विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Aug 17, 2022

Tulsi plant : इन बीमारियों में तुलसी का पत्ता होता है बहुत फायदेमंद, यहां जानिए उनके बारे में

Basil benefits तुलसी ना सिर्फ सर्दी जुकाम में बल्कि कई और बीमारियों में भी अच्छी साबित होती है. तो चलिए जानते हैं किन-किन तरीकों से तुलसी का इस्तेमाल कर सकते हैं.

Tulsi plant : इन बीमारियों में तुलसी का पत्ता होता है बहुत फायदेमंद, यहां जानिए उनके बारे में
Tulsi की पत्तियां कान के दर्द और इसका रस रतौंधी में फायदेमंद होता है.

Tulsi plant leaves : तुलसी का पौधा हर घर में आपको मिल जाएगा. यह ना सिर्फ पूजा पाठ में काम आता है बल्कि कई बीमारियों में भी इसका औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है. सर्दी, खांसी और जुकाम में तो इसका काढ़ा पीना आम बात है. कुछ लोग बिना दवा के ही इससे छुटकारा पा जाते हैं. सिर्फ तुलसी और काली मिर्च का काढ़ा पीकर. आपको बता दें कि यह ना सिर्फ सर्दी जुकाम (cold and cough) में बल्कि कई और बीमारियों में भी अच्छा साबित होता है. तो चलिए जानते हैं किन-किन तरीकों से तुलसी का इस्तेमाल कर सकते हैं.

तुलसी के पत्तों के फायदे | benefits of basil leaves

-तुलसी की पत्तियां बुखार, दिल से जुड़ी बीमारियां, पेट दर्द, मलेरिया और बैक्टीरियल संक्रमण आदि में बहुत फायदेमंद हैं. तुलसी के औषधीय गुणों में राम तुलसी की तुलना में श्याम तुलसी ज्यादा लाभकारी होती है.

cold cough

-तुलसी की पत्ती भूख बढ़ाने का काम करती है. कफ वात दोष को कम करने, पाचन शक्ति एवं भूख बढ़ाने और रक्त को शुद्ध करने वाले गुण हैं. इससे दिमाग की कार्यक्षमता भी बढ़ती है. इससे याददाश्त तेज होती है. बस रोज सुबह में 4 से 5 पत्तियां पानी के साथ खा लें.

ra0eredg

- इसके सेवन से सिरदर्द में भी बहुत राहत मिलती है. इससे तनाव और अवसाद भी कम होता है. तुलसी का तेल बाल में पड़ गए जूँ और लीख से भी छुटकारा दिलाते हैं. इससे बाल की सेहत भी बहुत अच्छी होती है.

jle0je2

-अगर किसी को रतौंधी की समस्या है तो तुलसी का रस बहुत लाभकारी है. रोजाना 2 से 3 बूंद आंखों में डालने से राहत मिलती है इस बीमारी में. साइनसाइटिस रोग में तुलसी की पत्तियां बहुत फायदेमंद होती हैं. इनको मसलकर सूंघने से लाभ जल्दी मिलता है.

ear pain

- कान के दर्द और सूजन में भी तुलसी का रस बहुत असरदार होता है. अगर कान में दर्द है तो तुलसी पत्र का रस गरम करके 2-2 बूंद कान में डालें. अगर आपको कान के पिछले हिस्से में सूजन हो गई है तो इसके पत्तों को पीसकर और गुनगुना करके कान के पीछे रख दें. इससे दर्द से राहत मिलेगी.  

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

मॉनसून स्किन केयर टिप्स बता रही हैं ब्यूटी एक्सपर्ट भारती तनेजा

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
वजन करना है कम तो डाइट में शामिल करें ये 4 साउथ इंडियन फूड, कैलोरी में होते हैं कम
Tulsi plant : इन बीमारियों में तुलसी का पत्ता होता है बहुत फायदेमंद, यहां जानिए उनके बारे में
डॉक्टर ने बताया किस तरह छूटेगी बच्चे की पेसिफायर इस्तेमाल करने की आदत, कुछ आसान से टिप्स ही आएंगे काम 
Next Article
डॉक्टर ने बताया किस तरह छूटेगी बच्चे की पेसिफायर इस्तेमाल करने की आदत, कुछ आसान से टिप्स ही आएंगे काम 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;