वजन कम करने की कोशिश में लोग कर बैठते हैं कुछ गलतियां, ये रहे Weight loss mistakes

How to loose weight : वजन कम करने के उत्साह में लोग कम कैलोरी वाले खाद्य पदार्थ को अपनाते हैं. इससे आपका वजन कम तो हो जाता है लेकिन निश्चित रूप से परिणाम लंबे समय तक टिकाऊ नहीं होंगे.

वजन कम करने की कोशिश में लोग कर बैठते हैं कुछ गलतियां, ये रहे Weight loss mistakes

Weight loss के लिए फैट फ्री डाइट लेना सबसे आम गलतियों में से एक है.

खास बातें

  • ग्लूटेन फ्री डाइट से वजन कम करना है गलती.
  • फैट फ्री डाइट भी है वेट लॉस मिस्टेक.
  • बहुत देर तक भूखे रहना आपकी पाचन क्रिया करती है प्रभावित.

Weight loss mistakes : वजन कम करना एक बात है लेकिन स्वस्थ तरीके से इंच कम करना पूरी तरह से एक अलग प्रक्रिया है. कई बार तेजी से वजन कम करने के उत्साह में लोग कम कैलोरी वाले खाद्य पदार्थ को अपनाते हैं. इससे आपका वजन कम तो हो जाता है लेकिन निश्चित रूप से परिणाम लंबे समय तक टिकाऊ नहीं होंगे. मोटापा (obesity) कम करने के लिए आपको अपने जीवशैली में बदलाव लाने की जरूरत होती है.  महत्वपूर्ण रूप से, कुछ चीजें हैं जिनसे आपको बचना चाहिए यदि आप वजन घटाने के लिए तैयार हैं.

वजन घटाने में की जाने वाली गलतियां  | Mistakes during weight loss

फैट फ्री डाइट

वजन कम करने के लिए लोग फैट फ्री डाइट लेना पसंद करते हैं लेकिन दुख की बात है कि यह सबसे आम गलतियों में से एक है जो लोग वेट लॉस जर्नी में फॉलो करते हैं. आपको बता दें कि वसा कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन के साथ, उन मैक्रोन्यूट्रिएंट्स में गिना जाता है, जो हमारे शरीर को इसके समुचित कार्य के लिए आवश्यक होते हैं. इसके अलावा, हमारे शरीर को विटामिन ए, के, और डी सहित कई विटामिन और खनिजों को अवशोषित करने के लिए फैट की आवश्यकता होती है.

ग्लूटेन फ्री फूड

ग्लूटेन फ्री फूड सीलिएक रोग के लक्षणों को कम करने में मदद करता है, हालांकि इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है कि यह फूड वजन कम करने में मदद करता है. फिटनेस फ्रीक के बीच ग्लूटेन फ्री फूड का क्रेज देखकर फूड कंपनियों ने फायदा उठाते हुए बाजार में लुभाने के लिए ग्लूटने फ्री चॉकलेट, केक, स्नैक्स जैसे कई खाद्य पदार्थों की  श्रृंखला लॉन्च कर दी है. हालांकि ये फूड ग्लूटेन फ्री तो होते हैं लेकिन इनमें कृ्त्रिम चीनी और नमक की मात्रा बहुत ज्यादा होती है जो ग्लाइसेमिक इंडेक्स को शरीर में बढ़ा देता है जो ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाने का काम करता है.

भूखा रहना

आजकल फिटनेस फ्रीक लोग वजन कम करने के लिए इंटिमिटेंटे डाइट फॉलो करते हैं. जिसमें बहुत देर तक भूखा रहना पड़ता है. कुछ लोग तो उपवास का भी सहारा ले रहे हैं.  अत्यधिक देर तक भूखा रहना आपके पाचन तंत्र को प्रभावित करता है. यह आपके चयापचय को धीमा कर सकती है और शरीर के एनर्जी लेवल को भी कम करती है. इसका असर आपके काम काज पर विपरीत पड़ेता है. इस तरह की डाइट से आप शारीरिक और मानसिक रूप से प्रभावित होंगे.

संतुलित आहार की कमी

एक संतुलित आहार में मैक्रोन्यूट्रिएंट और सूक्ष्म पोषक तत्व दोनों शामिल होते हैं. मैक्रोन्यूट्रिएंट शरीर को ऊर्जावान बनाए रखने का कार्य करते हैं जबकि सूक्ष्म पोषक तत्व शरीर के स्वस्थ विकास और बीमारियों की रोकथाम के लिए आवश्यक हैं. याद रखें, वजन घटाने का कोई शॉर्टकट नहीं है और यदि आप जीवन भर स्वस्थ वजन बनाए रखना चाहते हैं, तो आप एक संतुलित आहार से दूर नहीं हो सकते.

एक्सपेक्टेशन ज्यादा रखना

कुछ लोग अपनी वेट लॉस जर्नी को लेकर बहुत ज्यादा महत्वाकांक्षी होते हैं. वो एक गोल सेट करते हैं जैसे एक सप्ताह में 10 प्रतिशत वजन कम करने का लक्ष्य आपकी सेहत पर विपरीत असर डाल सकता है. अध्ययनों में यह पाया गया है कि वजन घटाने के लक्ष्य से चूकने पर असंतोष पैदा हो सकता है. यदि आप 15 दिन  में 1-2 किलो वजन कम करने जैसे लक्ष्य निर्धारित करते हैं तो आपको अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद मिलेगी और आपको आने वाले समय में और भी अधिक प्रभावशाली परिणाम प्राप्त करने के लिए प्रेरित करेगा.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

माधुरी और करण जौहर ने झलक दिखला जा के सेट पर बिखेरी चमक

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com