CM बनते ही एकनाथ शिंदे ने पलटा उद्धव का फैसला, पहले ऑर्डर में आरे मेट्रो कारशेड पर सरकारी रुख बदला : सूत्र

सूत्रों की मानें तो अधिकारियों को इस बात के आदेश भी दिए हैं कि जलयुक्त शिवार योजना को पुनः शुरू करने के लिए जल्दी ही प्रस्ताव लाया जाए. 

CM बनते ही एकनाथ शिंदे ने पलटा उद्धव का फैसला, पहले ऑर्डर में आरे मेट्रो कारशेड पर सरकारी रुख बदला : सूत्र

महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे

मुंबई:

सत्ता पलट के बाद महाराष्ट्र की गद्दी संभालते ही शिवसेना के बागी एकनाथ शिंदे एक्शन मोड में आ गए हैं. सूत्रों की मानें तो वे उद्धव सरकार के आरे में मेट्रो कारशेड नहीं बनाने को लेकर किए गए फैसले को पलटने की तैयारी में हैं. उन्होंने महाराष्ट्र के एडवोकेट जनरल को आदेश दिए हैं कि मेट्रो कारशेड आरे में ही बनाया जाएगा. इस बारे में अदालत के सामने सरकार का पक्ष रखा जाए. अधिकारियों को इस बात के आदेश भी दिए हैं कि जलयुक्त शिवार योजना को पुनः शुरू करने के लिए जल्दी ही प्रस्ताव लाया जाए. 

कीरीट सोमैया ने फैसले का स्वागत किया

इन दोनों फैसलों के अतिरिक्त महाराष्ट्र विधानसभा का विशेष सत्र 2 और 3 जुलाई को बुलाया गया है. इस विशेष सत्र में पहले दिन विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा. इधर, नई सरकार के फैसलों का बीजेपी ने स्वागत किया है. पार्टी के पूर्व सांसद कीरीट सोमैया ने स्वागत किया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, " आरे में मेट्रोकार शेड को वापस लाने का शिंदे फडणवीस सरकार का फैसला मुंबई मेट्रो के काम को पटरी पर लाएगा."

एकनाथ शिंदे ने गुरुवार को ली शपथ

गौरतलब है कि कल शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे ने गुरुवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली. जबकि विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद बीजेपी के नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने उपमुख्यमंत्री की कुर्सी संभाली. ऐसे में मुख्यमंत्री बनने के बाद एकनाथ शिंदे ने राज्य के लिए फैसला लेना शुरू कर दिया है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यह भी पढ़ें -
-- नरेंद्र मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने के बाद महाराष्ट्र ऐसा तीसरा बड़ा राज्य जहां BJP ने पलटी बाजी
-- कांग्रेस ने ‘हॉर्स रेसिंग' को ‘हॉर्स ट्रेडिंग' कहने को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पर कटाक्ष किया