DU ने किया विश्वविद्यालय विकास शुल्क में वृद्धि का फैसला, विद्यार्थियों को भरने होंगे इतने पैसे

मौजूदा समय में विश्वविद्यालय हर विद्यार्थी से सालाना केवल 600 रुपये का यूडीएफ ले रहा है. जिसे 900 रुपये प्रति वर्ष करने की बात कही गई है.

DU ने किया विश्वविद्यालय विकास शुल्क में वृद्धि का फैसला, विद्यार्थियों को भरने होंगे इतने पैसे

विश्वविद्यालय हर विद्यार्थी से सालाना 900 रुपये का यूडीएफ ले सकता है

नई दिल्ली:

दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) ने यूजीसी द्वारा पूंजीगत अनुदान में की गई कमी के चलते विद्यार्थियों से वसूले जाने वाले वार्षिक विश्वविद्यालय विकास शुल्क (University Development Fee) में वृद्धि करने का फैसला किया है. ये जानकारी आधिकारिक दस्तावेज से प्राप्त हुई है. शिक्षकों के एक वर्ग का कहना है कि इस कदम से विद्यार्थियों के शुल्क में भारी वृद्धि होगी. विश्वविद्यालय विकास शुल्क (यूडीएफ) विद्यार्थियों से वसूले जाने वाला शुल्क का हिस्सा है.

डीयू ने नई इमारतों के निर्माण और प्रयोगशालाओं में उपकरणों की खरीद जैसे कार्यों के लिए धन का आवंटन करने के लिए विश्वविद्यालय विकास शुल्क समिति का गठन किया था. समिति ने कहा,‘‘मौजूदा समय में विश्वविद्यालय हर विद्यार्थी से सालाना केवल 600 रुपये का यूडीएफ ले रहा है. जिसे वर्ष 2012-2013 के शैक्षणिक सत्र में लागू किया गया था. धन की जरूरत, सरकार के आत्म निर्भर होने के निर्देश और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) से मिलने वाले पूंजीगत अनुदान में कमी के साथ-साथ आईसीटी (सूचना एवं संचार) अनुकूल अवसंरचना की स्थापना की जरूरत को देखते हुए यूडीएफ को संशोधित करना चाहिए और इसे 900 रुपये प्रति वर्ष प्रति विद्यार्थी करना चाहिए.''

ये भी पढ़ें- उत्तराखंड और कश्मीर में भारी बर्फबारी, औली में बिछी बर्फ की चादर- देखें VIDEO

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


समिति की अनुशंसा को 17 दिसंबर को विश्वविद्यालय की कार्यकारी परिषद ने कुछ सदस्यों की आपत्ति के बावजूद स्वीकार कर लिया है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)