Basant Panchami 2022: कब है बसंत पंचमी? जानें तिथि, मुहूर्त और भोग रेसिपी

Basant Panchami 2022 Date And Time: बसंत पंचमी के दिन सरस्वती माता की पूजा की जाती है. शास्त्रों में बसंत पंचमी को ऋषि पंचमी के नाम से भी जाना जाता है. इस साल बसंत पंचमी का पर्व 5 फरवरी शनिवार को मनाया जाएगा.

Basant Panchami 2022: कब है बसंत पंचमी? जानें तिथि, मुहूर्त और भोग रेसिपी

Basant Panchami 2022: बसंत पंचमी में मां सरस्वती की पूजा करने से ज्ञान में वृद्धि होती है और उनका आर्शीवाद मिलता है.

खास बातें

  • बसंत पंचमी के दिन सरस्वती माता की पूजा की जाती है.
  • शास्त्रों में बसंत पंचमी को ऋषि पंचमी के नाम से भी जाना जाता है.
  • इस साल बसंत पंचमी का पर्व 5 फरवरी शनिवार को मनाया जाएगा.

Basant Panchami 2022 Date And Time: बसंत पंचमी के दिन सरस्वती माता की पूजा की जाती है. शास्त्रों में बसंत पंचमी को ऋषि पंचमी के नाम से भी जाना जाता है. इस साल बसंत पंचमी (Basant Panchami 2022) का पर्व 5 फरवरी शनिवार को मनाया जाएगा. मां सरस्वती को ज्ञान की देवी माना जाता है. मान्यता है कि माघ मास की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मां सरस्वती ब्रह्माजी के मुख से प्रकट हुई थी, और इसीलिए इस तिथि को बसंत पंचमी के पर्व के रूप में मनाया जाता है. यह पर्व भारत के साथ-साथ पश्चिमोत्तर बांग्लादेश और नेपाल में भी धूमधाम से मनाया जाता है. मान्यता है कि बसंत पंचमी में मां सरस्वती (Saraswati Puja) की पूजा करने से ज्ञान में वृद्धि होती है और उनका आर्शीवाद मिलता है. इस पर्व का शिक्षा और संगीत के क्षेत्र से जुड़े लोग साल भर इंतजार करते हैं. इस दिन देश भर में शिक्षक और छात्र मां सरस्वती की पूजा कर उनसे और अधिक ज्ञानवान बनाने की प्रार्थना करते हैं. बसंत पंचमी में मां सरस्वती को पीले रंग के भोग और फूल अर्पण किए जाते हैं. आइए जानते हैं कब है बसंत पंचमी पूजा का शुभ मुहूर्त, भोग और महत्व.

बसंत पंचमी स्पेशल भोग- Basant Panchami Special Bhog:

हिन्दू धर्म में बसंत पंचमी का खास महत्व है. ज्ञान की देवी मां सरस्वती की बसंत पंचमी के दिन पूजा की जाती है. मां सरस्वती को पीला रंग अधिक प्रिय है. विद्या की देवी को पीले रंग के भोग और फूल अर्पण किए जाते हैं. आप मां सरस्वती को प्रसन्न करने के लिए आप पीले रंग के प्रसाद का भोग लगा सकते हैं. भोग के लिए आप पीले रंग के पेड़े बना सकते हैं. इनको बनाना बहुत ही आसान है. पेड़े बनाने के लिए खोया और चीनी आवश्यक सामग्री है. इसके अलावा इलाइची पाउडर डालकर इसे खुशबूदार बनाया जाता है. खोए से बने पेड़े बहुत ही नरम और स्वादिष्ट होते हैं. पूरी रेसिपी के लिए यहां क्लिक करें. 

ab8rbf2o

बसंत पंचमी शुभ मुहूर्त-Basant Panchami 2022 Shubh Muhurat:

हिन्दू कैलेंडर के अनुसार माघ माह के शुक्ल पंचमी की शुरुआत 05 फरवरी को सुबह 03 बजकर 47 से,
 06 फरवरी को प्रात: 03 बजकर 46 मिनट पर समापन.

Expert Explains: पहले ही जानें कि प्रोस्‍टेट कैंसर होगा या नहीं! | Prostate Cancer Genetic Testing

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.
फूड की और खबरों के लिए जुड़े रहें.
Herbs And Spices For Diabetes: डायबिटीज के हैं मरीज तो इन चीजों का करें सेवन, कंट्रोल में रहेगा ब्लड शुगर
Natural Glow Foods: नेचुरल ग्‍लो पाने के लिए डाइट में शामिल करें ये चीजें
Imli Ke Fayde: इमली खाने के पांच कमाल के फायदे
Ganne Ki Kheer: गन्ने की खीर की इस यूनिक रेसिपी को जरूर करें ट्राई