NDTV Khabar

COVID-19 टीकाकरण कल से, जानें किस-किस को मिलेगी वैक्सीन

Updated: Jan 15, 2021 14:55 IST

भारत में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू होने जा रहा है. देशव्यापी कोविड टीकाकरण अभियान कल (16 जनवरी) से शुरू होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक वीडियो-कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुबह 10.30 बजे कोविड टीकाकरण अभियान शुरू करेंगे. यहां आप तस्वीरों में देख सकते हैं किस तरह पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ़ इंडिया की वैक्सीन 'कोविशील्ड' को टीकाकरण अभियान से पहले स्टोर किया गया है.

COVID-19 टीकाकरण कल से, जानें किस-किस को मिलेगी वैक्सीन

कितनी टीकाकरण केंद्र हैं: COVID टीकाकरण अभियान 3,006 केंद्रों के साथ शुरू होगा, जो वीकेंड पर लॉन्च के दौरान अभियान से जुड़े रहेंगे. सरकार ने यह भी कहा है कि जैसे-जैसे कार्यक्रम आगे बढ़ेगा, केंद्र की संख्या 5,000 और उससे अधिक हो जाएगी.

COVID-19 टीकाकरण कल से, जानें किस-किस को मिलेगी वैक्सीन

किस-किस को लगेगा टीका: भारत के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान में से एक में पहले दिन तीन लाख स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीका लगाया जाएगा.

COVID-19 टीकाकरण कल से, जानें किस-किस को मिलेगी वैक्सीन

टीकों का वितरण: कोविन ऐप और राज्यों द्वारा केंद्र सरकार को सौंपे गए स्वास्थ्य सेवा कर्मियों के आंकड़ों के आधार पर वितरण हुआ है. स्वास्थ्य मंत्रालय वैक्सीन की वास्तविक समय की जानकारी, भंडारण तापमान और टीके प्राप्तकर्ताओं को ट्रैक करने की सुविधा भी प्रदान करता है.

COVID-19 टीकाकरण कल से, जानें किस-किस को मिलेगी वैक्सीन

इन प्राथमिक वैक्सीन स्टोरों से, वैक्सीन को 37 राज्य में ले जाई जाएगी. जहां प्रत्येक राज्य में न्यूनतम एक केंद्र होगा. लेकिन उत्तर प्रदेश जैसे कुछ बड़े राज्य हैं जिनके नौ केंद्र हैं. राज्य के वैक्सीन स्टोर से इन टीकों को जिला वैक्सीन स्टोर में भेजा जाएगा. जिला भंडारों से वैक्सीन को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में भेजा जाएगा, जहां वैक्सीन वितरित की जाएगी. इन प्राथमिक वैक्सीन स्टोरों से, वैक्सीन को 37 राज्य में ले जाई जाएगी. जहां प्रत्येक राज्य में न्यूनतम एक केंद्र होगा. लेकिन उत्तर प्रदेश जैसे कुछ बड़े राज्य हैं जिनके नौ केंद्र हैं. राज्य के वैक्सीन स्टोर से इन टीकों को जिला वैक्सीन स्टोर में भेजा जाएगा. जिला भंडारों से वैक्सीन को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में भेजा जाएगा, जहां वैक्सीन वितरित की जाएगी.

COVID-19 टीकाकरण कल से, जानें किस-किस को मिलेगी वैक्सीन

टीके के परिवहन के लिए किन एसओपी का पालन होगा: टीके सशस्त्र गार्ड के अधीन रखे जाएंगे. जबकि, विभिन्न प्राधिकरणों द्वारा परिवहन में अलग-अलग SOP का पालन किया जा रहा है. उदाहरण के लिए, भारत के नागरिक उड्डयन नियामक, नागर विमानन महानिदेशालय (DGCA) के पास स्वयं के व्यापक दिशानिर्देश हैं कि टीके का परिवहन जहाज पर कैसे होने वाला है. दिशानिर्देशों के अनुसार, टीकों को -8 डिग्री सेल्सियस से -70 डिग्री सेल्सियस तक के तापमान के साथ ड्राई बर्फ पर ले जाया जाएगा. जबकि, वैक्सीन ले जाने वाले ट्रकों के लिए, एसओपी में शामिल हैं - ट्रकों में ट्रैकर या जीपीएस सिस्टम सक्षम होगा, उनके पास तापमान नियंत्रित तंत्र भी होगा. वैक्सीन ले जाने वाले ट्रकों के परिवहन को ट्रैक करने के लिए हर बार ट्रक का दरवाजा खुलने पर अलार्म भी बजेगा.

Advertisement

 
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com