JEE Main Result 2021: 2 छात्रों के होंगे अगर एक जैसे स्कोर तो NTA ऐसे तय करेगा अंतिम पर्सेंटाइल

JEE Main 2021 Result: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE Main 2021) फरवरी सत्र का परिणाम आज जारी करेगी.

JEE Main Result 2021: 2 छात्रों के होंगे अगर एक जैसे स्कोर तो NTA ऐसे तय करेगा अंतिम पर्सेंटाइल

JEE Main 2021 Result: जेईई मेन फरवरी सत्र का रिजल्ट आज हो सकता है जारी.

नई दिल्ली:

JEE Main 2021 Result: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE Main 2021) फरवरी सत्र का परिणाम आज जारी करेगी. एनटीए ने कल रात ही फरवरी सत्र के लिए जेईई मेन 2021 परीक्षा की फाइनल आंसर की जारी की है. सभी शिफ्ट्स के लिए आंसर की अलग-अलग जारी की गई हैं. आमतौर पर आंसर की जारी होने के कुछ घंटों के बाद ही जेईई मेन का परिणाम घोषित किया जाता है. इसलिए उम्मीद की जा रही है कि जेईई मेन फरवरी सत्र का परिणाम आज किसी भी समय जारी हो सकता है. जेईई मेन 2021 का परिणाम घोषित होने के बाद आधिकारिक वेबसाइट jeemain.nta.nic.in पर उपलब्ध होगा. 

JEE Main February 2021 Result: अगर दो छात्रों के एक जैसे ही अंक होंगे तो क्या होगा?

जेईई मेन पेपर 1 में मैथेमेटिक्स, फिजिक्स और केमिस्ट्री विषय शामिल हैं. प्रत्येक सब्जेक्ट में मल्टीपल च्वॉइस क्वेश्चन और न्यूमेरिकल बेस्ड सवाल पूछे जाते हैं, जिसमें प्रत्येक मल्टीपल च्वॉइस क्वेश्चन 4 अंक के लिए होता है. प्रत्येक गलत MCQ जवाब के लिए एक अंक काट दिया जाता है.  

अगर दो या दो से अधिक छात्र JEE Main परीक्षा में एक समान स्कोर हासिल करते हैं, तो ऐसे में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी एक टाई-ब्रेकिंग मेथोडोलॉजी फॉलो करेगी.

1. टेस्ट में मैथेमेटिक्स में उच्चतर प्रतिशत प्राप्त करने वाले उम्मीदवार
2. टेस्ट में फिजिक्स में उच्चतर प्रतिशत प्राप्त करने वाले उम्मीदवार
3. टेस्ट में केमिस्ट्री में उच्चतर प्रतिशत प्राप्त करने वाले उम्मीदवार
4. उम्र में बड़े उम्मीदवारों को प्राथमिकता दी जाएगी.


पर्सेंटाइल स्कोर = ( 100 X रैंकिंग में किसी कैंडिडेट के नीचे आए लोगों की संख्या / सत्र में उपस्थित होने वाले उम्मीदवारों की कुल संख्या)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस बार 6.6 लाख छात्रों ने बीटेक के पेपर के लिए पंजीकरण किया था, जिसमें से 95% छात्र परीक्षा में उपस्थित हुए थे. एनटीए ने हाल ही में घोषणा की है कि वे आगामी सत्रों की परीक्षा के लिए तीन और परीक्षा केंद्रों को जोड़ेगा, जिसमें एक भारत में होगा और दो विदेश में होंगे.