Benefits of Mint : पुदीने के पत्ते बस ऐसे खाना कर दें शुरू, फिर देखिए Acidity और वजन कैसे होता है कम

mint benefits for skin : मिनरल्स के साथ ही पुदीना विटामिन-सी का भी बेहतरीन सोर्स है. आयुर्वेद के अनुसार पुदीने को वायु नाशक जड़ी-बूटी माना जाता है. पुदीने से वजन तो कम होता ही साथ ही सीने में जलन, मितली और एसिडिटी में भी राहत मिलती है.

Benefits of Mint : पुदीने के पत्ते बस ऐसे खाना कर दें शुरू, फिर देखिए Acidity और वजन कैसे होता है कम

mint for weight loss : पुदीने के पत्ते इस तरह खाएंगे तो इतने मिलेंगे लाभ.

mint for summer : आम का पना हो या चटनी, पुलाव हो या कोई सब्जी हर फूड का स्वाद बढ़ाने के साथ ही पुदीना एक औषधि के रूप में भी उपयोग होता है. गर्मी से बचाने के लिए पुदीना रामबाण की तरह काम करता है. मिनरल्स के साथ ही पुदीना विटामिन-सी का भी बेहतरीन सोर्स है. आयुर्वेद के अनुसार पुदीने को वायु नाशक जड़ी-बूटी माना जाता है. पुदीने से सीने में जलन, मितली और एसिडिटी में भी राहत मिलती है. पुदीने के पत्ते के सेवन से सेहत को कई सारे लाभ होते हैं, आइए इनके बारे में जान लें.

पुदीने के पत्ते के ये मिलेंगे लाभ | health benefits of mint



पाचन तंत्र को बनाता है मजबूत


पुदीने में एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, ऐसे में ये पाचन क्रिया को बेहतर बनाता है. डाइजेशन संबंधी समस्या को दूर करने के लिए पुदीना काफी फायदेमंद साबित होता है. एसिडिटी की समस्या हो तो एक कप गुनगुने पानी में आधा छोटा चम्मच पुदीना का रस मिलाकर पी लें.


सर्दी जुकाम में लाभकारी


नाक बंद हो तो पुदीने के पत्ते को सूंघने से लाभ होता है. गले में खराश हो रही हो तो पुदीने का काढ़ा बना कर पीने से आराम महसूस होता है. काढ़ा बनाने के लिए एक कप पानी में 10-12 पुदीने के पत्ते डालकर इसे तब तक उबालें जब तक कि ये आधा न हो जाए. अब इस पानी को छान कर थोड़ी सी शहद मिलाकर पी लें.

सिरदर्द में आराम


पुदीने के बेस वाले बाम या पुदीना का तेल लगाने से सिरदर्द में आराम मिलता है.

ओरल केयर


पुदीना में रोगाणुनाशक गुण होते हैं, इसके पत्तों को चबाने से सांस से आने वाली बदबू दूर हो जाती है. इसके साथ ही ये मुंह के कीटाणुओं को भी मारता है और ओवरऑल ओरल हेल्थ का ख्याल रखता है.

वजन कम करने में मददगार


पुदीना में कैलोरी काफी कम होते हैं, इसका सेवन करते हैं तो आप एक्स्ट्रा कैलोरी लेने से बच पाते हैं. स्ट्रेस की वजह से भी वजन कई बार बढ़ जाता है, पुदीने के पत्तों में ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस कम करने के गुण होते हैं.

पुदीने से पाए निखार


पुदीना स्किन सेल्स को नई उर्जा देता हैं, इसलिए तो कई सारे ब्यूटी प्रोडक्ट्स में पुदीने का इस्तेमाल होता है. इससे त्वचा की नमी भी बरकरार रहती है. एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल गुणों की वजह ये स्किन की अशुद्धता को दूर करने में भी ये मददगार होता है.

जी मिचलाने पर खाएं पुदीना


जी मिचलाने या उल्दी होने पर पुदीना का सेवन काफी फायदेमंद होता है. ये माउथ फ्रेशनर की तरह भी यूज किया जाता है. जी मिचलाने पर आप पुदीने के पत्तों को चबाकर खाएं तो राहत मिलेगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.