UGC NET और नेट जेआरएफ में क्या होता है अंतर, पास करने के लिए चाहिए कितने अंक, किसे मिलता है JRF

CSIR UGC NET Result 2023: यूजीसी नेट परीक्षा का परिणाम कल जारी किया जा सकता है. मास्टर डिग्री करने वाले ज्यादातर छात्र नेट परीक्षा देते हैं. लेकिन क्या आप यूजीसी नेट और नेट जेआरएफ का अंतर जानते हैं. किसे मिलते है जेआरएफ...

UGC NET और नेट जेआरएफ में क्या होता है अंतर, पास करने के लिए चाहिए कितने अंक, किसे मिलता है JRF

यूजीसी नेट और नेट जेआरएफ में क्या होता है अंतर

नई दिल्ली:

CSIR UGC NET Result 2023: पिछले दिनों एनटीए ने सीएसआईआर यूजीसी नेट का फाइनल आंसर-की जारी किया था, तब से नेट रिजल्ट की तारीखों को लेकर लगातार कयास लगाए जा रहे हैं. सीएसआईआर यूजीसी नेट परीक्षा का परिणाम कल या उसके एक दिन बाद जारी किया जा सकता है. यूजीसी के चेयरमैन एम जगदीश कुमार ने खुद यह बात बताई है. जगदीश कुमार ने एएनआई को बताया कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यूजीसी नेट 2023 परीक्षा परिणाम को 26 या 27 जुलाई को जारी कर सकता है. सीएसआईआर यूजीसी नेट के नतीजे उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट csirnet.nta.nic.in से चेक कर सकते हैं. मास्टर डिग्री करने वाले ज्यादातर छात्र नेट परीक्षा देते हैं. लेकिन बहुत सारे छात्रों को यूजीसी नेट और नेट जेआरएफ का अंतर पता नहीं होता है. तो आइये जानते हैं... 

गुजरात नीट यूजी काउसलिंग 2023 रजिस्ट्रेशन का आखिरी दिन, बिना देरी करें अप्लाई

यूजीसी नेट और नेट जेआरएफ

यूजीसी नेट (UGC NET) का फुल फॉर्म होता है यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट. वहीं जेआरएफ (JRF) का फुल फॉर्म जूनियर रिसर्च फेलोशिप होता है. यूजीसी नेट और नेट जेआरएफ के साल में दो बार यूजीसी नेट परीक्षा का आयोजन किया जाता है. जून और दिसंबर में होने वाली इस परीक्षा में लाखों छात्र-छात्राएं भाग लेते हैं. यह परीक्षा असिस्टेंट प्रोफेसर और जूनियर रिसर्च फेलोशिप हासिल करने के लिए होती है. 

Jamia Millia Islamia: अब जामिया में भी होगी मेडिकल की पढ़ाई, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी, कुलपति नजमा अख्तर ने की घोषणा

नंबरों का अंतर

नेट परीक्षा परिणाम से पहले आपको बता दें कि यूजीसी नेट और नेट जेआरएफ में मूलभूत अंतर परीक्षा में प्राप्त पर्सेंटेज से होता है. जेआरएफ के लिए नेट की तुलना में ज्यादा नंबरों की जरूरत होती है. सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को यूजीसी नेट परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए 40 प्रतिशत अंकों की जरूरत होती है. नेट जेआरएफ फर्स्ट पेपर को बस क्वालीफाई करना होता है. क्वालीफाई करने के लिए सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को न्यूनतम 40 प्रतिशत अंक लाने होते हैं. जेआरएफ लेटर ऑफ अवॉर्ड रिजल्ट घोषित होने के दो साल बाद तक वैलिड रहता है. पिछले साल 5,44,485 छात्रों ने यूजीसी नेट की परीक्षा दी थी, जिसमें 43,246 को असिस्टेंट प्रोफेसर और 8,955 उम्मीदवारों को जेआरएफ के लिए योग्य घोषित किया गया था. 

CBSE 12th Compartment Exam 2023 के खत्म होते ही रिजल्ट का बेसब्री से है इंतजार, तो जानिए किस तारीख तक जारी होंगे नतीजे 

जेआरएफ या पीएचडी में कौन बेहतर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

किसी कॉलेज या यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर, शोधकर्ता या साइंटिस्ट के रूप में काम करने के लिए डॉक्टरेट होना जरूरी है. वहीं जेआरएफ वे लोग करते हैं जो शोध के क्षेत्र में जाना चाहते हैं या फिर अपनी पढ़ाई को आगे बढ़ाना चाहते हैं. जेआरएफ करने वाले छात्रों को पढ़ाई के दौरान फेलोशिप राशि दी जाती है.