धनतेरस पर उठी Vocal For Local की मांग, इन शहरों में तैयारियां जोरों पर

भारत के सबसे प्रमुख त्योहार में से एक दीवाली को लेकर भारत के हर कोने में तैयारियां शुरु हो गई है. धनतेरस हो या आगामी दीवाली इस मौके को और खास बनाते हुए लोग सोशल मीडिया 'कू' (Koo App) पर तैयारियों, सजावट व खरीददारी की तस्वीरों को शेयर कर रहे हैं.

धनतेरस पर उठी Vocal For Local की मांग,  इन शहरों में तैयारियां जोरों पर

इन शहरों में दीवाली की तैयारियां जोरों पर, धनतेरस की बढ़ी रौनक

नई दिल्ली:

भारत अनेकों त्योहारों का देश है, जहां अलग-अलग हिस्सों में त्योहार के कई रंग देखने को मिलते हैं. आज (मंगलवार) धनतेरस पर भी कुछ ऐसी ही चमक देखने को मिल रही है. धनतेरस के मौके पर बाज़ारों में पहले से ही खरीददारी शुरू हो चुकी है. इस बार वोकल फॉर लोकल (Vocal For Local) को मद्देनज़र रखते हुए लोग अपने आसपास के इलाकों से देसी समान की खरीदारी कर रहे हैं. वहीं, आगामी त्योहार जैसे दीवाली को लेकर भी जोरो-शोरो से तैयारियां चल रही हैं. देशभर में दीवाली की तैयारियों की होड़ लगी है. फेस्टिव सीजन में हर प्रदेश हर शहर में त्योहारों की चमक देखते ही बनती है. यहीं हाल इंदौर, पटना, जयपुर, चंडीगढ़ और अहमदाबाद का भी है, जहां धनतेरस से लेकर दीवाली तक तैयारियों के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जा रही है.

'कू' पर Vocal For Local का सपोर्ट

भारत के सबसे प्रमुख त्योहार में से एक दीवाली को लेकर भारत के हर कोने में तैयारियां शुरु हो गई है. रोशनी का त्योहार दीवाली का आगाज हो चुका है. दिवाली ही ऐसा मौका होता है, जब हम अपने आसपास जितनी ज्यादा हो सके लाइटिंग, दीयों का इस्तेमाल कर किसी भी जगह की खूबसूरती में चार चांद लगा देते हैं. सिर्फ इतना ही नहीं घर की सफाई से लेकर, घर को सजाने तक हर चीज का खास ख्याल रखा जाता है. फेस्टिव सीजन में इस बार सबसे ज्यादा अट्रैक्टिव दीए, कैंडल, लाइट, सजावट के लिए लोग स्वदेश निर्मित चीजों की मांग कर रहे हैं. वहीं, त्योहार की खरीददारी के लिए बाजारों में भारी भीड़ देखी जा रही है. धनतेरस हो या आगामी दीवाली इस मौके को और खास बनाते हुए लोग सोशल मीडिया 'कू' (Koo App) पर तैयारियों, सजावट व खरीददारी की तस्वीरों को शेयर कर रहे हैं.

Koo पर बढ़ी वोकल फॉर लोकल की मांग 

आज (मंगलवार) से पंच दीपोत्सव की शुरुआत हो चुकी है. ऐसे में धनतेरस पर खरीदारी से बाजारों में लक्ष्मी की बरसात हो रही है. ग्राहकों के इंतजार में बर्तन, इलेक्ट्रॉनिक, सराफा और सजावटी सामान का बाजार पहले से ही सजा और तैयार था, जहां अब तांता लगा हुआ है. वहीं, परंपरा निभाने के लिए जमकर खरीदारी जारी है. इस बार व्यापारियों ने रंग-बिरंगे गुब्बारे, झूमर और रंगीन लाइटें लगाकर दुकानों को आकर्षक बना दिया है, जिसकी झलकियां आपको सोशल मीडिया पर देखने को मिल जायेगी. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत पिछले साल सरकार ने वोकल फॉर लोकल (Vocal For Local) का नारा दिया था, जिसके बाद से अब दीवाली के खास मौके पर वोकल फॉर लोकल की मांग बढ़ गई है, जिसे लेकर सोशल मीडिया पर यूजर्स हैशटैग के साथ खूब 'कू' (Koo App) कर रहे हैं. इस ट्रेंड के जरिए यूजर्स देसी सामान अपनाने की भी अपील कर रहे हैं. बता दें कि वोकल फॉर लोकल (Vocal For Local) की मांग देसी माइक्रोब्लॉगिंग साइट कू (Koo App) पर सबसे ज्यादा हो रही है.

दीवाली से पहले इन शहरों की तैयारियां की देखें झलक

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दिवाली (Diwali) के दिन लक्ष्मी पूजन (Lakshmi Puja) की परंपरा है. धार्मिक मान्यता के अनुसार, दिवाली के दिन धन की देवी मां लक्ष्मी का विधि-विधान से शुभ मुहूर्त में पूजन करने पर साल भर मां की कृपा बनी रहती है. इस साल 4 नवंबर को दिवाली मनाई जाएगी. दिवाली के त्योहार का कितना महत्व है, इसका इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि इसे लेकर तैयारियां कई दिनों पहले से होने लगती है. घरों की साफ-सफाई, रंग-रोगन कर मां लक्ष्मी के आगमन की प्रतीक्षा की जाती है. इन दिनों बाजारों में खूब रौनक देखने को मिलती है.