंद की है और अब जल्‍द ही भारत को ओलंपिक में शूटिंग प्रतियोगिता में गोल्‍ड जिताने वाले अभिनव बिंद्रा पर बायोपिक बनने जा रही है
  • Azaadi Ke 70 Saal | बुधवार अगस्त 8, 2018 03:24 PM IST
    खेलों के महाकुंभ ओलिंपिक खेलों में भारत का अब तक का प्रदर्शन बहुत अच्‍छा नहीं रहा है. हॉकी की टीम स्‍पर्धा को छोड़ दें तो भारत के पास व्‍यक्तिगत स्‍पर्धा का केवल एक स्‍वर्ण है. यह स्‍वर्ण अभिनव बिंद्रा ने 2008 के बीजिंग ओलिंपिक निशानेबाजी इवेंट में जीता था. कई वर्षों तक भारतीय दल के ओलिंपिक खेलों में जाने और बिना पदक या एकाध पदक के साथ आने का सिलसिला चलता रहा.
  • File Facts | रविवार अगस्त 6, 2017 10:42 PM IST
    खेलों में कई दिग्गज रहे जो अपने करियर के आख़िरी मैच में कुछ भी नहीं कर सके..लेकिन वो मैच शायद ही किसी फ़ैन को याद होंगे. ज़िंदगी की तरह खेल में भी आप कैसे जिए और जब जीते तो कैसे जीते मायने रखता है.
  • Sports | शुक्रवार जून 23, 2017 06:41 PM IST
    आज की तारीख, यानी 23 जून, को हर साल विश्व भर में अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक दिवस मनाया जाता है. हर साल हज़ारों की संख्या में विभिन्न देशों के लोग तरह तरह के इवेंट्स जैसे दौड़, प्रदर्शनी मुकाबले में हिस्सा लेकर ओलिंपिक दिवस मनाते हैं. अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक दिवस की शुरुआत 1948 में हुई थी.
  • Cricket | बुधवार जून 21, 2017 04:38 PM IST
    विराट कोहली से अनबन के चलते आखिरकार टीम इंडिया के सफलतम कोच अनिल कुंबले को अपना पद छोड़ना ही पड़ा. कई खिलाड़ियों का मानना है कि कोच का सख्त होना जरूरी होता है, क्योंकि यदि वह हां में हां मिलाएगा, तो सुधार संभव नहीं होगा.
और पढ़ें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com