"गालियों की राजनीति..." : योगी आदित्यनाथ के प्रहार का अरविंद केजरीवाल ने दिया जवाब

गुजरात विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा ने पूरी ताकत लगा दी है और प्रचार में कट्टर हिंदुत्व आइकन योगी आदित्यनाथ सहित अपने बड़े नेताओं को उतार दिया है.

योगी आदित्यनाथ के ट्वीट को अरविंद केजरीवाल ने री-ट्वीट किया है.

नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने योगी आदित्यनाथ पर पलटवार किया है. गुजरात में एक चुनावी रैली के दौरान भाजपा के स्टार प्रचारक योगी आदित्यनाथ ने अरविंद केजरीवाल को 'आतंकवाद का समर्थक' बताया था. इसके जवाब में अरविंद केजरीवाल ने आज खुद को "विकास" करने वाला और भाजपा के "गाली और गुंडागर्दी की राजनीति" के खिलाफ खड़े होने वाले व्यक्ति के रूप में पेश किया.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने योगी आदित्यनाथ के एक वीडियो वाले ट्वीट को हिंदी में री-ट्वीट करते हुए कहा, "गंदी गालियां, गुंडागर्दी, भ्रष्टाचार या गंदी राजनीति चाहिए तो उन्हें वोट दो. स्कूल, अस्पताल, बिजली, पानी, सड़क चाहिए तो मुझे वोट दो." वहीं, योगी आदित्यनाथ के ट्वीट किए गए वीडियो का कैप्शन था- "आम आदमी पार्टी का यह नमूना जो दिल्ली से आया है, वास्तव में आतंकवाद का हमदर्द है."

पंजाब में इस साल की शुरुआत में अपनी जीत से उत्साहित आप ने गुजरात में बीजेपी को चुनौती देने के लिए जोरदार अभियान चलाया है. भाजपा यहां 27 साल से सत्ता में है. इसमें पीएम नरेंद्र मोदी का 13 साल का मुख्यमंत्री का कार्यकाल भी शामिल है. आप के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में एक पूर्व टीवी न्यूज एंकर इसुदान गढ़वी को पेशकर केजरीवाल गुजरात में "विकास" करने का दावा कर रहे हैं. इसके अलावा बीजेपी के कोर हिंदुत्व मतदाता को लुभाने के लिए भारतीय नोटों पर भगवान गणेश-लक्ष्मी के चित्रों की मांग भी केंद्र सरकार से की है.

कांग्रेस, जिसने 2017 में अपना वोट शेयर बढ़ाया था, इस बार चुनाव अभियान को स्थानीय स्तर पर रख रही है. इसे वह एक रणनीति कहती है. कांग्रेस चुनाव को तीन-तरफा प्रतियोगिता के रूप में देखने से इंकार करती है. कांग्रेस ने गुजरात में आप की चुनौती को खारिज कर दिया है. बीजेपी भी इस मुकाबले को कांग्रेस से सीधी टक्कर के तौर पर देख रही है.

फिर भी, भाजपा ने पूरी ताकत लगा दी है और प्रचार में कट्टर हिंदुत्व आइकन योगी आदित्यनाथ सहित अपने बड़े नेताओं को उतार दिया है. चुनाव अभियान को भाजपा ने हिंदुत्व की ओर मोड़ दिया है. अमित शाह ने कहा कि "2002 में दंगाइयों को सबक सिखाया गया" और योगी आदित्यनाथ ने भी प्रतिद्वंद्वियों को "भगवान राम के विरोधियों" कहकर गुजरात चुनाव अभियान को हिंदुत्व की दिशा दी है.

अरविंद केजरीवाल ने जिस वीडियो को री-ट्वीट किया, उसमें योगी आदित्यनाथ ने कहा कि AAP नेता ने "राम मंदिर के निर्माण का विरोध किया था, और यहां तक ​​कि पाकिस्तान में भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक के लिए सबूत भी मांगा था." उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार और आतंकवाद 'एक ही चीज' हैं.

यह भी पढ़ें-

UP के कानपुर में शिक्षक का कारनामा : 2 का टेबल नहीं सुनाया तो स्टूडेंट के हाथ पर ड्रिल मशीन चला दी
चीन का पीछा नहीं छोड़ रहा कोरोना, एक दिन में आए करीब 40 हजार केस
गुजरात में चुनाव ड्यूटी पर तैनात जवान ने अपने दो साथियों पर AK-47 से की फायरिंग, दो की मौत

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


 

Featured Video Of The Day

अजय मंडावी को पद्मश्री से किया जाएगा सम्मानित, जानें उनकी पूरी कहानी