देश का दूसरा सबसे प्रदूषित शहर दिल्‍ली, टॉप-10 में हरियाणा और उत्तर प्रदेश के आठ शहर

देश के सबसे प्रदूषित शहरों में फरीदाबाद पहले स्‍थान पर रहा और टॉप-10 शहरों में पांच हरियाणा के और उत्तर प्रदेश के तीन शहर शामिल हैं. 

देश का दूसरा सबसे प्रदूषित शहर दिल्‍ली, टॉप-10 में हरियाणा और उत्तर प्रदेश के आठ शहर

दिल्‍ली में आज सुबह AQI का स्‍तर 397 रिकॉर्ड किया गया. (फाइल)

नई दिल्‍ली :

Pollution in India: दिल्‍ली में तमाम कोशिशों के बावजूद प्रदूषण पर लगाम नहीं लग रही है. आज सुबह देश के सबसे प्रदूषित शहरों (Most Polluted Cities) में दिल्‍ली (Delhi) दूसरे स्‍थान पर रहा. वायु गुणवत्ता सूचकांक (Air Quality Index) के मुताबिक दिल्‍ली की हवा 'बेहद खराब' रिकॉर्ड की गई. हालांकि एक दिन पहले दिल्‍ली की हवा ज्‍यादा जहरीली थी, जिसमें मामूली सुधार हुआ है. देश के सबसे प्रदूषित शहरों में फरीदाबाद पहले स्‍थान पर रहा और टॉप-10 शहरों में पांच हरियाणा के और उत्तर प्रदेश के तीन शहर शामिल हैं.

दिल्‍ली में आज सुबह AQI का स्‍तर 397 रिकॉर्ड किया गया. इससे ठीक एक दिन पहले यह 406 रिकॉर्ड किया गया. AQI में कुछ कमी आने से दिल्‍ली की हवा में कुछ सुधार हुआ और वह गंभीर से बेहद खराब की स्थिति में पहुंच गई. वहीं देश के सबसे प्रदूषित शहरों में पहले स्‍थान पर हरियाणा का फरीदाबाद रहा, जहां AQI स्‍तर 401 रिकॉर्ड किया गया. वहीं एक दिन पहले यह 421 था. 

दिल्ली में वायु गुणवत्ता ‘गंभीर'श्रेणी में, कम तापमान और धीमी हवाओं के कारण बढ़ा प्रदूषण

देश के सबसे प्रदूषित शहरों में फरीदाबाद और दिल्ली के बाद मेरठ (379) तीसरे, बागपत (375) चौथे और बहादुरगढ़ (375) पांचवें स्‍थान पर रहा. इसके बाद क्रमश: जींद (369), हिसार (367), नोएडा (356), सिंगरौली (355) और गुरुग्राम (355) का स्‍थान आता है. 

BS-6 गाड़ियां तो बिकनी शुरू, लेकिन अब PUC सर्टिफिकेट के लिए भटक रहे लोग, इस वजह से हो रही है दिक्कत

देश के सबसे प्रदूषित 10 शहरों में पांच शहर हरियाणा के हैं. वहीं उत्तर प्रदेश के तीन और मध्‍य प्रदेश का एक शहर शामिल है. देश के 25 शहरों की आबोहवा 'गंभीर' या 'बेहद खराब' की श्रेणी में है. इनमें से ज्‍यादातर शहर हरियाणा और उत्तर प्रदेश के हैं. 

Delhi Pollution: सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली-NCR में निर्माण कार्यों पर फिर बैन लगाया

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने दिल्‍ली एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए निर्माण कार्यों पर प्रतिबंध लगा रखा है. साथ ही दिल्‍ली सरकार की ओर से भी कई आपात उपायों की घोषणा की गई है. 


बता दें कि 0-50 की वायु गुणवत्ता को सबसे बेहतर माना जाता है. इसके बाद AQI स्‍तर 51-100 को संतोषजनक, 101-200 को मध्यम, 201-300 को खराब और 301-400 को बहुत खराब माना जाता है. वहीं 401-500 की श्रेणी को गंभीर माना जाता है, जो स्‍वास्‍थ्‍य के नजरिये से बेहद खतरनाक स्थिति है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


'प्रदूषण तेज हवा से कम हुआ, आपके कदमों से नहीं' : केंद्र से बोला SC