NDTV Khabar

‘नंद के आनंद भयो जय कन्‍हैया लाल की', जन्माष्टमी के मौके पर सजे मंदिर

Updated: Aug 30, 2021 09:51 IST

देशभर में आज जन्माष्टमी की धूम लगी हैं.कृष्ण भगवान के दर्शन करने के लिए देश के अलग-अलग राज्यों के कृष्ण मंदिरों में सुबह से ही भक्त जुट गए हैं. आइए आपको दिखाते है देश के कई कृष्ण मंदिरों की एक खास झलक.......

‘नंद के आनंद भयो जय कन्‍हैया लाल की', जन्माष्टमी के मौके पर सजे मंदिर

इस्कॉन सूरत के वालंटियर ने रातभर जन्माष्टमी की तैयारियां कीं. उनके ग्रुप के तीरथ दास ने बताया कि आधे से ज्यादा लोग यह सुनिश्चित करने के लिए घर नहीं गए कि तैयारियों से किसी भी तरह का समझौता न हो, हम 2 साल बाद त्योहार मनाने के लिए बहुत उत्सुक हैं.

‘नंद के आनंद भयो जय कन्‍हैया लाल की', जन्माष्टमी के मौके पर सजे मंदिर

वहीं, इस्कॉन मंदिर के प्रमुख बंसीधर ने बताया कि 'ठाकुर जी (कृष्ण) के लिए छप्पन भोग तैयार किया जा रहा है.'

‘नंद के आनंद भयो जय कन्‍हैया लाल की', जन्माष्टमी के मौके पर सजे मंदिर

इस्कॉन मंदिर के प्रुमख बंसीधर ने यह भी कहा कि इस साल भी कोविड प्रोटोकॉल को मद्देनजर रखते हुए मंदिर बंद रहेगा, भक्त ऑनलाइन दर्शन कर सकते हैं.

‘नंद के आनंद भयो जय कन्‍हैया लाल की', जन्माष्टमी के मौके पर सजे मंदिर

इस्कॉन मंदिर, नोएडा में जन्माष्टमी के अवसर की एक झलक....

‘नंद के आनंद भयो जय कन्‍हैया लाल की', जन्माष्टमी के मौके पर सजे मंदिर

इस बार पर्यावरण के अनुकूल व्यवस्था की है. साथ ही मंदिरों में कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने की सख्‍त व्‍यवस्‍था की गई है.

‘नंद के आनंद भयो जय कन्‍हैया लाल की', जन्माष्टमी के मौके पर सजे मंदिर

जन्‍माष्‍टमी के मौके पर मंदिरों की रौनक देखते ही बनती है.

‘नंद के आनंद भयो जय कन्‍हैया लाल की', जन्माष्टमी के मौके पर सजे मंदिर

दिल्‍ली के बिड़ला मंदिर का एक दृश्‍य.

‘नंद के आनंद भयो जय कन्‍हैया लाल की', जन्माष्टमी के मौके पर सजे मंदिर

दिल्ली के बिड़ला मंदिर में जन्माष्टमी के मौके पर श्रद्धालुओं को जाने की अनुमति नहीं दी गई है. नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी.

‘नंद के आनंद भयो जय कन्‍हैया लाल की', जन्माष्टमी के मौके पर सजे मंदिर

मथुरा के श्री कृष्ण जन्मस्थान मंदिर को जन्माष्टमी पर लाइटों से सजाया गया.

‘नंद के आनंद भयो जय कन्‍हैया लाल की', जन्माष्टमी के मौके पर सजे मंदिर

जन्‍माष्‍टमी पर मंदिरों को लाइटों और फूलों से सजाया जाता है.

Advertisement

 
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com