सीरम इंस्टीट्यूट, भारत बायोटेक ने किया 'सहज' तरीके से वैक्सीनेशन शुरू करने का वादा, कहा - जीवन बचाना ज़्यादा ज़रूरी

सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक ने मंगलवार को एक बयान जारी कर 'सहज' तरीके से वैक्सीनेशन शुरू करने का वादा किया है. उनका कहना है कि जीवन बचाना ज़्यादा ज़रूरी है.

सीरम इंस्टीट्यूट, भारत बायोटेक ने किया 'सहज' तरीके से वैक्सीनेशन शुरू करने का वादा, कहा - जीवन बचाना ज़्यादा ज़रूरी

नई दिल्ली:

Covid-19 Vaccine : भारत में कोविड-19 के खिलाफ बनाई गई अपनी-अपनी वैक्सीन के इमरजेंसी यूज़ की अनुमति पा लेने के बाद सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक ने 'सहज' तरीके से वैक्सीनेशन शुरू करने का वादा किया है. दोनों कंपनियों ने कहा है कि उनके लिए लोगों का जीवन बचाना ज़्यादा ज़रूरी है. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और भारत बायोटेक की ओर से मंगलवार को एक बयान जारी कर यह कहा गया है. दोनों कंपनियों को रविवार को ड्रग कंट्रोलर ऑफ इंडिया की ओर से वैक्सीन के इमरजेंसी यूज़ की अनुमति मिली थी.

बयान में कहा गया, 'अब जब भारत में दो कोविड-19 वैक्सीन को EUA (emergency use authorization) मिल चुका है, हमारा फोकस इसके निर्माण, वैक्सीन, और बंटवारे पर है. सप्लाई और बंटवारा इस प्राथमिकता के साथ कि इसकी सबसे ज्यादा जरूरत है, उसे प्रभावी और सुरक्षित वैक्सीन मिल सके.'

वैक्सीन निर्माताओं ने कहा, 'हमारी दोनों कंपनियां इस काम में लगी हुई हैं और देश के साथ-साथ इसे दुनिया के प्रति भी अपनी जिम्मेदारी समझती है कि वैक्सीन का जल्द से जल्द सहज वैक्सीनेशन शुरू हो जाए. हमारी कंपनियां कोविड-19 वैक्सीन के विकसित करने की प्रक्रिया पर योजना के हिसाब से काम जारी रख रही हैं.'

Video: भारत बायोटेक या सीरम इंस्टीट्यूट : किसकी वैक्सीन है बेहतर?


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com