पंचतत्व में विलीन हुए 'फ्लाइंग सिख', राजकीय सम्मान के साथ दी गई मिल्खा सिंह को अंतिम विदाई

पंचतत्व में विलीन हुए 'फ्लाइंग सिख', राजकीय सम्मान के साथ दी गई मिल्खा सिंह को अंतिम विदाई

पंचतत्व में विलीन हुए 'फ्लाइंग सिख', राजकीय सम्मान के साथ दी गई मिल्खा सिंह को अंतिम विदाई

चंडीगढ़:

स्वतंत्र भारत के सबसे बड़े खिलाड़ियों में से एक मिल्खा सिंह का अंतिम संस्कार आज पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया गया. उनका कोरोना संक्रमण से एक महीने तक जूझने के बाद कल देर रात निधन हो गया . पंजाब सरकार ने मिल्खा सिंह के निधन पर एक दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है . मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया ,‘‘ मैने निर्देश दिया है कि दिवंगत मिल्खा सिंह जी का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जायेगा .''उन्होंने लिखा ,‘‘इसके साथ ही इस महान खिलाड़ी के प्रति सम्मान स्वरूप पंजाब में एक दिन का राजकीय शोक रहेगा .''


इससे पहले उन्होंने ट्वीट किया था ,‘‘ मिल्खा सिंह जी के निधन से दुखी और स्तब्ध हूं . इससे भारत और पंजाब के लिये एक युग का अंत हो गया . उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदना . वह आने वाली पीढियों के लिये प्रेरणास्रोत रहेंगे .'' मिल्खा सिंह के परिवार के एक प्रवक्ता ने कहा था ,‘‘ अंतिम संस्कार शनिवार को शाम पांच बजे होगा .'' मिल्खा के परिवार में पुत्र गोल्फर जीव मिल्खा सिंह और तीन बेटियां हैं . हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि भारत ने एक महान खिलाड़ी को खो दिया . उन्होंने कहा ,‘‘ मिल्खा जी हमारे बीच नहीं रहे लेकिन वह देश का नाम रोशन करने के लिये हर भारतीय को प्रेरित करते रहेंगे . फ्लाइंग सिख हमेशा भारतीयों के दिल में रहेगा .''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पंजाब के राज्यपाल और चंडीगढ केंद्रशासित प्रदेश के प्रशासक वी पी सिंह बदनोर ने कहा ,‘‘ फ्लाइंग सिख पद्मश्री मिल्खा सिंह जी के निधन से दुखी हूं . भारत ने एक और अनमोल जिंदगी कोरोना के कारण गंवा दी . खेलों में उनके योगदान को हमेशा याद रखा जायेगा.''