विज्ञापन
Story ProgressBack

शरीर में हो गई है प्रोटीन की कमी तो दिखने लगेंगे ये 6 लक्षण, वक्त रहते पहचानना और खानपान बदलना है बेहद जरूरी

सेहत बनाए रखने के लिए शरीर को पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन की आवश्यक्ता होती है. लेकिन, शरीर में कई कारणों से प्रोटीन की कमी हो जाती है जिसे समय रहते पहचानना बेहद जरूरी होता है. 

Read Time: 3 mins
शरीर में हो गई है प्रोटीन की कमी तो दिखने लगेंगे ये 6 लक्षण, वक्त रहते पहचानना और खानपान बदलना है बेहद जरूरी
इस तरह पहचानी जा सकती है प्रोटीन की कमी. 

Protein Deficiency: चाहे हड्डियों को मजबूती देना है या फिर मसल्स की सेहत बनाए रखनी हो, शरीर को प्रोटीन की आवश्यक्ता होती है. प्रोटीन शरीर को एनर्जी, बॉडी को रिकवर करने के लिए और पेट भरने के एहसास के लिए भी शरीर को प्रोटीन की आवश्यकता होती है. लेकिन, ऐसे बहुत से लोग हैं जिनके शरीर में प्रोटीन की कमी हो जाती है और उन्हें इसका अंदाजा भी नहीं लग पाता है. यहां ऐसे ही कुछ संकेत और लक्षणों (Symptoms) के बारे में बताया जा रहा है जो प्रोटीन की कमी होने पर शरीर पर दिखने लगते हैं. इस लक्षणों को समय रहते पहचानकर प्रोटीन की कमी पूरी करने पर ध्यान देना आवश्यक होता है. प्रोटीन की कमी पूरी करने के लिए खानपान में बदलाव किया जा सकता है और उन चीजों को डाइट का हिस्सा बनाया जा सकता है जो शरीर को पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन दें. 

हर हफ्ते सफेद दिखने लगते हैं बाल तो फेंक दीजिए बाजार की हेयर डाई और लगाना शुरू कर दीजिए घर की यह एक चीज

प्रोटीन की कमी के लक्षण | Protein Deficiency Symptoms And Signs 

मसल मास कम होना प्रोटीन की कमी का एक बड़ा लक्ष्ण है. शरीर में प्रोटीन की कमी होने लगती है तो मसल्स मास कम होना शुरू हो जाता है. ऐसे में मसल्स पर गौर करना जरूरी होता है. वहीं, मसल्स मास बेहतर हो इसके लिए प्रोटीन का पर्याप्त सेवन जरूरी है. 

कमजोर बालों को जड़ों से मजबूत बनाती हैं ये 7 चीजें, हेयर फॉल हो जाता है दूर, मोटे होने लगते हैं बाल

प्रोटीन की कमी के लक्षण स्किन, नाखून और बालों से भी पहचाना जा सकता है. शरीर में प्रोटीन की कमी होने लगती है तो स्किन लाल दिखने लगती है, नाखून खुरदुरे हो जाते हैं और बालों का रंग हल्का पड़ना शुरू हो जाता है. ये तीनों ही संकेत (Signs) प्रोटीन की कमी की ओर इशारा करते हैं. 

हड्डियों की मजबूती बनाए रखने में भी प्रोटीन की अहम भूमिका देखने को मिलती है. ऐसे में प्रोटीन की कमी होने पर हड्डियों में दर्द रहना शुरू हो जाता है.

इसके अलावा, हड्डियां कमजोर (Weak Bones) होना और हड्डी टूटने की संभावना का बढ़ना भी प्रोटीन की कमी का संकेत हो सकता है. 

लिवर सेल्स में फैट का जमा होना या फिर फैटी एसिड की दिक्कत होना भी प्रोटीन की कमी के कारण हो सकता है. इसके अलावा, शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी प्रोटीन की कमी प्रभावित करती है. प्रोटीन की कमी होने पर इंफेक्शंस होने का खतरा बढ़ सकता है. 

बच्चों की लंबाई रुकना या सही तरह से ग्रोथ ना होना भी प्रोटीन की कमी का ही एक संकेत है. प्रोटीन हड्डियों और मसल्स की ग्रोथ और मजबूती में सहायक होता है इसीलिए प्रोटीन की कमी शारीरिक ग्रोथ रुकने से भी पहचानी जा सकती है. 

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Nutritionist के बताए 10 आसान Tips से कभी नहीं बढ़ेगा घटाया हुआ वजन

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
लीची भिगोकर खाना क्यों है जरूरी जानिए यहां, बिना सोक्ड लीची आपकी सेहत को कर सकता है खराब
शरीर में हो गई है प्रोटीन की कमी तो दिखने लगेंगे ये 6 लक्षण, वक्त रहते पहचानना और खानपान बदलना है बेहद जरूरी
दुनिया का सबसे खुशहाल देश फिनलैंड की कर रहे हैं ट्रिप प्लान, तो इन टॉप 4 डेस्टिनेशन की जरूर करें सैर
Next Article
दुनिया का सबसे खुशहाल देश फिनलैंड की कर रहे हैं ट्रिप प्लान, तो इन टॉप 4 डेस्टिनेशन की जरूर करें सैर
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;