हाथरस : यौन शोषण केस में जमानत पर चल रहे आरोपी ने पीड़िता के पिता की गोली मारकर की हत्या

आरोपी गौरव शर्मा को 2018 में एक यौन शोषण केस में एक महीने की जेल की सजा हुई थी. पीड़िता के पिता ने उसके खिलाफ पुलिस में केस दर्ज कराया था. सोमवार को गांव में आरोपी और पीड़िता के परिवार के बीच किसी बात को लेकर झड़प हो गई, जिसके बाद गोली चलाई गई.

हाथरस : यौन शोषण केस में जमानत पर चल रहे आरोपी ने पीड़िता के पिता की गोली मारकर की हत्या

हाथरस में जमानत पर चल रहे आरोपी ने पीड़िता के पिता की हत्या की.

हाथरस:

उत्तर प्रदेश के हाथरस में एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है. यहां पर साल 2018 में यौन शोषण के आरोप में जेल जा चुके और अभी जमानत पर बाहर चल रहे आरोपी ने पीड़िता के पिता की सोमवार को कथित रूप से गोली मारकर हत्या कर दी और इस तरह दिल्ली से लगभग 200 किलोमीटर दूर यूपी का यह जिला एक बार फिर चर्चा में आ गया है.

हाथरस पुलिस ने बताया कि आरोपी गौरव शर्मा को 2018 में एक यौन शोषण केस में एक महीने की जेल की सजा हुई थी. पीड़िता के पिता ने उसके खिलाफ पुलिस में केस दर्ज कराया था. सोमवार को गांव में एक मंदिर के बाहर शाम साढ़े 4 बजे के आसपास आरोपी और पीड़िता के परिवार के बीच किसी बात को लेकर झड़प हो गई, जिसके बाद गोली चलाई गई. पीड़िता के पिता की अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में ही मौत हो गई.

गौरव शर्मा को एक महीने जेल में रहने के बाद एक स्थानीय कोर्ट ने जमानत दे दी थी, जिसके बाद तबसे वो बाहर था.

यह भी पढ़ें : यूपी: युवती को अगवा करके गैंगरेप, पुलिस ने एनकाउंटर के बाद तीन दरिंदों को किया अरेस्ट 

हाथरस के पुलिस चीफ विनीत जायसवाल ने ट्विटर पर एक वीडियो स्टेटमेंट में बताया कि 'मृतक ने आरोपी के खिलाफ यौन शोषण के आरोप में जुलाई, 2018 में केस फाइल कराया था. आरोपी जेल गया और एक महीने बाद जमानत पर छूट गया. दोनों परिवारों में तनाव था. आरोपी की पत्नी और चाची दोनों गांव के मंदिर पूजा के लिए आई थीं. वहां पहले से ही पीड़िता और उसकी बहन मौजूद थीं. महिलाओं के बीच में यहां किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया. इसके बाद आरोपी और पीड़िता का पिता भी झगड़े में शामिल हो गए और झगड़ा बढ़ गया. इसके बाद आरोपी गुस्से में गया और अपने परिवार के कुछ दूसरे लड़कों को बुला लाया और पीड़िता के पिता पर गोली चला दी.'

सोमवार को पीड़िता एक पुलिस स्टेशन के बाहर रोती और न्याय मांगती हुई दिखी थी. उसने कहा कि 'मुझे इंसाफ दो. पहले उसने मेरे साथ छेड़खानी की और अब मेरे पिता को गोली मार दिया. वो हमारे गांव आया था. उसके साथ छह-सात लोग थे. मेरे पिता की किसी के साथ कोई दुश्मनी नहीं थी. उसका नाम गौरव शर्मा है.'


इस मामले में पुलिस ने अभी तक गौरव शर्मा के परिवार के एक सदस्य को गिरफ्तार किया है. 

कानून की बात: सुप्रीम कोर्ट ने बलात्कार के केस में क्यों की ऐसी टिप्पणी?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com