विज्ञापन
Story ProgressBack

तेल, घी या मक्खन, सेहत के लिए क्या है अच्छा, डाइटीशियन ने बताया किसे बनाना चाहिए डाइट का हिस्सा 

खानपान में तेल, घी या मक्खन का इस्तेमाल सब्जी बनाने से लेकर पकवान तलने तक में होता है. लेकिन, इनमें से क्या ज्यादा फायदेमंद है या कहें ज्यादा सुरक्षित है जानिए डाइटीशियन से. 

Read Time: 3 mins
तेल, घी या मक्खन, सेहत के लिए क्या है अच्छा, डाइटीशियन ने बताया किसे बनाना चाहिए डाइट का हिस्सा 
डाइटीशियन ने बताया सेहत के लिए क्या खाना है फायदेमंद. 
नई दिल्ली:

सब्जी में छोंका लगाने के लिए, परांठे बनाने के लिए, पकवान तलने के लिए और दाल में तड़का देने के लिए भी तेल या घी का इस्तेमाल किया जाता है. वहीं, ऐसे भी बहुत से लोग हैं जो सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद समझते हुए मक्खन (Butter) का इस्तेमाल करते हैं. लेकिन, तेल, घी और मक्खन में से सेहत के लिए क्या ज्यादा अच्छा है और खाना बनाने के लिए किसका इस्तेमाल करना चाहिए यह बता रही हैं डाइटीशियन श्वेता जे पांचाल. श्वेता ने इस वीडियो को अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर किया है और बताया है कि घी, तेल (Oil) या मक्खन के क्या फायदे और नुकसान हैं जो सभी को पता होने जरूरी हैं. 

न्यूट्रिशनिस्ट ने बताई कब्ज की कुछ आम वजहें, कहीं आप भी तो नहीं करते यही गलतियां

श्वेता का कहना है कि तेल, घी और मक्खन में से कोई एक तो इस्तेमाल करना ही पड़ेगा लेकिन क्या ज्यादा हेल्दी है यह समझना जरूरी है. मक्खन की बात करें तो इसमें जरूरत से ज्यादा सोडियम होता है और हाई अनसैचुरेटेड फैट्स होते हैं. जब आप मक्खन या चीज जैसे फैटी फूड्स खाते हैं तो इससे शरीर में ट्राईग्लीसेराइड (Triglyceride) बढ़ते हैं. अगर आपकी रिपोर्ट्स में हाई ट्राईग्लीसेराइड हैं तो उसका एक कारण मक्खन का सेवन हो सकता है. ट्राईग्लीसेराइड की शरीर को जरूरत होती है क्योंकि इससे शरीर में एनर्जी आती है. लेकिन, अगर खाने के 8 घंटों में इसका यूटीलाइजेशन ना हो तो शरीर इसे फैट के रूप में स्टोर करने लगता है. ऐसे में हफ्ते में एक से 2 बार मक्खन का सेवन किया जा सकता है लेकिन इससे ज्यादा खाया जाए तो सेहत को नुकसान हो सकता है. 

तेलों की बात करें तो वेजीटेबल ऑयल्स में सनफ्लावर ऑयल्स, सोयाबीन और कैनोला ऑयल्स आते हैं. इनमें ट्रांस फैट्स होते हैं जो दिल की दिक्कतों का कारण बनते हैं. इन तेलों में ओमेगा-6 और ओमेगा-3 ज्यादा होते हैं जो शरीर में इंफ्लेमेशन को बढ़ाते हैं. 

घी (Ghee) का सेवन करने पर गट हेल्थ को मदद मिलती है, इंफ्लेमेशन को कम करता है और ब्लड शुगर कंट्रोल करने में मददगार है. इससे दिल की बीमारियां नहीं होती हैं और अगर इसे सही मात्रा में खाया जाए तो यह बुरे कॉलेस्ट्रोल को कम करने में असरदार है. अगर सीमित मात्रा में घी का सेवन किया जाए तो यह सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है. इसीलिए घी खानपान में शामिल करने के लिए बेस्ट चॉइस है. लेकिन, अगर आप पहले ही हाई फैटी फूड्स खा रहे हैं तो घी का सेवन कम करना चाहिए. 

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Nutritionist के बताए 10 आसान Tips से कभी नहीं बढ़ेगा घटाया हुआ वजन

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
लीची जैसा दिखने वाला यह नया फल हो गया है तैयार, स्वाद में है बेहद मीठा, कैंसर जैसी बीमारी में माना गया है बेहद गुणकारी
तेल, घी या मक्खन, सेहत के लिए क्या है अच्छा, डाइटीशियन ने बताया किसे बनाना चाहिए डाइट का हिस्सा 
बच्चों को घमौरियों से बचाना चाहते हैं तो इन नुस्खों को जान लीजिए आज भी, हाथ-पैर खुजाते नहीं रहेंगे बच्चे
Next Article
बच्चों को घमौरियों से बचाना चाहते हैं तो इन नुस्खों को जान लीजिए आज भी, हाथ-पैर खुजाते नहीं रहेंगे बच्चे
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;