शौचालय में रहने को मजबूर महिला की मदद के लिए पहुंचीं अक्षरा सिंह, आर्थिक मदद भी की

अक्षरा सिंह (Akshara Singh) शनिवार को नालंदा जिले के करायपरशुराय प्रखंड में दिरीपर गांव गईं, जहां उन्होंने उस महिला की मदद की, जिसे शौचालय में रहने को मजबूर किया गया.

शौचालय में रहने को मजबूर महिला की मदद के लिए पहुंचीं अक्षरा सिंह, आर्थिक मदद भी की

अक्षरा सिंह (Akshara Singh)

नई दिल्ली:

भोजपुरी एक्ट्रेस अक्षरा सिंह (Akshara Singh) शनिवार को नालंदा जिले के करायपरशुराय प्रखंड में दिरीपर गांव गईं, जहां एक वृद्ध महिला कौशल्या देवी और उनकी 8 वर्षीय पोती धर्मशीला कुमार शौचालय में रहने को मजबूर हैं. अक्षरा सिंह (Akshara Singh) ने वहां जाकर हालात का जायजा लिया और फिर उन्हें आर्थिक मदद दी. अक्षरा ने वृद्ध महिला के इस हाल को दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि यह घटना रोंगटे खड़े कर देने जैसा है. मैं शॉक्ड हूं कि इस बूढ़ी मां के पास रहने को घर नहीं.

अक्षरा सिंह (Akshara Singh) ने कहा कि मुझे इस बूढ़ी मां के बारे में जानकारी सोशल मीडिया के जरिये मिली. यह जानकर बेहद दुख हुआ कि एक बूढ़ी मां के पास घर नहीं है और वह इतनी गरीब है कि उनके पास सर छिपाने को छत नहीं है न ही उनके बुढ़ापे का कोई सहारा है. बस वे बिना मां बाप की 8 वर्षीय पोती के साथ रहने को मजबूर है. आज मैं यहां आकर उनकी मदद की और जरूरत पड़ी तो आगे भी मदद करूंगी. साथ ही मैं लोगों से अपील करूंगी कि वे भी ऐसे जरूरतमंद लोगों की मदद को आगे आएं.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि भोजपुरी फिल्म जगत और म्यूजिक इंडस्ट्री में अक्षरा सिंह (Akshara Singh) किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं. वहीं वे निजी जीवन में बेहद संवेदनशील और सामाजिक मूल्यों के साथ जीने वाली इंसान है. यही वजह है कि समय-समय पर वे अपनी सोशल कर्तव्य का निर्वहन करती रहती हैं. इसी क्रम में आज उन्होंने नालन्दा की इस बूढ़ी माता की आर्थिक मदद की.