बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 15,126 नए मामले आए सामने

गुरुवार को दर्ज किए गए इन 15,126 नए मामलों के साथ राज्‍य में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्‍या 1,15,151 तक पहुंच गई है.

बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 15,126 नए मामले आए सामने

बिहार में इस समय कोरोना के 1,15,151 एक्टिव केस हैं (प्रतीकात्‍मक फोटो)

पटना:

बिहार में कोरोना संक्रमण को लेकर स्थिति लगातार बिगड़ रही है. राज्‍य में बीते 24 घंटों को कोरोना के 15,126 नए मामले सामने आए हैं. राज्‍य में यह एक दिन में कोरोना संक्रमण के मामलों की सर्वाधिक संख्‍या है.गुरुवार को दर्ज किए गए इन 15,126 नए मामलों के साथ राज्‍य में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्‍या 1,15,151 तक पहुंच गई है.बीते 24 घंटों में राजधानी पटना में 3665 मामले सामने आए हैं. भागलपुर में 503 और बेगूसराय में 490 कोरोना केस दर्ज किए गए हैं. गया में कोरोना के 752 केस रिकॉर्ड किए गए हैं. 

लॉकडाउन पर बिहार BJP प्रमुख के 'व्‍यंग्‍यात्‍मक' पोस्‍ट ने नीतीश कुमार की पार्टी को किया नाराज


गौरतलब है कि कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर नीतीश सरकार ने बिहार में 15 मई तक संपूर्ण लॉकडाउन लगाने का ऐलान किया है. उन्होंने ट्विटर के माध्यम से इस फैसले की जानकारी दी. सीएम नीतीश के अनुसार, सहयोगी मंत्रीगण और पदाधिकारियों के साथ चर्चा के बाद बिहार में फिलहाल 15 मई, 2021 तक लॉकडाउन लागू करने का निर्णय लिया गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राज्‍य में कोरोना के कारण बिगड़ रहे हालात पर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) पर निशाना साधा है. तेजस्वी ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर नीतीश सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाये है. उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान ज़रूरतमंदों की सहायता करने की बजाय नीतीश सरकार का ध्यान संसाधनों की संपूर्ण लूट पर केंद्रित है. विगत वर्ष भी विधान पार्षद व विधायकों की आवंटित राशि से सैकड़ों करोड़ निकाल भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा दिए गए. आज तक सरकार ने नहीं बताया कि उस धनराशि का कहां सकारात्मक उपयोग किया गया?