Coronavirus: फेफड़ों को नहीं शरीर के इस अंग को सबसे पहले इफेक्ट करता है Covid-19

Coronavirus Update: कोरोनावायरस से पूरी दुनिया दहशत में है. पूरे विश्व में अब तक 7 हजार से ज्यादा लोगों की मौत चुकी है. वहीं 2.5 लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं. भारत में कोरोनावायरस (Coronavirus In India) से संक्रमित लोगों की संख्या 450 के पार पहुंच चुकी है. ऐसे में देश के 80 से ज्यादा शहरों के लॉक डाउन किया गया है.

Coronavirus: फेफड़ों को नहीं शरीर के इस अंग को सबसे पहले इफेक्ट करता है Covid-19

Covid-19: कोरोनावायरस के शुरुआती लक्षणों को पहचानना है जरूरी

खास बातें

  • कोरोनावायरस से बचाव के लिए इसके लक्षणों को पहचानना जरूरी है.
  • कोरोना वायरस के लक्षणों में फेफड़ों के अलावा पाचन संबंधी परेशानी होती है!
  • एक शोध में सामने आई यह बात, कोरोनावायरस से पीड़ित लोगों पर किया गया शोध.

Coronavirus Outbreak: कोरोनावायरस से पूरी दुनिया दहशत में है. पूरे विश्व में अब तक 7 हजार से ज्यादा लोगों की मौत चुकी है. वहीं 2.5 लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं. भारत में कोरोनावायरस (Coronavirus In India) से संक्रमित लोगों की संख्या 450 के पार पहुंच चुकी है. ऐसे में देश के 80 से ज्यादा शहरों के लॉक डाउन किया गया है. Covid-19 से बचने के लिए कई तरह की सावधानियां गिनाई जा रही हैं. लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग और साफ सफाई का पालन करने के लिए कहा गया है. कोरोनावायरस के लक्षणों (Symptoms Of Coronavirus) के बारे में बताया जा रहा है कि यह फेंफड़ों को सबसे पहले प्रभावित करता है लेकिन क्या ऐसा वाकई है या फेफड़ों और सांस लेने में कठिनाई से पहले कुछ और लक्षण भी दिखाई देते हैं? द अमेरिकन जर्नल ऑफ गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी में प्रकाशित एक नए अध्ययन में सामने आया है कि जो लोग कोरोनावायरस (coronavirus) से संक्रमित हुए उन्हें वायरस से प्रभावित होने पर पहला संकेत दस्त और पाचन संबंधी समस्या का सामना करना पड़ा है.

COVID-19 के लक्षणों में आमतौर पर बुखार, खांसी, सांस न आना है, लेकिन अगर ये संक्रमण बिगड़ जाए तो आपको सीने में दर्द, निमोनिया, सांस लेने में परेशानी हो सकती है. दुनियाभर के स्वास्थ्य विशेषज्ञ कोरोनावायरस (Coronavirus) को लेकर शोध करने में लगे हुए हैं. द अमेरिकन जर्नल ऑफ गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी में प्रकाशित किए गए अध्ययन में चीन के हुबेई प्रांत में कोरोनावायरस के 204 मरीजों के डेटा का आकलन किया गया. शोधकर्ताओं ने पाया कि इस वायरस से संक्रमित होकर अस्पताल पहुंचने वाले मरीजों में 48.5 फीसदी को दस्त, उल्टी और पेट में दर्द जैसी पाचन संबंधी समस्या पाई गई थी. अध्ययन से ये सामने आया है कि कोरोना के सांस संबंधी लक्षणों से पहले व्यक्ति को पाचन संबंधी लक्षण दिखाई देते हैं. इस अध्ययन में ये पाया गया कि जिन लोगों को पाचन संबंधी लक्षण दिखाई दिए उन्हें गंभीर रूप से समस्याओं का शिकार होना पड़ा.

e2tb48noCoronavirus: पाचन को सबसे पहले प्रभावित करता है कोरोनावायरस

कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों को हुई पाचन संबंधी समस्या

अमेरिकन जर्नल ऑफ गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी के को-एडिटर इन चीन और एमडी ब्रेनन एम.आर. स्पीगल का कहना है कि कोरोना से पीड़ित मरीजों में पाचन लक्षणों की भूमिका और प्रभावों को समझने के लिए और अधिक शोध की जरूरत है. ब्रेनन शुरुआती तौर पर कोरोना का पता लगाने के प्रयास के उद्देशय से पाचन लक्षणों की जागरूकता पर एक प्रेस रिलीज भी जारी कर चुके हैं.

कैसे बचें? शरीर से बाहर कितने समय तक जिंदा रह सकता है वायरस, पाएं हर सवाल का जवाब

और खबरों के लिए क्लिक करें

Jacqueline Farnandez का फिर दिखा जुदा अंदाज, ऐसे किया योगा, तो लोगों ने कहा इतनी फ्लेक्सिबिलिटी!

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com