UP TET EXAM 2021 : यूपीटीईटी पेपर लीक में सरगना समेत 29 गिरफ्तार, मेरठ से गोरखपुर तक फैला था जाल

UPTET paper leak में पुलिस के हत्थे चढ़े कुछ आरोपी बिहार के निवासी हैं. तीन आरोपियों ने प्रश्न पत्र की 10 प्रतियां 5 लाख रुपये में खरीदी थीं. जबकि 50-60 उम्मीदवारों में से प्रत्येक से 50,000 रुपये लिए गए थे.

UP TET EXAM 2021 : यूपीटीईटी पेपर लीक में सरगना समेत 29 गिरफ्तार, मेरठ से गोरखपुर तक फैला था जाल

यूपीटीईटी एग्जाम को पेपर लीक होने के बाद कैंसल कर दिया गया था.

लखनऊ/प्रयागराज:

यूपी में रविवार को होने वाली यूपीटीईटी परीक्षा के पेपर लीक (UPTET paper leak ) के मामले में उत्तर पुलिस ने कड़ी कार्रवाई की है. उसने पेपर लीक करने वाले गिरोह के 29 सदस्यों को कई जिलों से गिरफ्तार किया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहले ही प्रश्नपत्र लीक करने के आरोपियों पर रासुका लगाने का निर्देश दिया है. यूपी सरकार ने कहा कि व्हाट्सऐप पर पेपर लीक केस में 29 लोगों को पकड़ा गया है. उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (uptet) के पेपर लीक होने को लेकर सरकार को अभ्यर्थियों की नाराजगी और विपक्षी दलों की ओर से आलोचना झेलनी पड़ी है.

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने इसकी जानकारी दी. परीक्षा (UPTET Exam 2021) में गड़बड़ी रोकने के तहत नकल माफिया और सॉल्वर गैंग पर नजर रखने के लिए जाल बिछाया गया था. मुखबिर और खुफिया सूचना के आधार पर शनिवार रात से केस में 26 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. कुमार ने कहा एसटीएफ ने मेरठ से तीन लोगों को, वाराणसी और गोरखपुर से दो लोगों को, कौशांबी से एक और प्रयागराज से 16 लोगों को गिरफ्तार किया है. कुछ और लोगों को गिरफ्तार किया जा सकता है. अयोध्या और अंबेडकर नगर जिले से भी 1-1 व्यक्ति को पकड़ा गया है.

पुलिस के हत्थे चढ़े कुछ आरोपी बिहार के निवासी हैं. तीन आरोपियों ने प्रश्न पत्र की 10 प्रतियां 5 लाख रुपये में खरीदी थीं. जबकि 50-60 उम्मीदवारों में से प्रत्येक से 50,000 रुपये लिए गए थे. गिरोह के बाकी सदस्यों की तलाश की जा रही है. एसटीएफ की प्रयागराज यूनिट के डीएसपी नवेंदु कुमार ने कहा कि गिरोह के सरगना समेत 16 सदस्यों को विभिन्न थाना क्षेत्रों से रविवार को गिरफ्तार किया गया है. नैनी थाना क्षेत्र से इस गिरोह के मुख्य सरगना राजेंद्र पटेल, निवासी रानीगंज, प्रतापगढ़ सहित सन्नी सिंह, टिंकू कुमार, नीरज शुक्ला, शीतल कुमार, धनंजय कुमार, कुनैन राजा और शिवदयाल को गिरफ्तार किया गया।


इसके अलावा, झूंसी थाना क्षेत्र के अंतर्गत अनुराग, अभिषेक सिंह और सत्य प्रकाश सिंह को गिरफ्तार किया गया। सत्य प्रकाश के मोबाइल फोन में व्हाट्सएप में हल किया गया प्रश्न पत्र पाया गया है. सत्य प्रकाश प्राथमिक विद्यालय, करिया खुर्द, शंकरगढ़ में सहायक अध्यापक के पद पर कार्यरत है. नैनी थाना क्षेत्र से आठ लोगों, झूंसी थाना क्षेत्र से तीन लोगों और जॉर्ज टाउन थाना क्षेत्र से पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है. जॉर्ज टाउन थाना क्षेत्र से चतुर्भुज सिंह, संजय सिंह, अजय कुमार, ब्रह्मा शंकर सिंह और सुनील कुमार सिंह को गिरफ्तार किया गया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि रविवार सुबह लखनऊ में अपर मुख्‍य सचिव, बेसिक शिक्षा दीपक कुमार और एडीजी (कानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने रविवार को पत्रकारों को प्रश्नपत्र लीक होने और परीक्षा निरस्त होने की जानकारी दी थी.  उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा-2021 (यूपी टीईटी-2021) की परीक्षाएं रविवार को दो पालियों में (10 से 12.30 बजे और 2.30 से 5 बजे तक) राज्‍य के सभी 75 जिलों के 2,736 परीक्षा केंद्रों पर होनी थी. इसमें 19 लाख 99 हजार 418 परीक्षार्थी शामिल होने वाले थे.