पीएम मोदी ने हरियाणा के फरीदाबाद में किया 'भारत के सबसे बड़े' अस्पताल का उद्घाटन

माता अमृतानंदमयी मठ के सहयोग से छह साल की अवधि में अमृता अस्पताल का निर्माण किया गया है.

पीएम मोदी ने हरियाणा के फरीदाबाद में किया 'भारत के सबसे बड़े' अस्पताल का उद्घाटन

पीएम मोदी ने कहा कि भारत एक ऐसा देश है जहां स्वास्थ्य और अध्यात्म का आपस में गहरा संबंध है.

Faridabad:

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने बुधवार को यहां 2,600 बिस्तरों वाले प्राइवेट अस्पताल का उद्घाटन किया, जो अत्याधुनिक तकनीक से लैस है, जिसमें एक ऑटोमैटेड लाइब्रेरी भी शामिल है. इस मौके पर हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी मौजूद थे.

इस अवसर पर बोलते हुए प्रधान मंत्री मोदी ने कहा कि भारत एक ऐसा देश है जहां स्वास्थ्य और आध्यात्मिकता निकटता से जुड़े हुए हैं. उन्होंने कहा कि कोविड-19 एक सफल स्प्रीचुअल प्राइवेट पार्टनरशिप का एक आइडियल उदाहरण है जिसने जागरूकता पैदा करने और दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान को लागू करने में मदद की.

प्रौद्योगिकी और आधुनिकीकरण के संयोजन से हेल्थ केयर फील्ड में देश की प्रगति होगी, “प्रधान मंत्री ने कहा, भारत यह सुनिश्चित करने का प्रयास कर रहा है कि सरकारें और अन्य लोग स्वास्थ्य और शिक्षा क्षेत्रों को एक मिशन मोड में बदलने के लिए आगे आएं.

130 एकड़ के विशाल परिसर में स्थिरता को ध्यान में रखते हुए बनाया गया अत्याधुनिक अमृता अस्पताल में एक समर्पित सात मंजिला अनुसंधान खंड है और इसे माता अमृतानंदमयी मठ के सहयोग से छह सालों की अवधि में बनाया गया है.

नया सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल 500 बिस्तरों के साथ खुल गया है और अगले पांच सालों में फेस्ड आउट तरीके से पूरी तरह से चालू होने की उम्मीद है. एक बार पूरी तरह से चालू होने के बाद, 81 विशिष्टताओं वाले अस्पताल को दिल्ली-एनसीआर और देश का सबसे बड़ा प्राइवेट हॉस्पिटल माना जाएगा, अधिकारियों ने पहले कहा था.

कहा गया था कि, अस्पताल की इमारतें 36 लाख वर्ग फुट में में फैली होंगी, जिसमें 14 मंजिला टावर हाउसिंग प्रमुख चिकित्सा सुविधाएं होंगी. छत पर हेलीपैड भी है.

फरीदाबाद के सेक्टर 88 में दिल्ली-मथुरा रोड के पास नए मेगा अस्पताल का एक करोड़ वर्ग फुट का निर्मित क्षेत्र है और परिसर में एक मेडिकल कॉलेज भी होगा. एक समर्पित सात मंजिला रिसर्च सेक्शन और आठ सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, जिनमें गैस्ट्रो-साइंसेस, रीनल साइंस, हड्डी रोग और स्ट्रोक्स, ट्रांसप्लांट और मां और बच्चे की देखभाल शामिल हैं.

अस्पताल में रोगी केंद्रित वार्ड और ओपीडी और एक हाई तकनीक पूरी तरह से ऑटोमेटेड सेंट्रालाइज्ड प्रयोगशाला है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
       



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
अन्य खबरें