Krishna Janmashtami 2022: कब है जन्माष्टमी का पर्व, जानें तिथि, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और भोग

Krishna Janmashtami 2022 Date: इस बार 18 और 19 अगस्त दो दिन जन्माष्टमी मनाई जाएगी. आइए आपको पूजा के लिए शुभ मुहूर्त, पूजा की विधि और स्पेशल भोग की रेसिपी बताते हैं.

Krishna Janmashtami 2022: कब है जन्माष्टमी का पर्व, जानें तिथि, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और भोग

Krishna Janmashtami 2022: जन्माष्टमी पर भगवान श्रीकृष्ण को लगाए ये भोग.

इस साल अगस्त महीने में ही श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पड़ रही हैं. इस बार भी जन्माष्टमी दो दिन मनाई जाएगी. भगवान श्रीकृष्ण का जन्म भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि पर रोहिणी नक्षत्र में हुआ था. इस बार 18 और 19 अगस्त दो दिन जन्माष्टमी मनाई जाएगी. आइए आपको पूजा के लिए शुभ मुहूर्त, पूजा की विधि और स्पेशल भोग की रेसिपी बताते हैं, जिसके साथ आप भी इस बार खास भोग के साथ भगवान श्रीकृष्ण को प्रसन्न कर सकते हैं.


श्रीकृष्ण जन्माष्टमी 2022 का शुभ मुहूर्त- Krishna Janmashtami 2022 Shubh Muhurat:

अष्टमी तिथि का प्रारंभ- 18 अगस्त की शाम 9.21 मिनट से शुरू होगा.

अष्टमी तिथि समाप्त- 19 अगस्त की रात 10.59 मिनट तक रहेगा. 

Tea And Coffee: बच्चों को चाय और कॉफी देना कितना सुरक्षित, जानें इसके फायदे और नुकसान

t85627i



श्रीकृष्ण जन्माष्टमी 2022 पूजा विधि- Krishna Janmashtami 2022 Puja vidhi: 
जन्माष्टमी पर भगवान श्री कृष्ण के बाल रूप यानी लड्डू गोपाल की पूजा होती है.
सबसे पहले लड्डू गोपाल का दूध, दही, शहद और जल से अभिषेक करें.
अब श्रीकृष्ण के बाल रूप को झूले में बैठाएं और झुलाएं.
भगवान को माखन, मिश्री, लड्डू, धनिया पंजीरी और दूसरी मिठाइयों को भोग लगाएं.
रात के 12 बजे के बाद भगवान श्री कृष्ण की विशेष पूजा- अर्चना करें.
पूजा हो जाने पर लड्डू गोपाल की आरती करें.

Soaked Nuts Benefits: वेट लॉस से लेकर ग्लोइंग स्किन तक नट्स भिगोकर खाने से मिलते हैं शरीर को कई फायदे, जानें कैसे करें अपने रूटीन में शामिल

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी 2022 स्पेशल भोग- Krishna Janmashtami 2022 Special Bhog:

1. माखन-मिश्री भोग
जन्माष्टमी पर श्रीकृष्ण को माखन-मिश्री का भोग जरूर लगाए, ये उन्हें बहुत प्रिय है. इसे बनाने के लिए आपको केवल सफेद मक्खन और मिश्री चाहिए होता है. दोनों को एक साथ मिला लें और इसमें तुलसी पत्ता डालें, इससे भगवान का प्रसाद पूरा होता है.

2. धनिया पंजीरी
भगवान श्रीकृष्ण के जन्म पर उन्हें धनिया पंजीरी का भोग लगाया जाता है. ये भोग धनिया पंजीरी पाउडर,घी, कटे हुए बादाम, किशमिश, काजू और मिश्री के साथ बनाया जाता है. धनिया को भून कर इसमें सभी चीजें मिलाकर भी इसे तैयार कर सकते हैं.

3. मखाना पाग
मखाना पाग एक पारंपरिक श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर बनने वाला भोग है. मखाना के साथ घी, दूध और  चीनी से बना, मखाना पाग छप्पन भोग का हिस्सा है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.