विज्ञापन
Story ProgressBack

मुश्किलों के बाद भी फहराया जीत का परचम, 2 साल पहले खोया एक हाथ, 12वीं में आए 92 प्रतिशत, बनीं मिसाल 

ICSE Board ने इस साल की 10वीं और 12वीं टॉपर्स की लिस्ट जारी कर दी है जिसमें 15 साल की अनामता अहमद ने 12वीं में 92 प्रतिशत अंक पाए हैं. अनामता अपने प्रदर्शन से जीत की मिसाल बन गई हैं.

Read Time: 3 mins
मुश्किलों के बाद भी फहराया जीत का परचम, 2 साल पहले खोया एक हाथ, 12वीं में आए 92 प्रतिशत, बनीं मिसाल 
आईसीएसई 12वीं की टॉपर हैं अनामता अहमद. 

Motivational Story: मुंबई की रहने वाली 15 साल की अनामता की जिंदगी ने तब मोड़ लिया जब उनके साथ 2 साल पहले यह हादसा हुआ. 11 केवी केबल से इलेक्ट्रिक शॉक लगने के कारण अनामता ने महज 13 साल की उम्र में ही अपना एक हाथ खो दिया था. यह हादसा तब हुआ था जब अनामता (Anamta Ahmed) अपने कजिंस के साथ अलीगढ़ में थीं और खेल रही थीं. अनामता को बिजली के झटके की वजह से शरीर पर कई जलने के निशान भी पड़े थे. 

कहीं आप भी तो नहीं खरीदते रंग की मिलावट वाला तरबूज, इस आसान सी ट्रिक से असली और नकली की करें पहचान

इस हादसे ने अनामता की जिंदगी बदल दी. अनामता ने अपना दायां हाथ खो दिया और बाएं हाथ की काम करने की शक्ति सिर्फ 20 प्रतिशत ही बची थी. लगभग 50 दिनों के लिए अनामता को बिस्तर पर ही रहना पड़ा. लेकिन, कहते हैं ना जिंदगी किसी के लिए नहीं रुकती और आगे बढ़ती रहती है, अनामता भी जिंदगी के साथ आगे बढ़ गईं. अपनी चोटों और इस सदमे से उभरकर अनामता ने 12वीं के आईसीएसई बॉर्ड में 92 प्रतिशत लाकर टॉप किया है.  हिंदी में अनामता को 98 प्रतिशत नंबर मिले हैं और वह इस विषय की टॉप स्कॉरर हैं. 

न्यूट्रिशनिस्ट ने बताया अनियमित पीरियड्स की दिक्कत को दूर करने के लिए कैसे बनाएं चाय, बस 3 चीजों की पड़ेगी जरूरत 

डॉक्टरों ने अनामता के माता-पिता को यह सलाह दी थी कि अनामता को पढ़ाई से एक-दो साल का ब्रेक ले लेना चाहिए लेकिन अनामता ब्रेक नहीं लेना चाहती थीं, उनकी इतने समय तक घर पर खाली रहने की इच्छा नहीं थी. अनामता ने अपना मन बना लिया था कि यह हादसा उनके आने वाले जीवन को निर्धारित नहीं करेगा. अनामता के अनुसार, वे अपने आपको भाग्यशाली मानती हैं कि वे इस हादसे से जिंदा बच निकलीं. वे अपने माता-पिता ही नहीं बल्कि घर आने वाले सभी लोगों से यही कहती हैं कि उन्हें किसी की सहानुभूति नहीं चाहिए. अनामता के इसी जज्बे ने उन्हें अपनी मुश्किलों को पीछे कर आगे बढ़ने का हौंसला दिया है. अपनी पढ़ाई पर फोकस करके अनामिता ने ना सिर्फ परीक्षा अच्छे नंबरों से पास की है बल्कि टॉप करके सभी को गौरांवित कर दिया है.

Nutritionist के बताए 10 आसान Tips से कभी नहीं बढ़ेगा घटाया हुआ वजन

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बालों को समय से पहले सफेद होने से रोकेंगे ये फूड्स, न्यूट्रिशनिस्ट ने दी खाने की सलाह 
मुश्किलों के बाद भी फहराया जीत का परचम, 2 साल पहले खोया एक हाथ, 12वीं में आए 92 प्रतिशत, बनीं मिसाल 
क्या आपके टीनएज बच्चे के बाल में अभी से आने लगी है सफेदी, जानिए कारण और 6 घरेलू उपाय
Next Article
क्या आपके टीनएज बच्चे के बाल में अभी से आने लगी है सफेदी, जानिए कारण और 6 घरेलू उपाय
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;