कांग्रेस ने शेयर की PM मोदी व अडानी की पुरानी तस्वीर, जानें क्या है माजरा

हरदीप सिंह पुरी का ट्वीट ऐसे समय में आया है जब पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों की तुलना एटीएफ की कम कीमतों से की जा रही है. विमान में इस्तेमाल होने वाला एटीएफ अब पेट्रोल-डीजल से 30% सस्ता है.

कांग्रेस ने शेयर की PM मोदी व अडानी की पुरानी तस्वीर, जानें क्या है माजरा

ट्विटर पर कांग्रेस-भाजपा में घमासान, गांधी परिवार की तस्वीर के जवाब में अडानी-पीएम मोदी की तस्वीर.

नई दिल्ली:

भाजपा और विपक्षी दल कांग्रेस के बीच पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर एक बार फिर जंग छिड़ गई है. दरअसल दोनों दलों में यह झगड़ा केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी के ट्वीट के बाद शुरू हुआ है. पुरी ने मंगलवार रात ट्विटर पर एविएशन टर्बाइन फ्यूल (एटीएफ) की कम लागत को स्पष्ट करते हुए ट्वीट्स की एक श्रृंखला में गांधी परिवार पर चुटकी ली. उन्होंने विमान में बैठे गांधी परिवार की तस्वीर शेयर करते हुए कहा, "जो लोग लग्जरी हवाई यात्रा करते हैं" उन्हें पता होना चाहिए कि कम एटीएफ लागत का क्या मतलब है. पुरी का ट्वीट ऐसे समय में आया है जब पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों की तुलना एटीएफ की कम कीमतों से की जा रही है. विमान में इस्तेमाल होने वाला एटीएफ अब पेट्रोल-डीजल से 30% सस्ता है.

npgnt7e8

केंद्रीय मंत्री पर कटाक्ष करते हुए, कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने बुधवार की सुबह विमान में बैठे गौतम अडानी और विभव कांत उपाध्याय के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक पुरानी तस्वीर शेयर कर जवाब दिया. उन्होंने तस्वीर के साथ ट्वीट किया, "मोदी जी, @HardeepSPuri जी आपके बारे में बुरी बातें कह रहे हैं."

पुरी ने ट्विटर पर तस्वीरें पोस्ट की थीं. जिनमें से एक में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को एक विमान के अंदर सोनिया गांधी और इंदिरा गांधी के साथ बैठे दिखाई दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि "जो लोग लग्जरी हवाई यात्रा करते हैं," उन्हें पता होना चाहिए कि कम एटीएफ की कीमतें उड़ान को सस्ती बनाती हैं और उड़ान योजना के माध्यम से पीएम मोदी जी के 'हवाई चप्पल वालों को हवाई जहाज से यात्रा' कराने के सपने को पूरा करती हैं."

उन्होंने यह भी बताया कि एटीएफ हमेशा उपभोक्ता ईंधन से सस्ता रहा है, और केंद्र उड़ान हवाई अड्डों पर एटीएफ पर केवल 2% केंद्रीय उत्पाद शुल्क लेता है. UDAN केंद्र सरकार की क्षेत्रीय संपर्क योजना (RCS) का हिस्सा है. यह एक हवाई अड्डा विकास कार्यक्रम है जिसका उद्देश्य हवाई यात्रा को सस्ता और अधिक व्यापक रूप से उपलब्ध कराने के लिए कम सेवा वाले हवाई मार्गों को अपग्रेड करना है.

पुरी ने कहा, "एटीएफ की कम कीमतों पर सवाल उठाने के बजाय, उन्हें कांग्रेस शासित राज्यों को ईंधन पर टैक्स और लेवी कम करने के लिए राजी करना चाहिए."


उपभोक्ता ईंधन की कीमतों में हाल के सप्ताहों में लगातार वृद्धि देखी गई है. पेट्रोल अब सभी राज्यों की राजधानियों में 100 रुपये या उससे अधिक पर है, जबकि डीजल ने एक दर्जन से अधिक राज्यों में 100 का आंकड़ा छू लिया है. दिल्ली में एटीएफ की कीमत ₹79,020.16 प्रति किलोलीटर यानि ₹79 प्रति लीटर है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यह भी पढ़ेंः