विज्ञापन
Story ProgressBack

अंतिम चरण के मतदान से पहले पीएम मोदी कन्याकुमारी में विवेकानंद रॉक मेमोरियल पर कर सकते हैं ध्यान, जानिए क्या हैं ध्यान के फायदे 

सूत्रों के मुताबिक पीएम मोदी 30 मई की रात कन्याकुमारी पहुंच सकते हैं और इसके बाद वे विवेकानंद रॉक मेमोरियल जा सकते हैं. 

Read Time: 4 mins
अंतिम चरण के मतदान से पहले पीएम मोदी कन्याकुमारी में विवेकानंद रॉक मेमोरियल पर कर सकते हैं ध्यान, जानिए क्या हैं ध्यान के फायदे 
प्रधानमंत्री मोदी 31 मई को पूरे दिन रॉक मेमोरियल पर ध्यान कर सकते हैं.

Meditation: लोकसभा के अंतिम चरण का मतदान 1 जून को होने वाला है. ऐसे में सूत्रों के मुताबिक, अंतिम चरण के मतदान से पहले 30 मई की रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कन्याकुमारी पहुंच सकते हैं. इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी 31 मई को पूरे दिन विवेकानंद रॉक मेमोरियल (Vivekananda Rock Memorial) पर ध्यान कर सकते हैं. आधिकारिक कार्यक्रम के मुताबिक इससे पहले 30 मई गुरुवार को पीएम मोदी (PM Modi) सुबह ग्यारह बजे पंजाब के होशियारपुर में चुनावी सभा को संबोधित करेंगे. उसके बाद उनका तमिलनाडु जाने का कार्यक्रम है जहां वे रात्रि विश्राम करेंगे. 

पीएम के आधिकारिक कार्यक्रम में 31 मई और 1 जून का कार्यक्रम अभी जारी नहीं किया गया है. गौरतलब है कि 2019 लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के मतदान के समय पीएम मोदी केदारनाथ गए थे जहां उन्होंने रुद्र गुफा में ध्यान किया था. 

19वीं सदी के दार्शनिक और लेखक स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda) ने भारतीय आध्यात्म को विदेशों तक ख्याति दिलाई थी. स्वामी विवेकानंद के सम्मान में ही साल 1970 में विवेकानंद रॉक मेमोरियल की नींव रखी गई थी. कहा जाता है कि जिस पत्थर पर इस मेमोरियल को बनाया गया है वहीं पर ध्यान लगाकर स्वामी विवेकानंद को ज्ञान की प्राप्ति हुई थी. पौराणिक कथाओं और मान्यताओं के अनुसार, इसी पत्थर पर देवी कन्याकुमारी ने भगवान शिव से प्रार्थना की थी और तभी से इस स्थान को धार्मिक रूप से महत्वपूर्ण माना जाने लगा. कहते हैं पत्थर के एक किनारे पर माता के पदचिन्ह भी देखे जा सकते हैं. विवेकानंद रॉक मेमोरियल में स्वामी विवेकानंद की मूर्ति भी लगी है. यह मेमोरियल बंगाल की खाड़ी, हिंद महासागर और अरब सागर से घिरा हुआ है. 

बालों को लंबा और घना बनाएगा भिंडी का जैल और कंडीशनर, तैयार करने का तरीका भी है बेहद आसान

ध्यान करने के फायदे 

  • ध्यान करने या कहें मेडिटेशन (Meditation) करने पर मानसिक तौर पर व्यक्ति को राहत महसूस होती है. खासकर तनाव और एंजाइटी को दूर करने के लिए ध्यान करने की सलाह दी जाती है. 
  • इससे शांति, सुख इमोशनल वेल बीइंग के साथ-साथ पूरे शरीर की सेहत को फायदे मिलते हैं. 
  • स्ट्रेस मैनेजमेंट में मदद मिलती है. 
  • व्यक्ति अपने अंतर्मन के प्रति और अधिक सचेत हो जाता है. 
  • नकारात्मक भाव दूर होते हैं और नेगेटिव ख्याल दिमाग से दूर रहते हैं. 
  • व्यक्ति अपनी भावनाओं को बेहतर तरह से समझ पाता है. 
  • ध्यान लगाने का एक फायदा यह भी है कि व्यक्ति अपने गुस्से से पार पाना सीख जाता है. 
  • ब्लड प्रेशर और हार्ट रेट की दिक्कतों से भी निजात मिल जाती है. 
  • ध्यान लगाने वालों को बेहतर नींद (Better Sleep) लेने में मदद मिलती है. 

मेडिटेशन कई अलग-अलग तरह की होती हैं, जैसे गाइडेड मेडिटेशन, मंत्र मेडिटेशन, योगा और माइंडफुल मेडिटेशन. गाइडेड मेडिटेशन में एक्सपर्ट आपको विजुअलाइज करने और मेंटल तस्वीर क्रिएट करने में मदद करता है जिससे रिलैक्स्ड फील होने लगता है. मंत्र मेडिटेशन में व्यक्ति बार-बार किसी मंत्र या शब्द का उच्चारण करता है. इससे दिमाग में आने वाले अनावश्यक ख्याल दूर रहते हैं. माइंडफुल मेडिटेशन में वर्तमान में ध्यानकेंद्रित किया जाता है. इसमें व्यक्ति का ध्यान अपनी सांस की गति या फिर अपने ख्यालों और भावनाओं पर होता है. योगा में कुछ ब्रीदिंग कंट्रोल एक्सरसाइज की जाती है और बैलेंस और फोकस बढ़ाने पर ध्यान दिया जाता है. 

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Aashiqui: वो फिल्म जिसने गायक, गीतकार, संगीतकार और एक्टर्स को बना दिया Superstar | Bollywood Gold

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
इस तरीके से बाल में प्याज का रस करें अप्लाई, झड़ते बाल जाएंगे रुक, ग्रोथ भी होगी अच्छी
अंतिम चरण के मतदान से पहले पीएम मोदी कन्याकुमारी में विवेकानंद रॉक मेमोरियल पर कर सकते हैं ध्यान, जानिए क्या हैं ध्यान के फायदे 
शीशे सी चमकती त्वचा चाहिए तो न्यूट्रिशनिस्ट की बताई इस ड्रिंक को पीना कर दीजिए शुरू, पा लेंगी ग्लास स्किन 
Next Article
शीशे सी चमकती त्वचा चाहिए तो न्यूट्रिशनिस्ट की बताई इस ड्रिंक को पीना कर दीजिए शुरू, पा लेंगी ग्लास स्किन 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;