विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Aug 04, 2011

पहले एक नहीं, दो चांद थे?

Read Time: 2 mins
लंदन: हम सभी जानते हैं कि पृथ्वी का एकमात्र उपग्रह चंद्रमा है, लेकिन वैज्ञानिकों का कहना है कि पहले संभवत: पृथ्वी के दो चंद्रमा हुआ करते थे और इनमें से छोटे आकार वाला चांद बड़े के साथ टक्कर में नष्ट हो गया। खगोलविदों ने कहा कि शायद यह इस टक्कर का ही परिणाम है कि मौजूदा चंद्रमा के दोनों हिस्से एक दूसरे से बिल्कुल अलग हैं। उनका कहना है कि चांद का नजदीकी हिस्सा नीचा और समतल है, जबकि दूर का हिस्सा पर्वतीय और उंचा-नीचा है। समाचार पत्र डेली मेल के मुताबिक वैज्ञानिकों की राय इस बारे में अलग-अलग है। इस बारे में नया सिद्धांत दिया गया है कि दो चंद्रमाओं की टक्कर की वजह से मौजूदा चांद के एक हिस्से का आकार उंचा-नीचा हुआ है। उनका कहना है कि दोनों चंद्रमाओं में टक्कर धीरे-धीरे हुई। ऐसे में संभव है कि उन पर्वतों का निर्माण हुआ हो, जिन्हें आज हम चांद के दूर के हिस्से में देखते हैं। यह नया शोध कैलीफिोर्निया विश्वविद्यालय में किया गया है।

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;