Healthy Teeth Tips: हिलते हुए दांत और कमजोर मसूड़ों के लिए कारगर हैं ये घरेलू नुस्खे

दांतों का हिलना एक आम समस्‍या है, जो किसी भी उम्र में हो सकती है. अगर आप इसके इलाज के लिए डेंटिस्‍ट के पास नहीं जाना चाहते हैं तो दांत हिलने के घरेलू उपाय अपना सकते हैं.

Healthy Teeth Tips: हिलते हुए दांत और कमजोर मसूड़ों के लिए कारगर हैं ये घरेलू नुस्खे

Healthy Teeth Tips: दांतों की परेशानी के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय

नई दिल्ली:

दांत कमजोर होने पर अक्सर हिलने लग जाते हैं, दांतों के हिलने का मतलब है, वे कभी भी टूट सकते हैं. दांतों में इस तरह की परेशानी आपके दांतों के निचले ऊतकों के ढीला पड़ जाने के कारण होती है. इसके कारण मसूड़ों से खून आ जाना, मसूड़ों में सूजन आना, मसूड़ों अधिक लाल होना और मसूड़ों का नीचे खिसक जाने जैसी समस्या होती है. अक्सर ऐसी समस्या होने पर आप डेंटिस्ट से संपर्क करते हैं, लेकिन आज हम यहां आपको इस समस्या से निजात पाने के कुछ घरेलू नुस्खे बताने जा रहे हैं. 

आंवला पाउडर

आंवला दांतों के नीचे संयोजी ऊतकों को विकसित करने और सहारा देने में मदद कर सकता है. इससे ढीले पड़े ऊतक ठीक होने लगते हैं, जो दांतों को मजबूत बनाने का काम करते हैं. आप एक चम्मच आंवले का पाउडर लीजिए और एक कप गुनगुने पानी में उसे मिलाकर कुल्ला कर लीजिए. दिन में कम से कम एक बार जरूर इस नुस्खे को अपनाएं. इसे करने के करीब एक घंटे तक कुछ भी न खाएं, न ही पिएं.

नमक सरसों का तेल

सरसों के तेल और नमक में एंटी बैक्टीरियल तत्व पाए जाते हैं. नमक और तेल दोनों मिल कर मसूड़ों को मजबूत बनाते हैं, जिससे दांतों की कमजोरी दूर होती है. इस नुस्खे को आजमाने के लिए आपको एक चम्मच नमक लेना है और उसमें कुछ बूंदें या करीब आधी चम्मच सरसों का तेल मिला लेना है और इस पेस्ट को प्रभावित हिस्से पर उंगलियों की मदद से लगाना है. कुछ मिनट के मसाज के बाद हल्के गर्म पानी से कुल्ला कर लेना है. पहले-पहले हर रोज ऐसा करें फिर सप्ताह में तीन दिन इस नुस्खे को अपनाएं.

फिटकरी और सेंधा नमक

फिटकरी में एंटी बैक्टीरियल फैक्टर्स होते हैं. इसके उपयोग से दांतों का दर्द और सूजन झट से गायब हो जाता है. इसके लिए आपको पहले फिटकरी को भून लेना है अब इसमें सेंधा नमक मिलाकर पीस लें. इस पाउडर को प्रभावित हिस्से में लगाएं, करीब 5-7 मिनट तक मसूड़ों और दांतों पर मसाज करें फिर गुनगुने पानी से कुल्ला कर लें. इससे दांतों का दर्द और मसूड़ों की सूजन खत्म होगी. साथ ही ढीले पड़े मसूड़े ठीक होने लगेंगे. हर दिन सुबह इसे नुस्खे को अपनाएं, आप सप्ताह भर में असर देख पाएंगे. 

हल्दी और काली मिर्च

हल्दी में पाए जाने वाला करक्यूमिन एंटी-इंफ्लामेट्री, एंटीमाइक्रोबियल और एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरा होता है. काली मिर्च दर्द दूर करने के साथ ही, सूजन-रोधी और बैक्टीरिया-रोधी गुण वाली होती है. आधा छोटी चम्‍मच हल्‍दी पाउडर और उतनी ही काली मिर्च पाउडर लें. इन दोनों को अच्छे से मिक्‍स कर लें और इस मिश्रण से मसूड़ों की हल्की-हल्की मालिश करें. करीब दो मिनट मालिश करके के बाद कुल्ला कर लें. दांतों और मसूड़ों को स्ट्रांग बनाने के लिए आपको रोजाना इसका इस्तेमाल करना होगा.

लौंग का तेल

लौंग के तेल को रुई की मदद से प्रभावित हिस्से के मसूड़ों और दांतों पर लगाएं, इससे दर्द में भी आराम मिलेगा और दांत हिलने की परेशानी भी धीरे-धीरे दूर हो जाएगी. लौंग मसूड़ों और दांतों पर एंटीसेप्टिक का काम करती है. आप लौंग के चूर्ण में आधा छोटा चम्मच ऑलिव ऑयल मिलाकर भी इसे दांतों पर लगा सकते हैं, आराम मिलेगा.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Asanas for Lungs, Breathing Problem | 5 योगासन जो फेफड़े बनाएंगे मजबूत

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com