यूपी: पंचायत चुनाव लड़ने के दावेदार नेताओं की ओर से पिलाई गई जहरीली शराब बनी 5 लोगों की मौत का कारण

बुलंद शहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने कहा, 'प्रथम  दृष्‍टया जानकारी में यह बात आई है कि यहां  शराब पहले से बिक रही थी. इस बात की जानकारी थाना प्रभारी, चौकी प्रभारी और हल्‍के के सिपाहियों को होनी चाहिए थी

यूपी: पंचायत चुनाव लड़ने के दावेदार नेताओं की ओर से पिलाई गई जहरीली शराब बनी 5 लोगों की मौत का कारण

जहरीली शराब पीने से हुई मौतों के बाद जीतागढ़ी में में हर तरफ मातम पसरा है

लखनऊ:

illicit liquor: उत्‍तर प्रदेश के बुलंद शहर (Buland shahr) में पंचायत चुनाव लड़ने के उम्‍मीदवार नेताओं की पिलाई जहरीली शराब (illicit liquor) से पांच लोगों की मौत हो गई और 16 बीमार होकर अस्‍पताल में भर्ती हैं, भर्ती लोगों में से पांच की हालत नाजुक है. मामले में पुलिस और आबकारी विभाग के आठ कर्मचारियों को सस्‍पेंड कर दिया गया है.जीतागढ़ी में में हर तरफ मातम पसरा है तमाम घरों से रोने-पीटने और चीख-पुकार की आवाजें आ रही हैं. शराब ने सतीश की भी जान ली, उनकी पत्‍नी कहती हैं कि पंचायत चुनाव लड़ने के ख्‍वाहिशमंद नेता नये साल की रात से ही गांव वालों को मुफ्त शराब पिला रहे हैं. सतीश इसी शराब को पीकर आए थे.

यूपी में जहरीली शराब का धंधा दुगनी रफ्तार से चल रहा है: अखिलेश यादव

सतीश की पत्‍नी किसनवती कहती हैं, 'यह जो इलेक्‍शन में खड़े हैं, इन्‍होंने ही बांटी हैं शराब की पेटियों. उनसे ही लेकर लोगों को बांट रहे हैं. इलेक्‍शन में जो खड़े हो रहे हैं, दो लोग-तीन मिलकर शराब बंटवा रहे हैं.' लेकिन नेताओं की कल रात की शराब जहरीली निकल गई, इसे पीकर लोगों की मौत होने लगी और कई लोग अस्‍पताल पहुंच गए. यहां महिलाएं अपने मर्दों की शराबखोरी से परेशान हैं. उनका आरोप है कि पुलिस को सब तपा है लेकिन शराब कारोबारियों से वसूल करके कार्रवाई नहीं करते.

एमपी के उज्जैन में जहरीली शराब पीने से 14 की मौत, अब तक 10 आरोपी गिरफ्तार

जहरीली शराब पीने के कारण  मारे गए एक अन्‍य व्‍यक्ति पन्‍ना लाल की पत्‍नी शशि बताती हैं, 'ये लोग दारू बेचते थे और काफी दिनों से बेच रहे थे, श‍िकायत करते थे तो कोई पुलिस वाला सुनवाई नहीं करता था. पैसा भर देते थे सब फिर कोई क्‍यों कार्रवाई करें.शराब पीकर मारे गए कलुआ के भाई अनिल ने शराब की वह बोतल दिखाई जिसे  पीकर उनके भाई की मौत हुई. जहरीली शराब से इतनी मौतें होने के बाद पुलिस हरकत में आई है. बुलंद शहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने कहा, 'प्रथम  दृष्‍टया जानकारी में यह बात आई है कि यहां  शराब पहले से बिक रही थी. इस बात की जानकारी थाना प्रभारी, चौकी प्रभारी और हल्‍के के सिपाहियों को होनी चाहिए थी और उनकी ओर से कार्रवाई की जानी चाहिए थी. '


पंजाब में जहरीली शराब से 98 लोगों की मौत, अब तक 25 आरोपी गिरफ्तार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com