विज्ञापन
Story ProgressBack

सनस्क्रीन लेने से पहले इन 4 चीजों का ध्यान रखना है जरूरी, सही Sunscreen ना लेने पर धूप से झुलस जाएगी त्वचा

बाजार में अलग-अलग तरह की सनस्क्रीन मिलती हैं. लेकिन, आपके लिए कौनसी सनस्क्रीन बेहतर है और किस तरह की सनस्क्रीन खरीदनी चाहिए यह पता होना जरूरी है. 

सनस्क्रीन लेने से पहले इन 4 चीजों का ध्यान रखना है जरूरी, सही Sunscreen ना लेने पर धूप से झुलस जाएगी त्वचा
सही सनस्क्रीन खरीदना है बेहद जरूरी. 

Skin Care: सनस्क्रीन त्वचा को धूप से बचाने का काम करती है. यह त्वचा और धूप के बीच एक शील्ड बनाती है जिससे त्वचा को धूप की हानिकारक किरणों से नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता. इसके अलावा, सनस्क्रीन (Sunscreen) स्किन को समय से पहले होने वाली एजिंग से बचाती है, स्किन को बेदाग बनाती है सन टैनिंग ही नहीं बल्कि सनबर्न यानी धूप से त्वचा को झुलसने से बचाती है. ऐसे में सनस्क्रीन खरीदने में लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए. सनस्क्रीन किस टाइप की है, किस तरह की स्किन के लिए बनी है और इसका एसपीएफ (SPF) यानी सन प्रोटेक्शन फैक्टर कितना ही इसका ध्यान रखना भी जरूरी होता है. यहां जानिए सनस्क्रीन खरीदने से पहले किन बातों का ख्याल रखना जरूरी है. 

धूप से हुई टैनिंग को हटाती है यह एक सब्जी, चेहरे से हटने लगते हैं दाग-धब्बे

सनस्क्रीन खरीदने से पहले किन बातों का ध्यान रखें 

एसपीएफ कितना है - सनस्क्रीन खरीदते हुए उसके एसपीएफ यानी सन प्रोटेक्शन फैक्टर का ख्याल रखना जरूरी है. जिस सनस्क्रीन का एसपीएफ 30 तक होता है उससे 97 फीसदी यूवीबी रेज यानी सूरज की हानिकारण किरणों से सुरक्षा मिलती है और एसपीएफ 50 वाली सनस्क्रीन 98 फीसदी यूवीबी रेज को दूर रखती है. ऐसे में सनस्क्रीन आप एसपीएफ 30 या 50 वाली सनस्क्रीन ले सकते हैं. आप ऐसी सनस्क्रीन भी चुन सकते हैं जो यूवीए और यूवीबी दोनों तरह की किरणों से प्रोटेक्शन देती हैं. 

वॉटर रेजिस्टेंट - सनस्क्रीन वॉटर रेजिस्टेंट है या नहीं यह जानना भी बेहद जरूरी है. अगर सनस्क्रीन वॉटर रेजिस्टेंट नहीं होगी तो धूप में पसीने के साथ बहने लगेगी. इसीलिए सनस्क्रीन का वॉटर रेजिस्टेंट होना यानी पानी को दूर रखने की क्षमता रखना जरूरी है. 

बढ़े हुए यूरिक एसिड को कम करती हैं खानपान की ये 5 चीजें, गाउट की दिक्कत से भी मिलता है छुटकारा

स्किन टाइप - अपनी स्किन टाइप (Skin Type) के अनुसार सनस्क्रीन ना खरीदी जाए तो सनस्क्रीन चेहरे पर जरूरत से ज्यादा ऑयली नजर आ सकती है या इससे त्वचा ड्राई हो सकती है. साथ ही, त्वचा सेंसिटिव हो तो सनस्क्रीन के इंग्रीडिएंट्स को ध्यान में रखने की जरूरत होती है. आमतौर पर सनस्क्रीन के ऊपर उसका टाइप लिखा होता है कि वो किस तरह की स्किन टाइप के लिए अच्छी है. ऐसे में अपनी त्वचा के हिसाब से ही सनस्क्रीन खरीदें जिससे स्किन धूप से तो बचे ही, साथ ही ग्लोइंग दिखाई दे. 

स्प्रे या स्टिक से बेहतर क्रीम - दिनभर में कई बार सनस्क्रीन लगाने की जरूरत होती है जिसके लिए स्टिक या स्प्रे का इस्तेमाल आसान होता है. लेकिन, जब सुबह पहली बार सनक्रीन लगाई जा रही हो तो क्रीम का इस्तेमाल करना फायदेमंद होता है. इससे बिना कोई स्पॉट छूटे सनसक्रीन पूरे चेहरे पर अच्छे से लग जाती है जोकि स्प्रे या स्टिक से करना मुश्किल होता है. 

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

एक दिन में 28 गानों की रिकोर्डिंग कर इस सिंगर ने बनाया था वर्ल्ड रिकॉर्ड | Bollywood Gold

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बच्चों की इन 4 हरकतों से परेशान हैं तो छोड़ दीजिए टेंशन लेना, इंटेलिजेंट की निशानी हो सकती हैं ये आदतें
सनस्क्रीन लेने से पहले इन 4 चीजों का ध्यान रखना है जरूरी, सही Sunscreen ना लेने पर धूप से झुलस जाएगी त्वचा
Stress Remedies: बहुत ज्यादा हो रहा है तनाव तो ये पांच तरीके हैं फायदेमंद, कम हो जाएगा कॉर्टिसोल लेवल
Next Article
Stress Remedies: बहुत ज्यादा हो रहा है तनाव तो ये पांच तरीके हैं फायदेमंद, कम हो जाएगा कॉर्टिसोल लेवल
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;