उत्तराखंड में भारी बारिश : नैनीताल बेहाल, हल्द्वानी का गोला पुल टूटा, PM मोदी ने की CM से बात

उत्तराखंड के मशहूर पर्यटक स्थल नैनीताल का नज़ारा ऐसा है जो आज तक लोगों ने नहीं देखा. यहां लगातार 24 घंटे से बारिश हो रही है, जिसके चलते नैनी झील का पानी इतना बढ़ गया है कि पानी मॉल रोड तक आ गया.  फिलहाल पानी थोड़ा उतरा है, लेकिन रास्ते बंद हैं.

नई दिल्ली:

उत्तराखंड (Uttarakhand Rain PHOTOS) के कई इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है. प्रशासन अलर्ट पर है. साथ ही चार धाम यात्रा रोक दी गई है. यही नहीं एहतियात के तौर पर स्कूल और कॉलेज भी बंद कर दिए गए हैं. पीएम नरेंद्र मोदी ने बारिश और बाढ़ के हालातों पर सीएम से बात की है. सीएम पुष्कर सिंह धामी ने भी सचिवालय स्थित आपदा कंट्रोल रूम से प्रदेश में भारी बारिश से हुए नुकसान का जायजा लिया है. मुख्यमंत्री वरिष्ठ अधिकारियों और जिलाधिकारियों से लगातार अपडेट ले रहे हैं. साथ ही यहां आने वाले पर्यटकों के लिए दिशानिर्देश जारी किए गए हैं कि घरों में रहें. बेवजह यात्रा करने से बचें. पहाड़ों में हो रही बारिश के बाद कई नदियां उफ़ान पर हैं. मंदाकिनी नदी का बहाव बहुत तेज हो गया है. सोमवार को राज्य सरकार ने एक आपात बैठक की ताकि किसी भी हालात से अच्छे तरीके से निपटा जा सके. उत्तराखंड में कई जगहों पर लगातार हो रही बारिश से परेशानी बढ़ती जा रही है.

केदारनाथ मंदिर दर्शन के बाद फंसे 22 यात्रियों को सुरक्षित निकाला गया

ऐसे में कई जगहों पर यात्रियों के फंसने की ख़बरें भी आ रही हैं. SDRF, उत्तराखंड पुलिस ने जानकी चट्टी से यात्रियों को देर रात सुरक्षित गौरीकुंड पहुंचाया. ये यात्री केदारनाथ मंदिर में दर्शन के बाद फंस गए थे और बारिश के चलते लैंडस्लाइड व मलबा गिरने का खतरा बना हुआ था। गौरीकुंड-केदारनाथ पैदल मार्ग पर मंदाकिनी नदी के दूसरी तरफ फंसे घायल यात्रियों समेत कई लोगों को बाहर निकाला. रातभर हो रही मूसलाधार बारिश और तमाम मुश्किलों को झेलते हुए एसडीआरएफ ने 22 यात्रियों को बचाया.

नैनीताल के मॉल रोड पर पहुंचा नैनी झील का पानी
उत्तराखंड के मशहूर पर्यटक स्थल नैनीताल का नज़ारा ऐसा है जो आज तक लोगों ने नहीं देखा. यहां लगातार 24 घंटे से बारिश हो रही है, जिसके चलते नैनी झील का पानी इतना बढ़ गया है कि पानी मॉल रोड तक आ गया. फिलहाल पानी उतरा है, लेकिन रास्ते बंद हैं.  रात को कुछ तस्वीरें सामने आईं जिसमें लोग टखने तक पानी में मॉल रोड से गुजरते दिखे. नैनी झील के निकासी द्वार खोलने के बाद नाले के आसपास बने घरों में रहने वालों को तनाव रहा. हल्द्वानी और भवाली से नैनीताल का संपर्क कटा रहा. बिजली गुल रही. भारी बारिश की वजह से मलबा सड़कों तक आ गया है,जिससे रास्ते बंद हो गए हैं.   भारी बारिश के कारण नैनीताल, रानीखेत, अल्मोड़ा से हल्द्वानी और काठगोदाम तक के सभी राष्ट्रीय राजमार्ग अवरुद्ध हो गए हैं. ऋषिकेश में यात्री वाहनों को चंद्रभागा पुल, तपोवन, लक्ष्मण झूला और मुनि-की-रेती भद्रकाली बैरियर पार नहीं करने दिया जा रहा है.

गर्जिया मन्दिर कॉर्बेट पार्क के पास कोसी नदी का रौद्र रूप

नैनीताल के रामगढ़ में बादल फटने की खबर

नैनीताल के रामगढ़ में बादल फटने की खबर है. रामगढ़ के तोकना गांव में बादल फटा है. 9 लोगों के मलबे में दबे होने की खबर है. पुलिस और प्रशासन टीम मौके पर रवाना हो गई है. 

हल्द्वानी गौला पुल की हालत देख सिहर जाएंगे

Image preview

नैनीताल में रात कुछ ऐसा दिखा मॉल रोड

चमोली-बद्रीनाथ नेशनल हाइवे किया गया बंद

उत्तराखंड के बद्रीनाथ में भी लगातार बारिश से हालात बिगड़ गए हैं.  यहां के चमोली-बद्रीनाथ नेशनल हाइवे के लामबगड़ नाले में एक कार फंस गई. इसके बाद सीमा सड़क संगठन के जेसीबी की मदद से कार को बड़ी मुश्किल से निकाला गया. कार में बैठे सभी लोग सुरक्षित हैं. पहले नाले में पानी के तेज बहाव की वजह से राहत के काम में दिक्कत आ रही थी पर आखिरकार उसे निकाल लिया गया. फिलहाल इस रूट पर गाड़ियों की आवाजाही बंद हो गई है.

भारी बारिश के चलते बहुत सारे इलाकों में बिजली गुल है. रास्ते बंद हैं. कई जगहों से लैंडस्लाइड की खबरें भी आ रही हैं. इलाके के लोगों से भी घरों में रहने की गुजारिश की गई है. पर्यटकों से भी पहाड़ों की यात्रा फिलहाल अवायड करने के लिए कहा गया है.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


चंपावत में निर्माणाधीन ब्रीज पानी के बहाव में टूट कर बह गया, देखें वीडियो