NDTV से बोले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, 'कोरोना वायरस प्राकृतिक नहीं, लैब में तैयार हुआ'

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कोरोना वायरस को लेकर बड़ा बयान देते हुए कहा है कि यह वायरस नैसर्गिक नहीं है बल्कि लैब में तैयार किया हुआ है.

नई दिल्ली:

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने कोरोना वायरस को लेकर बड़ा बयान देते हुए कहा है कि यह वायरस नैसर्गिक नहीं है बल्कि लैब में तैयार किया हुआ है.गडकरी ने NDTV से बातचीत केे  दौरान कहा कि हम इस समय कोरोना वायरस के साथ 'आर्थिक लड़ाई' भी लड़ रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि भारत गरीब देश है, हम माह- दर-माह लॉकडाउन की अवधि नहीं बढ़ा सकते. हमें सुरक्षा उपायों के साथ बाजारों/चीजों को खोलना होगा.कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों को लेकर उन्‍होंने कहा कि अमेरिका, ब्रिटेन और इटली जैसे देशों की तुलना में भारत सुरक्षित स्थिति में नजर आ रहा है. यहां इन देशों की तुलना में कोरोना संक्रमण के काफी कम मामले सामने आए हैं.

हाईवे पर सार्वजनिक परिवहन की बहाली को लेकर केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि इस बारे में निर्णय केवल मेरे मंत्रालय के अधीन नहीं है. मैं इस मामले में सकारात्‍मक रुख अपनाए हुए हैं और इसे लेकर आशावान हूं. गृह मंत्रालय से भी आग्रह किया है कि समय आ गया है कि सैलून और नाई की दुकानों को शुरू किया जाए.कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में उन्‍होंने मॉस्‍क और सोशल डिस्‍टेंसिंग रखने का बेहद अहम बताया. गडकरी ने कहा कि उद्योग जगत की यह जिम्‍मेदारी है कि वह अपने यहां काम करने वाले श्रमिकों को खाने और आश्रय उपलब्‍ध कराए.उन्‍होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ इस जंग में सबसे बड़ी चुनौती पॉजिटिव बने रहने और आत्‍म‍विश्‍वास को बनाए रखने की है. हमें यह भरोसा केवल श्रमिकों नहीं बल्कि सभी पक्षों में जगाना होगा. डर के कारण प्रवासी मजदूर अपने घर लौट रहे हैं. जब हम माइक्रो, लघु और मध्‍यम उद्योगों को शुरू करेंगे तो वे वापस लौट आएंगे.इस दौरान उन्‍होंने पीएम की ओर से घोषित किए गए आर्थिक पैकेज में MSME को दी गई राहत और अन्‍य प्रावधानों को लेकर भी बातचीत की.


गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस के केसों की संख्‍या बढ़कर 75 हजार के करीब पहुंच गई है, इस वायरस के कारण 2415 लोगों को अब तक जान गंवानी पड़ी है. 24, 386 मरीज इलाज के बाद ठीक हुए है और देश में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्‍या 47480 है. महाराष्‍ट्र राज्‍य कोरोना वायरस के संक्रमण से सबसे ज्‍यादा प्रभावित है. महानगर मुंबई भी कोरोना वायरस की मार झेल रहा है. गुजरात, तमिलनाडु और देश की राजधानी दिल्‍ली में भी कोरोना के केसों की संख्‍या अच्‍छी खासी है.

VIDEO: Red Zone में कुछ इस तरह से आगे बढ़ रही है जिंदगी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com