Delhi University : दिल्ली विश्वविद्यालय ने ऑफलाइन परीक्षा के पहले दिन दर्ज की 98.3 प्रतिशत उपस्थिति 

Delhi University Updates: दिल्ली विश्वविद्यालय ( Delhi University) ने ऑफलाइन परीक्षा (Offline Exam) के पहले दिन 98.3 प्रतिशत उपस्थिति दर्ज की है. डीयू में दो साल के लंबे अंतराल के बाद फिजिकल मोड (physical mode) में परीक्षाएं शुरू हो गई हैं.

Delhi University : दिल्ली विश्वविद्यालय ने ऑफलाइन परीक्षा के पहले दिन दर्ज की 98.3 प्रतिशत उपस्थिति 

Delhi University Updates: डीयू में ऑफलाइन परीक्षा के पहले दिन 98.3 प्रतिशत छात्र पहुंचें 

नई दिल्ली:

Delhi University Updates: दिल्ली विश्वविद्यालय ( Delhi University) में दो साल के लंबे अंतराल के बाद फिजिकल मोड (physical mode) में परीक्षाएं शुरू हो गई हैं. डीयू ने ऑफलाइन परीक्षा (Offline Exam) के पहले दिन 98.3 प्रतिशत उपस्थिति दर्ज की है. बता दें कि कोविड-19 महामारी (COVID-19) के कारण दो साल बाद विश्वविद्यालय में दूसरे और तीसरे वर्ष के स्नातक छात्रों के लिए ऑफ़लाइन परीक्षा बुधवार से शुरू हो गई हैं. दो सत्रों में आयोजित किए गए इस परीक्षा में कुल 67,948 छात्रों ने भाग लिया.

ये भी पढ़ें ः Delhi University: डीयू की सेकंड और थर्ड ईयर अंडर ग्रेजुएट छात्रों की ऑफलाइन परीक्षा शुरू

अनारक्षित सीटों पर CUET स्कोर का उपयोग कर प्रवेश दें सेंट स्टीफंस कॉलेज को डीयू की सलाह

Delhi University: दिल्ली विश्वविद्यालय में कम्पार्टमेंट की ‘ऑफलाइन' परीक्षाएं शुरू

विश्वविद्यालय के परीक्षा डीन डी एस रावत ने बताया कि सुबह के सत्र में 44,311 पंजीकृत छात्रों में से 97.5 प्रतिशत परीक्षा में शामिल हुए और 1,124 पंजीकृत छात्र परीक्षा में शामिल नहीं हुए. शाम के सत्र में 99.8 प्रतिशत छात्र उपस्थित हुए हैं. रावत ने कहा कि 23,684 पंजीकृत छात्रों में से 23,637 छात्र शाम के सत्र के दौरान परीक्षा में शामिल हुए. उन्होंने कहा कि पहले दिन की संख्या "प्रभावशाली" थी.

उन्होंने कहा, "मैं कहूंगा कि यह पिछले वर्षों की तुलना में बेहतर है. यह परीक्षा के शारीरिक मोड के खिलाफ छात्रों के बीच जड़ता के बावजूद आया है. इसके कुछ विरोध भी हुए," रावत ने यह भी कहा कि जो छात्र कोविड-19 के कारण परीक्षा से चूक गए हैं या क्वारंटाइन थे उन्हें अगस्त में एक और मौका दिया जाएगा.'' 

चूंकि छात्र दो साल बाद ऑफलाइन परीक्षा दे रहे हैं, इसलिए विश्वविद्यालय ने परीक्षा के लिए अतिरिक्त 30 मिनट का समय देकर उन्हें राहत दी है. रावत ने कहा, "स्नातक, स्नातकोत्तर, पेशेवर कार्यक्रमों की परीक्षा की अवधि तीन घंटे है और अतिरिक्त 30 मिनट एक विशेष उपाय के रूप में प्रदान किए जा रहे हैं."

ऑफलाइन परीक्षा से पहले, दूसरे और तीसरे वर्ष के छात्रों ने ओपन बुक परीक्षा की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया. कई छात्रों ने दिल्ली उच्च न्यायालय में एक याचिका भी दायर की जिसमें कोविड-19 महामारी के मद्देनजर ओपन-बुक मोड में परीक्षा देने की मांग की गई थी. अदालत ने इस महीने की शुरुआत में भौतिक मोड में परीक्षा आयोजित करने के विश्वविद्यालय के फैसले में हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com