केरल में छात्रों को स्कूलों में ही लगाया जाएगा कोरोना का टीका, 19 जनवरी से होगी शुरुआत

Corona news: केरल शिक्षा विभाग (Kerala Government) के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक के बाद मंत्री ने कहा कि स्कूलों में टीकाकरण अभियान चलाए जाने से संबंधित सभी तैयारियां कर ली गई हैं.

केरल में छात्रों को स्कूलों में ही लगाया जाएगा कोरोना का टीका, 19 जनवरी से होगी शुरुआत

स्कूलों को 19 जनवरी से टीकाकरण केंद्र में तब्दील किया जाएगा

तिरुवनंतपुरम:

केरल के शिक्षा मंत्री वी सिवनकुट्टी ने सोमवार को कहा कि 500 छात्रों से अधिक संख्या वाले स्कूलों को 19 जनवरी से कोविड-रोधी टीकाकरण केंद्र में तब्दील किया जाएगा और इनमें पढ़ने वाले 15-18 आयुवर्ग के छात्रों को टीके की खुराक दी जाएगी. केरल शिक्षा विभाग (Kerala Government) के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक के बाद मंत्री ने कहा कि स्कूलों में टीकाकरण अभियान चलाए जाने से संबंधित सभी तैयारियां कर ली गई हैं. उन्होंने कहा कि केरल में 8.14 लाख छात्र टीकाकरण के पात्र हैं, जिनमें से आधे से अधिक को पहले ही टीके की खुराक दी जा चुकी है.

सिवनकुट्टी ने संवाददाताओं से कहा कि शिक्षा विभाग टीकाकरण की सुविधा का प्रबंध करेगा. उन्होंने कहा कि 500 छात्रों से कम संख्या वाले स्कूल पात्र लाभार्थियों को करीबी टीकाकरण केंद्र में जाकर टीका लगवाने की अपील करेंगे.

ये भी पढ़ें-  केरल नन रेप केस के आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल को बरी किया गया

बता दें कि देश में 15-18 आयुवर्ग के किशोरों के लिए तीन जनवरी से टीकाकरण अभियान शुरू किया गया है. कई सारे राज्यों में स्कूलों में ही टीकाकरण केंद्र बनाया गया है. ताकि बच्चे आसानी से जाकर कोरोना की वैक्सीन लगा सकें. 

देश में 15-18 वर्ष के आयु वर्ग में अनुमानित 7.4 करोड़ (7,40,57,000) आबादी में से 3.45 करोड़ से अधिक को अब तक कोवैक्सीन की पहली खुराक दी जा चुकी है और उन्हें 28 दिनों में दूसरी खुराक दी जानी है. वहीं टीकाकरण संबंधी राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (NTAGI) के कोविड-19 कार्यसमूह के अध्यक्ष डॉ एन. के. अरोड़ा के अनुसार भारत में मार्च में 12-14 आयु वर्ग के बच्चों का कोविड टीकाकरण भी शुरू हो सकता है. 

तेजी से बढ़ रहें है केस (Corona News)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


भारत में कोरोना के नए मामलों में काफी तेजी आई है. भारत में पिछले कुछ दिनों से लगातार 2.5 लाख से ज्यादा कोरोना केस दर्ज किए जा रहे हैं.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)