Diabetes Diet: ये पांच प्री-लंच स्नैक आइडिया आपका ब्लड शुगर कंट्रोल करने में करेंगे मदद

स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से डायबिटीज दुनिया भर में चिंता का ​कारण बन गया है, देश-विदेश में लाखों लोग इससे प्रभावित हैं.

Diabetes Diet: ये पांच प्री-लंच स्नैक आइडिया आपका ब्लड शुगर कंट्रोल करने में करेंगे मदद

खास बातें

  • देश-विदेश में लाखों लोग डायबिटीज प्रभावित हैं.
  • सही खानपान के साथ इसको मैनेज कर सकते हैं.
  • प्री-लंच एक क्विक स्नैक ब्रेक है जिसे आप लंच से पहले लेते हैं.

स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से डायबिटीज दुनिया भर में चिंता का ​कारण बन गया है, देश-विदेश में लाखों लोग इससे प्रभावित हैं. डायबिटीज एक ऐसी स्थिति है जहां आपका शरीर या तो पर्याप्त इंसुलिन का उत्पादन नहीं कर रहा है या उत्पादित इंसुलिन का रिसपॉन्ड नहीं दे पाता है. हालांकि, सही खानपान के साथ इसको मैनेज कर सकते हैं. पोषण विशेषज्ञों के अनुसार, डायबिटीज रोगियों को फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर आहार का सेवन करना चाहिए. उन्हें नियमित अंतराल में भोजन करते रहना चाहिए ताकि अचानक ब्लड शुगर में कमी न हो. आपके दिन की शुरूआत सुबह के नाश्ते के साथ होती है. इसके बाद दोपहर में लंच करना होता है, नाश्ते और दोपहर के लंच के बीच एक लंबा अंतराल होने की वजह से आपको प्री-लंच यानि के दोपहर के भोजन से पूर्व बीच में कुछ हल्का-फुल्का खाने पर विचार करना चाहिए.

प्री-लंच एक क्विक स्नैक ब्रेक है जिसे आप लंच से पहले लेते हैं. इसमें आपको अपने भोजन को विभाजित करते समय इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि आपको अपनी डाइट में रोजाना कितनी कैलोरी लेनी है. क्योंकि, डायबेटिक रोगियों के लिए ज्यादा कैलोरी भी हानिकारक साबित हो सकती है.

Immunity: बदलते मौसम में इम्युनिटी बढ़ाने के लिए इन 10 गलतियों को करने से बचें

1. नट्स का मिश्रण: बादाम, कद्दू के बीज, काजू, तिल के बीज, फ्लैक्ससीड्स और अखरोट को एक साथ मिलाकर आप एक होममेड नट-ट्रेल तैयार कर सकते हैं. यह फाइबर, प्रोटीन और एंटीऑक्सिडेंट को लोड करने के लिए एक बढ़िया विचार हो सकता है. सुनिश्चित करें कि आप एक नियंत्रित भाग ही लें. अखरोट के ज्यादा सेवन से पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं.

2. टमाटर और धनिया का सैलेड : यह लो कैलोरी वाला सैलेड आपके दिन में ताजगी का संचार कर सकता है. आप इस सिम्पल से सैलेड को तब भी बना सकते हैं, जब आपके पास बहुत ही कम समय हो. उदाहरण के लिए, इस टमाटर सैलेड में कटा हुआ टमाटर, कटा हरा धनिया, नींबू का रस और काली मिर्च जैसी सभी चीजों को मिलाकर इसे तैयार कर सकते हैं.

3. चाट मसाले के साथ मौसमी फल: कोई भी लोकल या मौसमी फल जो फाइबर में उच्च और  ग्लाइसेमिक इंडेक्स में कम है, आपके ब्लड शुगर के उतार-चढ़ाव को कंट्रोल करने में मदद कर सकता है. आप इन फलों के ऊपर थोड़ा सा चाट मसाला छिड़क सकते हैं.

4. पालक और पत्तागोभी का जूस: अक्सर जूस में सब्जी या फल की फाइबर सामग्री कम हो जाती है, इसलिए इन्हें ऐसे ही खाने के सलाह दी जाती है. हालांकि, एक बार जूस पीने में कोई बुराई नहीं है. लेकिन यह सुनिश्चित करें कि यह ताजा, घर का बना और नैचुरल हो. आप चाहे तो ताजे पालक के पत्तों के साथ पत्तागोभी के पत्तों को एक साथ मिलाकर थोड़ा सा पानी डालकर ब्लेंड करके ऐसे ही पीने की कोशिश कर सकते हैं.

5. कैरेट स्टिक एंड हम्मस: गाजर साफ करके ​छील लें और इसे लम्बाई में काट लें. इन्हें हम्मस में डिप कर सकते हैं, यह एक लो-कार्ब स्नैक का बहुत ही बढ़िया विकल्प है. अगर आपको गाजर पसंद नहीं है, तो आप इसकी जगह खीरे का उपयोग कर सकते हैं.

क्या आपने कभी चखा इन स्वादिष्ट आलू कबाब का स्वाद, पार्टी में भी कर सकते हैं सर्व

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

       

Disclaimer : सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.   
 

अन्य खबरें