इस मसाले से Diabetes के मरीज को मिलता है फायदा, आसानी से मिल जाता है किचन में

Home remedy in diabetes : हमारे किचन में कई ऐसे औषधि मसाले मौजूद होते हैं, जो हमारे शुगर लेवल को मेंटेन रखने में मददगार साबित होते हैं. जिसमें से एक का इस्तेमाल रोजाना खाने में किया जाता है. तो आइए जानते हैं डायबिटिक पेशेंट उसको कैसे करें सेवन.

इस मसाले से Diabetes के मरीज को मिलता है फायदा, आसानी से मिल जाता है किचन में

Spice in diabetes : रोजाना खाने में इस्तेमाल होने वाला मसाला डायबिटीज में होता है लाभकारी.

खास बातें

  • दूध में हल्दी और काली मिर्च मिलाकर पीते हैं तो आपका ब्लड शुगर लेवल कंट्रो
  • पीली हल्दी रक्तस्राव को रोकने में मदद करती है.
  • हल्दी संक्रमण से बचाने में कारगर होती है.

Turmeric benefits: डायबिटीज के मरीज को अपना ब्लड शुगर (blood sugar) मेंटेन करना बहुत जरूरी होता है. इसलिए उनके खान-पान का विशेष ख्याल रखा जाता है ताकि शर्करा खून में ना बहुत घटे ना बढ़ बल्कि सामान्य बनी रहे. शुगर के मरीज को दवाईयां रेग्युलर लेनी पड़ती है जरा सी भी लापरवाही उनके सेहत पर भारी पड़ती है. ऐसे में वह दवाओं के साथ-साथ अपने खान पान में हल्दी को शामिल करते हैं तो उनके लिए फायदेमंद साबित होगा. यह किचन में मौजूद ऐसा मसाला है जो भारतीय खाने में रोजाना इस्तेमाल किया जाता है. तो आइए जानते हैं यह डायबिटिक पेशेंट (diet in diabetes) इसको किस तरीके से डाइट का बनाएं हिस्सा.

डायबिटीज रोगियों के लिए हल्दी के फायदे | Turmeric benefits for diabetic patient

pq2qq08g

ब्लड शुगर बढ़ने का कारण हाई कोलेस्ट्रॉल (turmeric in cholesterol) भी होता है. ऐसे में हल्दी के एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण इसे कंट्रोल करने में मदद करेंगे. इसे खाने से माइग्रेन की समस्या से भी राहत मिलती है. इसका सेवन पानी में मिलाकर कर सकती हैं. डायबिटीज के मरीज हल्दी को दूध में मिलाकर भी पी सकते हैं यह भी उनके लिए सेहतमंद साबित होगा.

- हल्दी के एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण संक्रमण से बचाने में बहुत कारगर होती है. यह शरीर में होने वाली किसी भी सूजन को ठीक करने में सहायक होती है. हल्दी पाचन तंत्र को भी मजबूत बनाने का काम करती है. यह पेचिश , कब्ज, पेट में ऐंठन जैसी परेशानियों में रामबाण है. सर्दी जुकाम में हल्दी वाला दूध भी बहुत काम आता है. हल्दी में एक मजबूत एंटीऑक्सीडेंट होता है जो कई स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज में मदद करता है.

यूरिक एसिड बढ़ी हुई है, तो आप रोजाना हल्दी दूध का सेवन करें इससे रक्तचाप की गति नियंत्रित रहती है और पाचन तंत्र भी मजबूत बना रहता है. अगर डायबिटीज के मरीज रोजाना दूध में हल्दी और काली मिर्च (Black pepper) मिलाकर नाश्ते के वक्त पीते हैं तो आपका ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहेगा.

-पीली हल्दी रक्तस्राव को रोकने में मदद करती है. इसको चोट और मोच में लेप की तरह लगाया जाता है. इसके अलावा जोड़ों के दर्द से भी राहत देती है. आपको बता दें कि हल्दी को एक औषधीय जड़ी बूटी के रूप में मान्यता प्राप्त है.  इसमें विभिन्न जैव सक्रिय यौगिकों का मिश्रण मिलता है, जो शरीर के समग्र स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है.


 

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Sun Tanning को इन घरेलू नुस्खों से भगाएं दूर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com